News Nation Logo
Banner

पीएम नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर राहुल गांधी को घेरा, बोले - ईमानदार चौकीदार चलेंगे या फिर भ्रष्टाचारी नामदार

लोकसभा चुनाव 2019: पहले चरण के मतदान के बाद शुक्रवार को पीएम मोदी ने महाराष्ट्र के अहमदनगर में चुनावी जनसभा को संबोधित किया. यहां उनके साथ महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस और तमाम भाजपा नेता मौजूद रहे.

News Nation Bureau | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 12 Apr 2019, 04:09:03 PM
महाराष्ट्र की जनसभा में पीएम मोदी। (ANI)

महाराष्ट्र की जनसभा में पीएम मोदी। (ANI)

नई दिल्ली:

पहले चरण के मतदान के बाद शुक्रवार को पीएम मोदी ने महाराष्ट्र के अहमदनगर में चुनावी जनसभा को संबोधित किया. यहां उनके साथ महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस और तमाम भाजपा नेता मौजूद रहे. दूसरे चरण का मतदान 18 अप्रैल को होगा. इसमें महाराष्ट्र की 10 सीटों पर मतदान होगा. यहां उन्होंने कहा कि बीते पांच वर्ष में जनभागीदार से चलने वाली एक मज़बूत, निर्णय लेने वाली सरकार, दुनिया ने भारत में देखी है. उससे पहले 10 वर्ष तक रिमोट वाली सरकार के दिनों में हर दिन घोटालों, घपलों की खबरें आती थीं. आज दुनिया भारत को महाशक्ति के रूप में देख रही है.

अब आपको तय करना है कि- ईमानदार चौकीदार चलेंगे या फिर भ्रष्टाचारी नामदार. हिन्दुस्तान के हीरो चलेंगे या पाकिस्तान के पैरवीकार. इस चौकीदार ने आतंक के सरपरस्तों में ये डर बिठाया है कि उनकी एक भी गलती, उन्हें भारी पड़ेगी. ये चौकीदार उन्हें पाताल से भी खोजकर निकाल लाएगा औऱ उन्हें सज़ा देगा. इस चौकीदार ने आतंक के सरपरस्तों में ये डर बिठाया है कि उनकी एक भी गलती, उन्हें भारी पड़ेगी.

यह भी पढ़ें- VIDEO: बाजारों में जल्द आएगा ये अनोखा कंडोम, पार्टनर की सहमति के बिना नहीं खुलेगा पैकेट

ये चौकीदार उन्हें पाताल से भी खोजकर निकाल लाएगा औऱ उन्हें सज़ा देगा. आज एक तरफ कांग्रेस, एनसीपी की महामिलावट के खोखले वादे हैं और दूसरी तरफ एनडीए के बुलंद इरादे हैं. कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि काग्रेंस-एनसीपी की सरकार में कभी मुंबई में बम धमाके, कभी पुणें में, कभी ट्रेन में, कई बसों में धमाके होते थे. लेकिन पिछले पांच साल में ये बम धमाके बंद हो गये हैं.

कांग्रेस और NCP ऐसे लोगों के साथ खड़ी है, जो कह रहे हैं कि जम्मू कश्मीर को भारत से अलग कर देंगे और जम्मू कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री होना चाहियें. मुझे कांग्रेस से कोई उम्मीद नहीं है क्योंकि ये सब उन्हीं कि पैदावार है. लेकिन शरद राव क्यों चुप है. मुझे ख़ुशी है की पूरा देश राष्ट्र रक्षा के लिए एक सुर में बात कर रहा है. यही विश्वास मेरी ताकत रहा है, जिसके बल पर मैं बड़े और कड़े फैंसले ले पाया हूं.

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश : मतदाता सूची ने जीवित किए मुर्दे, कई जगह जिंदा इंसान का नाम रहा नदारद

कांग्रेस जम्मू-कश्मीर से सेना को हटाने की बात कर रही है. कांग्रेस कह रही है कि सैनिकों को मिला विशेष अधिकार हटा देगी. जो इस बार पहली बार वोट देने जाने वाले हैं मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता आपको मंजूर हैं. आज स्वरोजगार के लिए करोड़ों युवा साथियों को बैंक से बिना गारंटी के लोन मिल रहा है तो उसके पीछे आपके वोट की ताकत है. गांव-गांव में सड़कें बन रही हैं, वर्षों से लटके रेलवे प्रोजेक्ट अगर आज पूरे हो रहे हैं तो इसके पीछे भी आपके वोट की ताकत है.

भाजपा घोषणापत्र का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा और NDA ने इस बार बड़े संकल्प लिए हैं. 23 मई के बाद एक बार फिर जब मोदी सरकार आएगी, तो पीएम किसान योजना का लाभ देश के सभी किसानों को मिलेगा. दिन रात मेहनत करने वाले छोटे किसानों को भी 60 साल की आयु के बाद पेंशन मिलेगी. एक तरफ हमारे संकल्प हैं, वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस और NCP के ढकोसले हैं.

यह भी पढ़ें- कांग्रेस प्रवक्‍ता प्रियंका चतुर्वेदी ने क्‍यों कहा- ''क्‍योंकि मंत्री भी कभी ग्रेजुएट थीं''

एक तरफ पानी के लिए महायुति सरकार के प्रयास हैं और दूसरी तरफ कांग्रेस सरकार के घोटाले और अजीत पवार के शर्मनाक बयान हैं. अपराधों की वजह से देश के लोगों ने कांग्रेस की नीयत को अच्छे से जान लिया है. इसलिए जनता ने ये नारे दिये हैं कि कांग्रेस हमेशा के लिए हटाओ, तभी गरीबी हटेगी. कांग्रेस हटाओ, तभी देश आगे बढ़ेगा. कांग्रेस हटाओ, देश में आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण होगा, कांग्रेस हटाओ, तभी सबका साथ-सबका विकास होगा.

यह भी पढ़ें- किम जोंग उन के साथ तीसरी बैठक हो सकती है संभव : डोनाल्ड ट्रंप

दिल्ली के तुगलक रोड में मिल रही नोटों की गड्डियों से भरी बोरियां कांग्रेस की असली पहचान है. इस चुनाव में भी कांग्रेस ने जिस तरह ‘तुगलक रोड चुनावी घोटाला’ किया है, वो देश देख रहा है, हमारे नौजवान वोटर देख रहे हैं. जो पैसा गरीब बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए मध्य प्रदेश सरकार को भेजा गया था, वो पैसा लूटकर कांग्रेस चुनाव में लगा रही है.

इतिहास साक्षी है कि भारत में स्वराज की परिकल्पना सबसे पहले छत्रपति शिवाजी महाराज ने की थी. मेरी आकांक्षा है कि स्वराज स्थापित करने के एनडीए के काम को आगे बढ़ाकर शिवाजी महाराज के सपने को पूरा करने के लिए मजबूती से जुट जाएं.

First Published : 12 Apr 2019, 12:45:06 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो