News Nation Logo

यूपी समेत दिल्ली ​हरियाणा के करोड़ों लोगों को होगा फायदा : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिमी यूपी को जेवर एयरपोर्ट की सौगात दी. उन्होंने जेवर एयरपोर्ट का शिलान्यास किया और जनसभा को संबोधित किया.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 25 Nov 2021, 03:31:09 PM
pm modi

पीएम मोदी ने बटन दबाकर किया शिलान्यास. (Photo Credit: twitter)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जेवर एयरपोर्ट का शिलान्यास किया. इसके विकास में कुल 8914 करोड़ रुपये की लगात लगने का अनुमान  बताया जा रहा है. प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने एक बयान में बताया कि जेवर हवाईअड्डा उत्तर प्रदेश का प्रवेश द्वार साबित होगा। हवाईअड्डे के विकास का ठेका ज्यूरिख एयरपोर्ट  इंटरनेशनल को दिया गया है. इसका परिचालन 2024 तक शुरू होने की उम्मीद है. हवाईअड्डे के विकास कार्य में कुल 29,560 करोड़ लागत आने का अनुमान है. यह एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा. जेवर में पीएम मोदी के साथ सीएम योगी और अन्य नेता मौजूद थे. इनमें केशव प्रसाद मौर्य, श्रीकांत शर्मा, चौ भूपेन्द्र सिंह, संजीव बालियान, एसपी सिंह बघेल, जनरल वीके सिंह, डॉ महेश शर्मा, सुरेन्द्र नागर, बीएल वर्मा, नंदगोपाल नंदी शामिल हुए. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि पहले की सरकारें सिर्फ घोषाणाएं करती थीं, लेकिन हम ऐसा नहीं करते हैं। पहले सरकारें लोगों को अंधेरे में रखने का काम करती थीं।

पीएम बोले- इन्फ्रास्ट्रक्चर हमारे लिए राजनीति नहीं, राष्ट्रनीति का हिस्सा है

पीएम मोदी ने कहा कि जिसे पहले की सरकारों ने झूठे सपने दिखाए, आज वही यूपी पूरे विश्व में अपनी छाप छोड़ रहा है. आज यूपी में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के मेडिकल संस्थान, रेलवे, हाईवे, एयर कनेक्टिविटी मिल रही है. ऐसे में आज देश और दुनिया के निवेशक कहते हैं यूपी यानी उत्तम सुविधा, निरंतर निवेश. यूपी की इसी अंतर्राष्ट्रीय पहचान को, नए आयाम मिल रहे हैं। 


उन्होंने कहा कि पहले पश्चिमी यूपी के विकास को नजरअंदाज किया, उसका एक उदाहरण ये जेवर एयरपोर्ट भी है. दो दशक पहले यूपी की भाजपा सरकार ने इस प्रोजेक्ट का सपना देखा था, लेकिन बाद में ये एयरपोर्ट अनेक सालों तक दिल्ली और लखनऊ में पहले जो सरकारें रहीं, उनकी खींचतान में उलझा रहा. यूपी में पहले जो सरकार थी, उसने तो बकायदा चिट्ठी लिखकर तब की केंद्र सरकार को कह दिया था कि इस एयरपोर्ट के प्रोजेक्ट को बंद करा जाए. अब डबल इंजन की सरकार के प्रयासों से आज हम उसी एयरपोर्ट के भूमिपूजन के साक्षी बन रहे हैं. 


उन्होंने कहा कि मैं एक बात और कहूंगा. मोदी-योगी भी चाहते तो 2017 में सरकार बनते ही यहां आकर भूमि पूजन कर देते, फोटो खींचवा देते, अखबार में प्रेस नोट भी छप जाती और अगर ऐसा हम करते तो पहले की सरकारों की आदत होने के कारण हम कुछ गलत कर रहे हैं, ऐसा भी नहीं लगता. पहले आनन-फानन में रेबड़ियों की तरह प्रोजेक्ट की घोषणाएं होती  थीं, लेकिन प्रोजेक्टस जमीन पर कैसे उतरेंगे, अड़चनों को दूर कैसे करेंगे, धन का प्रबंध कहां से करेंगे, इस पर विचार ही नहीं होता था. इस कारण से प्रोजेक्ट दशकों तक तैयार नहीं होते थे. घोषणा हो जाती थी. लेकिन हमने ऐसा नहीं किया इन्फ्रास्ट्रक्चर हमारे लिए राजनीति नहीं, राष्ट्रनीति का हिस्सा है. हम सुनिश्चित कर रहे हैं कि तय समय पर ही काम पूरा हो जाए. देरी होने पर हमने जुर्माने का प्रवधान किया है.

नए रोजगार के अवसर मिलेंगे: मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि हवाई अड्डे के निर्माण के दौरान कई लोगों को रोजगार प्राप्त होंगे. इसे सुचारू रूप से चलाने के लिए भी हजारों की जरूरत होती है. पश्चिमी यूपी के हजारों लोगों को नए रोजगार के अवसर मिलेंगे. राजधानी के पास होने के कारण पहले ऐसे क्षेत्रों को एयरपोर्ट से नहीं जोड़ा जाता था. ऐसा कहा जाता था कि दिल्ली में तो है ही, हमने इस सोच को बदला. आज देखिए हमने हिंडन एयरपोर्ट को यात्री सेवाओं के लिए चालू कर दिया. इसी प्रकार हरियाणा के हिसार में भी एयरपोर्ट पर तेजी से काम हो रहा है. जब एयर कनेक्टिविटी बढ़ती है तो टूरिज्म को भी बढ़ावा मिलता है. माता वैष्णो देवी की यात्रा हो या केदारनाथ यात्रा, वहां श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि आजादी के सात दशक बाद पहली बार उत्तर प्रदेश को वो सौगात मिलने वाली ​है, जिसका वो हमेशा से हकदार रहा है. डबलइंजन की सरकार के प्रयासों से आज यूपी देश के सबसे कनेक्टेड क्षेत्र में तब्दील हो रहा है. रैपिड रेल कॉरिडोर हो, एक्सप्रेस वे हो, मेट्रो कनेक्टिविटी पर काम तेजी से हो रहा है.

मोदी बोले- करोड़ों लोगों को मिलेगा लाभ

शिलान्यास के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों को संबोधित ​किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आज इस एयरपोर्ट के भूमिपूजन के साथ दाऊ जी मेले के लिए प्रसिद्ध जेवर भी अंतर्राष्ट्रीय मानचित्र पर अंकित हो गया है. इसका बहुत बड़ा लाभ दिल्ली एनसीआर और पश्चिमी यूपी के करोड़ों लोगों 
मिलने वाला है. उन्होंने कहा कि 21वीं सदी का नया भारत आज एक से बढ़कर एक बेहतरीन आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर का निर्माण कर रहा है. बेहतरीन सड़कें, रेल नेटवर्क, एयरपोर्ट, ये सिर्फ इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट ही नहीं होते, बल्कि ये पूरे क्षेत्र का कायाकल्प कर देने वाले हैं, लोगों के जीवन में बदलाव लाएंगे. हर किसी को इसका लाभ मिलता है. इसकी ताकत और बढ़ जाती है जब उनके साथ सीमलेस कनेक्टिविटी हो, लास्ट माइल कनेक्टिविटी हो. ये एयरपोर्ट कनेक्टिविटी की नजर से भी बेहतरीन मॉडल होगा. यहां आने जाने के लिए टैक्सी से लेकर मेट्रो और रेल तक हर कनेक्टिविटी होगी. एयरपोर्ट से निकलते ही आप सीधे यमुना एक्सप्रेस वे पर आ सकते हैं. 

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2014 के बाद भारत के नागरिकों ने भारत को बदलते हुए देखा है. केवल सामान्य दिनों में ही नहीं, वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के दौरान भी कैसे अपने एक-एक नागरिक की रक्षा करनी है, कैसे उसके जीवन और जीविका की रक्षा करते हुए सुरक्षा कवच देना है. उन्होंने कहा कि पश्चिमी यूपी के लिए ये अहम क्षण है. कभी यहां के किसानों ने यहां के गन्ने की मिठास को बढ़ाने का काम किया था, लेकिन कुछ लोगों ने यहां दंगों की श्रृंखला खड़ी थी. उन्होंने कहा कि उन सात हजार किसानों को आभार व्यक्त करता हूं, जिन्होंने बिना किसी विवाद के अपनी जमीन खुद आकर दी. 

नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि यूपी में यह दसवां एयरपोर्ट बनने वाला है। आने वाले समय में यहां 17 नए एयरपोर्ट बनाए जाएंगे. सिंधिया ने कहा कि सपना पूरा होने की चमक आज जेवर में दिख रही है और वो चमक इसलिए दिख रही है क्योंकि उस सपने को साकार करने का संकल्प पीएम मोदी ने लिया था, वो पूरा होने जा रहा है. इस हवाई अड्डे को बहुत पुराना इतिहास है. इस माटी पर 34 हजार करोड़ का निवेश आने वाला है.  

नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंच पर संबोधन दिया। 

जेवर पहुंचे पीएम मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी जेवर पहुंच चुके हैं. यहां वो एयरपोर्ट के लिए भूमि पूजन करने वाले हैं. इसके बाद जनसभा को भी संबोधित करेंगे. 

जेवर एयरपोर्ट की खासियत

पीएम नरेंद्र मोदी कुछ देर में एयरपोर्ट के भूमि पूजन के लिए पहुंचने वाले हैं. यह एशिया का सबसे बड़ा और दुनिया में चौथे नंबर का सबसे बड़ा हवाईअड्डा होगा। ये जीरो एमिशन एयरपोर्ट होगा यानी प्रदूषण से पूरी तरह मुक्त. लोकेशन के लिहाज से देखें तो जेवर एयरपोर्ट आगरा से 130 किलोमीटर और दिल्ली से महज 72 किलोमीटर की दूरी पर होगा. वहीं ग्रेटर नोएडा से 28 किलोमीटर और नोएडा से 40 किमी दूरी होगी. 

यूपी के उप सीएम केशव प्रसाद मौर्य बोले विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है 


औद्योगिक विकास के लिए गेमचेंजर साबित होगा जेवर एयरपोर्ट: योगी आदित्यनाथ 

जेवर एयरपोर्ट पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ   

First Published : 25 Nov 2021, 12:02:31 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.