News Nation Logo

BREAKING

इमरान खान के संदेश पर पीएम मोदी का जवाब- अच्छे रिश्ते संभव लेकिन...

इस पत्र में पीएम मोदी ने आतंक मुक्त क्षेत्रों की वकावल भी की. हालांकि दोनों देशों के बातचीत के प्रस्ताव पर उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया.

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 20 Jun 2019, 10:58:23 AM

highlights

  • पीएम मोदी ने दिया इमरान खान के बधाई संदेश का जवाब
  • आतंकमुक्त माहौल की वकालत की
  • बातचीत के प्रस्ताव पर नहीं दिया कोई जवाब

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बधाई संदेश का जावब दिया है. उन्होंने इमरान खान को पत्र भेजा है जिसमें इलाकों को आतंक मुक्त बनाने की बात की गई है. प्रधानमंत्री मोदी ने चिट्ठी में लिखा, 'भारत अपने पड़ोसियों के साथ अच्छे रिश्ते बनाना चाहता है,शांति,स्थिरता और विकास चाहता है'. इसी के साथ उन्होंने इस पत्र में आतंक मुक्त क्षेत्रों की वकावल भी की. हालांकि दोनों देशों के बातचीत के प्रस्ताव पर उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया.

यह भी पढ़ें: कंगाल पाकिस्तान को शर्तों के साथ कर्ज दे IMF, अमेरिका की कड़ी प्रतिक्रिया

पत्र में आतंक मुक्त माहौल की वकालत करते हुए पीएम मोदी ने कहा, भारत के लिए सबसे पहले जनता का विकास मायने रखता है. उन्होंने कहा, हम पड़ोसी देशों के साथ अच्छे रिश्ते बनाना चाहते हैं, लेकिन क्षेत्रों को आतंकमुक्त बनाना होगा.  बता दें पाकिस्तान लगातार भारत के सामने बातचीत का प्रस्ताव रख रहा है लेकिन भारत का रुख साफ है कि पहले पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई करनी होगी. जब तक पाकिस्तान ऐसा नहीं करता, बातचीत की कोई संभावना नहीं है.

यह भी पढ़ें: नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार की प्रदूषण पर 'सर्जिकल स्ट्राइक' की तैयारी, होगा बड़ा लाभ

इससे पहले भी पीएम मोदी ने शंघाई सहयोग संगठन को संबोधित करते हुए पाकिस्तान का नाम लिए बगैर आंतकवाद पर जोरदार हमला बोला था. इसके साथ ही उन्होंने एससीओ के सदस्य देशों से आतंकवाद को पोषिक-प्रोत्साहित करने वालों के खिलाफ एकजूट होने का आह्वान भी किया था.

यह भी पढ़ें: कंगना रनौत की बहन रंगोली का Viral Tweet कहा- 'सुनैना रोशन मुस्लिम लड़के से करती हैं प्यार इसलिए पीटता है रोशन परिवार'

शंघाई सहयोग संगठन बैठक के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'आतंकवाद को समर्थन, प्रोत्साहन और आर्थिक मदद देने वाले राष्ट्रों को जिम्मेदार ठहराना जरूरी है. एससीओ सदस्यों को आतंकवाद के सफाये के लिए एक साथ आकर काम करना चाहिए.' उन्होंने कहा कि आतंकवाद की फंडिंग पर रोक लगाने से लेकर हमें इसके खात्मे तक एक होकर काम करना होगा. पीएम मोदी ने 'आतंक मुक्त समाज' का नारा देते हुए कहा, 'मैं हाल ही में श्रीलंका गया था तो वहां भी आतंकवाद का खतरनाक रूप में देखने को मिला. इसे देखते हुए आतंक के खिलाफ भारत अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आह्वान करता है.'.

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 20 Jun 2019, 10:48:37 AM