News Nation Logo

पीएम मोदी ने लांच किया आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन, हर देशवासी की होगी हेल्थ ID

Ayushman Bharat Digital Mission: स्वास्थ्य के क्षेत्र में भारत द्वारा एक और अहम कदम बढ़ाया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन को लॉन्च किया.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 27 Sep 2021, 12:52:00 PM
PM Narendra Modi

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • देश के सभी नागरिकों की बनेगी एक हेल्थ आईडी
  • मरीज और डॉक्टर चेक कर सकेंगे हेल्थ रिकॉर्ड्स
  • अस्पताल, क्लीनिक और मेडिकल स्टोरी का होगा रजिस्ट्रेशन

नई दिल्ली:

Ayushman Bharat Digital Mission: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Mdoi) ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में देशवासियों को बड़ा तोहफा दिया है. पीएम मोदी ने सोमवार को आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन को लॉन्च किया. इस योजना के तहत देश के हर नागरिक की हेल्थ आईडी तैयार की जाएगी. पीएम मोदी ने इस क्रांतिकारी कदम बताते हुए कहा कि अब हर किसी को हेल्थ आईडी मिलेगी, इसकी मदद से मरीज और डॉक्टर अपने रिकॉर्ड्स चेक कर सकते हैं. इसमें डॉक्टर्स, नर्स समेत अन्य स्वास्थ्यकर्मियों का रजिस्ट्रेशन होगा, अस्पताल-क्लीनिक-मेडिकल स्टोर्स का रजिस्ट्रेशन होगा. 

पीएम मोदी ने कहा कि डिजिटल इंडिया अभियान ने देश के सामान्य नागरिक की ताकत बढ़ा दी है. हमारे देश के पास 130 करोड़ आधार नंबर, 118 करोड़ मोबाइल यूजर, 80 करोड़ इंटरनेट यूजर, 43 करोड़ जनधन बैंक खाते हैं, ऐसा दुनिया में कहीं नहीं है. पीएम मोदी ने कहा कि अभी तक लोगों को किसी दूसरी जगह इलाज के लिए जाने पर अपना पूरा मेडिकल इतिहास ले जाना पड़ता है, लेकिन जब ऐसी सुविधाएं डिजिटली होंगी तब लोगों के साथ-साथ डॉक्टर्स को भी मदद मिलेगी. 

यह भी पढ़ेंः राकेश टिकैत 10 साल तक आंदोलन को तैयार, कृषि मंत्री को बताया रट्टू

पीएम मोदी ने कहा कि देश के अलग-अलग हिस्सों में दौरे के दौरान वह आयुष्मान भारत के लाभार्थियों से मिलते रहते हैं. पीएम मोदी बोले कि पिछले तीन साल में सरकार ने लाखों-करोड़ों रुपये सिर्फ गरीब की चिंताएं दूर करने के लिए की हैं. सरकार की ओर से देश के वर्तमान और भविष्य में एक बड़ा निवेश किया जा रहा है.

ये फायदे होंगे
यूनिक हेल्थ कार्ड बन जाने के बाद मरीजों को कई तरह के फायदे होंगे. इसके जरिए डॉक्टर को दिखाने के लिए मरीज को फाइल ले जाने से छुटकारा मिल जाएगा. यूनिक हेल्थ आईडी देखकर डॉक्टर या अस्पताल पूरा डेटा निकाल सकेंगे. साथ ही इसके आधार आगे का इलाज किया जा सकेगा. बता दें कि प्रधानमंत्री ने 15 अगस्त, 2020 को लाल किले की प्राचीर से राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य अभियान की पायलट परियोजना का ऐलान किया था. मौजूदा समय में पीएम-डीएचएम छह केंद्र शासित प्रदेशों में प्रारंभिक चरण में लागू किया जा रहा है. पीएम-डीएचएम का राष्ट्रव्यापी शुभारंभ एनएचए की आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (एबी पीएम-जेएवाई) की तीसरी वर्षगांठ के साथ ही किया जा रहा है.

First Published : 27 Sep 2021, 12:04:42 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.