News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

कोरोना संकट पर PM मोदी ने कब-कब देश को किया संबोधित, जानिए सबकुछ 

कोरोना संकट में PM नरेंद्र मोदी ने बीते साल मार्च 2020 में पहली बार राष्ट्र को संबोधित किया था. वहीं बीते 3 माह में एक के बाद एक करके 6 बार संबोधन किया. बीते साल पीएम मोदी ने कुल 7 बार राष्ट्र के नाम संबोधन दिया था.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 26 Dec 2021, 08:26:57 AM
pm modi2

कोरोना संकट को लेकर पीएम मोदी ने कब-कब देश को किया संबोधित. (Photo Credit: twitter)

highlights

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते वर्ष मार्च में पहली बार राष्ट्र को संबोधित किया था
  • साल 2020 में पीएम मोदी ने कुल 7 बार राष्ट्र को संबोधित किया था
  • बीते तीन महीनों में उन्होंने करीब 6 बार संबोधन किया

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM narendra modi) एक बार फिर कोरोना संकट को लेकर देश से मुखातिब हुए. उन्होंने क्रिसमस के दिन अपने इस संबोधन में कोरोना गाइडलाइन का पालन करने का आह्वान किया. इसके साथ ही 15 साल से ऊपर के बच्चों को वैक्सीन देने और 60 वर्ष से ऊपर की आयु के जो कॉ-मॉरबिडिटी से पीड़ित हैं, उन्हें वैक्सीन की प्रीकॉशन डोज (Precaution Dose) लेने का ऐलान किया है. कोरोना संकट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते वर्ष मार्च में पहली बार राष्ट्र को संबोधित किया था. बीते तीन महीनों में उन्होंने करीब 6 बार संबोधन किया. साल 2020 में पीएम मोदी ने कुल 7 बार राष्ट्र को संबोधित किया था. 

बीते साल कोरोना संकट पर किया आह्वान 

19 मार्च 2020- देश में कोरोना संकट की शुरुआत हो गई थी. पहला मामला केरल में 30 जनवरी को आया था. मामले लगातार बढ़ते जा रहे थे. महामारी को बढ़ने से रोकने को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने 19 मार्च को राष्ट्र के नाम अपना पहला संबोधन दिया था और 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगाने की अपील की.

24 मार्च 2020- पीएम मोदी ने कोरोना संकट के शुरुआती दिनों में अपने पहले संबोधन के 5 दिन बाद एक और संबोधन दिया. कोरोना के मामले बढ़ने के कारण 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान कर दिया.

ये भी पढ़ें: Omicron मामूली लक्षणों के साथ देश में बढ़ेगा, वैक्सीन करेगी मददः कोएत्जी

3 अप्रैल 2020- पीएम मोदी ने अपने तीसरे राष्ट्र के नाम संबो​धन में मेडिकल स्टाफ  के उत्साहवर्धन को लेकर 9 मिनट के लिए हर जगह लाइट बंद कर दीये या मोमबत्ती जलाने का आह्वान किया था.

14 अप्रैल 2020- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने चौथे संबोधन में तीन मई तक  लॉकडाउन बढ़ाने की अपील की है. 

12 मई 2020- कोरोना संकट और लॉकडाउन से घिरे देश के आम की स्थिति को सुधारने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने आत्मनिर्भर भारत अभियान को लेकर 20 लाख  करोड़ के पैकेज का ऐलान किया.

30 जून 2020- प्रधानमंत्री मोदी ने मुफ्त राशन योजना नवंबर तक बढ़ाने का ऐलान किया.

चार माह बाद राष्ट्र के नाम संबोधन

20 अक्टूबर 2020- कोरोना के मामलों को बढ़ता देख पीएम मोदी ने फिर राष्ट्र के नाम संबोधन किया. इस दौरान उन्होंने नारा दिया जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं. लोगों से अपील की वह कोरोना गाइडलाइन का पालन करें.

20 अप्रैल 2021- वर्ष 2021 में पीएम मोदी ने अपना पहला संबोधन अप्रैल में दिया. इस दौरान दूसरी लहर ने देश को अपनी चपेट में ले रखा था. हर तरफ लोग बेहद परेशान था. इस दौरान पीएम ने कोरोना वायरस की दूसरी लहर से लड़ने की जरूरत पर जोर दिया था. उन्होंने देशव्यापी लॉकडाउन लगाने से इनकार किया. 

7 जून 2021- पीएम मोदी की ओर से नई वैक्सीन नीति बनाने का ऐलान किया गया.  केंद्र सरकार ने वैक्सीनेशन का जिम्मा खुद लिया. पूरे देश को फ्री वैक्सीन देने की घोषणा की.

कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर संबो​धन दिया

22 अक्टूबर 2021- कोरोना महामारी को मात देने के लिए शुरू किए गए वैक्सीनेशन अभियान लगातार आगे बढ़ता रहा. देश में ऐतिहासिक सौ करोड़ वैक्सीन के डोज लगने पर देश को बधाई दी. 

19 नवंबर 2021- कोरोना संकट के मामलों में कमी आने के बाद पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन दिया. इसके साथ कोरोना से इतर मुद्दों पर चर्चा की. कृषि कानूनों का जिक्र किया. तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने का ऐलान कर दिया.

25 दिसंबर 2021 – पीएम मोदी ने क्रिसमस के दिन राष्ट्र को फिर से संबोधित किया. इस बार अपने संबोधन में ओमिक्रॉन वेरिएंट को लेकर बात की. पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा कि 15 वर्ष से 18 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए देश में तीन जनवरी से वैक्सीनेशन शुरू होगा. उन्होंने 10 जनवरी से 60 वर्ष से ज्यादा उम्र वाले नागरिकों के लिए प्रीकॉशन डोज दिए जाने की घोषणा की.

First Published : 26 Dec 2021, 07:57:14 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो