News Nation Logo

PM Modi Interview : मोदी बोले- परिवारवाद लोकतंत्र के लिए खतरा

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 09 Feb 2022, 09:07:39 PM
PM Modi

पीएम नरेंद्र मोदी (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:  

PM Narendra Modi interview : देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव (Assembly Election 2022) का बिगुल बज चुका है. राजनीतिक दलों के वरिष्ठ नेता जनता को रिझाने में जुटे हुए हैं. उत्तर प्रदेश के 11 जिलों की 58 विधानसभा सीटों पर 10 जनवरी को मतदान होगा. इसे लेकर चुनाव आयोग ने सारी तैयारी पूरी कर ली है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने Exclusive इंटरव्यू में कहा कि चुनाव घोषित होने के बाद मैं किसी राज्य का दौरा नहीं कर सका. मैं चुनाव आयोग के नियमों का पालन करता हूं. हमने 'दो लड़कों' का खेल पहले भी देखा था. उनमें इतना अहंकार था कि उन्होंने 'गुजरात के दो गधे' ये शब्द का प्रयोग किया था. यूपी की जनता ने उनको हिसाब दे दिया. दूसरी बार उनके साथ 'दो लड़के' और एक 'बुआ जी' थे. फिर भी, यह उनके लिए कारगर नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि बीजेपी को जहां भी स्थिरता के साथ काम करने का मौका दिया गया है, वहां आपको सत्ता विरोधी नहीं बल्कि सत्ता समर्थक माहौल मिलेगा. बीजेपी हमेशा प्रो-इनकंबेंसी के साथ चुनाव में उतरती है.

पीएम मोदी ने कहा कि BJP हमेशा लोगों की सेवा में लगी रहती है. जब हम सत्ता में होते हैं तो हम 'सबका साथ, सबका विकास' के मंत्र के साथ काम करते हैं. मैं सभी राज्यों में भाजपा के लिए लहर देख सकता हूं. बीजेपी भारी बहुमत से जीतेगी और 5 राज्यों के लोग हमें उनकी सेवा करने का मौका देंगे. जिन राज्यों में हमें सेवा करने का मौका मिला है उन्होंने हमें देखा है और परखा है. 

पीएम मोदी ने कहा कि पहले की सरकारें सिर्फ फाइलों में हस्ताक्षर करती थीं और अपने मनमर्जी के लोगों के काम करती थीं. चुनावों के मद्देनजर योजनाओं की घोषणा होती थीं. जब लोगों को काम नजर नहीं आता है तब एंटी-इनकंबेंसी की लहर शुरू हो जाती है. जहां भी हमें काम करने का मौका मिला है वहां प्रो-इनकंबेंसी होती है. उन्होंने कहा कि यूपी ने 2014, 2017, 2019 में स्वीकार किया और काम देखकर 2022 में भी स्वीकार करेगा.

प्रधानमंत्री ने कहा कि बीजेपी सामूहिकता पर विश्वास करती है. चुनाव में हार-हारकर हमने जीत देखी है. हमने जय और पराजय दोनों देखा है. हम जमीनी स्तर से जुड़ने की कोशिश करते हैं. अगर हम चुनाव जीतते हैं तो लोगों का दिल जीतने में कमी नहीं करते हैं. हम प्रयास करते हैं कि जीत हमारी सिर पर न चढ़ जाए, इसलिए हम जमीन पर ही रहते हैं. हमारे लिए चुनाव ओपन यूनिवर्सिटी है. हम चुनाव को एजुकेशन का फील्ड मानते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि चुनाव हमारी नीतियों और नीयत की है. हमने जमानतें जब्त होते देखी हैं. जनता से जुड़ना ही हमारा लक्ष्य है. 

पीएम मोदी ने कहा कि सीएम योगी ने योजनाओं को सही तरीके से लागू किया है. जब लोग यूपी की सुरक्षा के विषय में चर्चा करते हैं तब वे पिछली सरकारों में गुंडा राज के बारे में भी सोचते हैं. एक समय था जब गुंडे जो चाहे कर सकते थे, लेकिन आज सभी गुंडे सरेंडर कर रहे हैं. आज अंधेरे के बाद भी बेटियां घरों से बाहर निकलती हैं. विपक्ष भी सीएम योगी के तरीके से हैरान हैं. 

पीएम मोदी ने कहा कि सीएम योगी न्यायिक प्रक्रिया के अनुसार ही काम करते हैं. राज्य सरकार पारदर्शिता से कार्य करती है. परिवार में भी मां-बाप सभी भाइयों-बहनें को कहते हैं कि सबको मिलकर एक दिशा में कार्य करना चाहिए. इसी तरह अगर हम एक-दूसरे के विपरित कार्य करेंगे तो संसाधन का नुकसान होता है, इसलिए डबल इंजन की सरकार जरूरी है. 

पीएम मोदी ने कहा कि डबल इंजन की सरकार से गरीबों को सबसे ज्यादा लाभ होगा. पहले कई तरह के टैक्स लगते थे, लेकिन अब जीएसटी की वजह से निवेशकों की दिक्कतें कम हुईं. डबल इंजन की सरकार से हमारी ताकत बढ़ जाती है और हमारे मेहनत वेस्ट नहीं होते हैं. मैं सभी को साथ ले चलने का प्रयास करता हूं. हम विविधता में एकता के दर्शन करते हैं. कुछ नेता स्वार्थ की वजह से विरोध करते हैं. हमारे देश में सर्वांगीण विकास होना चाहिए. एक राज्य को छोड़कर सभी राज्य हमारे साथ कंधा से कंधा मिलाकर काम कर रहे हैं. एक राज्य का साथ न चलना दुर्भाग्यपूर्ण है

उन्होंने कहा कि कुछ सरकारों को आयुष्मान भारत योजना से दिक्कत है. समाज के छोटे तबके का विकास होना चाहिए. 2 राज्यों को वन नेशन, वन राशन से दिक्कत है. भारत में दुनिया भर के मेहमान आते हैं तो पहले उनका दिल्ली में ही आना और जाना होता था. मैं चीन के राष्ट्रपति को तमिलनाडु, फ्रांस के राष्ट्रपति को उ.प्र. और जर्मन चांसलर को कर्नाटक ले गया. देश की शक्ति को उभारना, हर राज्य को प्रोत्साहन देना हमारा काम है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि विश्व में भारत ने एक अच्छी पहचान बनाई है. भाजपा का मंत्र है सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास. बीजेपी ने कभी भी अपने सिद्धांत को नहीं बदला है. जातियां, ऊंच-नीच समाज के सभी समुदाय में हैं. सरकार को समाज के हर वर्ग की चिंता है. सरकार काम है कि गरीबों के लिए भोजन, घर, शौचालय, इलाज, सड़क, कृषि को बढ़ाने की व्यवस्था करना है. 

उन्होंने कहा कि आज समाजवाद पूरी तरह से परिवारवाद है. समाजवाद का मतलब परिवारवाद नहीं है. एक परिवार से 45 लोग सियासी पद पर थे. सरकार की नीतियां अवसर वाली हों. बिहार-झारखंड, पंजाब, हरियाणा और यूपी में परिवारवादी पार्टियां हैं. परिवारवाद लोकतंत्र के लिए खतरा है. परिवारवाद पार्टियां टैलेंट को रोकती हैं. बेटा जैसा भी होगा, वही अध्यक्ष बनेगा. परिवारवादी पार्टियां लोकतंत्र का सबसे बड़ा दुश्मन है. जब परिवार ही सर्वोपरि होता है, परिवार को बचाओ पार्टी बचे न बचे, देश बचे न बचे. ये जब होता है तो सबसे बड़ा नुकसान प्रतिभा को होता है. सार्वजनिक जीवन में जितनी अधिक प्रतिभा आए वो जरूरी है. लोहिया को तो परिवार नजर नहीं आया. भाई-भतीजावाद से देश को नुकसान होता है. 

प्रधानमंत्री ने कहा कि हिंदुस्तान को भ्रष्टाचार एक दीमक की तरह खा कर रहा है. अगर रेड से कुछ पैसे पकड़े जा रहे हैं तो उससे सरकार का खजाना भरता है. इसके लिए तो मेरी प्रशांसा होनी चाहिए. मैं हमेशा किसानों का दिल जीतने का प्रयास किया है. हमने पूरे हिंदुस्तान का दिल जीता है. पहले भी कहा था कि हमने देश के हित में कृषि कानून वापस लिया था. अब आगे पता चलेगा कि कृषि कानून क्यों जरूरी है. हम जनता से लगातार संवाद करते हैं. मैं सभी के सुझावों के अनुसार चलना चाहता हूं. लोकतंत्र में संवाद चलते रहना चाहिए

प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार पहले से लॉकडाउन लगाना शुरू कर दी थी. बाद में भारत सरकार को पूरे देश में लॉकडाउन लगाना पड़ा. उस समय में लोगों में विपक्ष ने भय पैदा किया. कांग्रेस ने लॉकडाउन के समय फ्री टिकट लोगों को बहकाया था. कोरोना को लेकर जागरूक रहना होगा. योगी ने श्रमिकों के लिए हजारों बसें भेजी थीं. पीएम मोदी ने कहा कि पंजाब में एक बार फिर शांति का माहौल बने और खूब-खराबे से बाहर निकले. हम पंजाब को शांति चाहते हैं.  पंजाब को संकट से बाहर निकालना है. पंजाब में बीजेपी के साथ कैप्टन अमरिंदर सिंह और ढींढसा साथ आए हैं. हम पंजाब की स्थिरता पर काम कर रहे हैं. पंजाब के किसानों को फायदा मिल रहा है.

उन्होंने कहा कि मैंने पंजाब के लोगों की वीरता देखी है. मैं संसद में हमला नहीं करता हूं, बल्कि संवाद करता हूं. जो संसद में सुनते ही नहीं या बैठते ही नहीं, वो क्या जवाब देंगे. 

 

 

 

 

 

First Published : 09 Feb 2022, 07:48:33 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.