News Nation Logo

पीएम मोदी ने कहा- याद रखिए जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज शाम 6 बजे देश को संबोधित किया. उन्होंने त्योहार के सीजन में लोगों को लापरवाही नहीं करने की सलाह दी है. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन भले ही चला गया है, लेकिन वायरस नहीं गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 20 Oct 2020, 06:18:03 PM
narendra modi

पीएम नरेंद्र मोदी (Photo Credit: सौजन्य: डीडी )

नई दिल्ली :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज शाम 6 बजे देश को संबोधित किया. उन्होंने त्योहार के सीजन में लोगों को लापरवाही नहीं करने की सलाह दी है. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन भले ही चला गया है, लेकिन वायरस नहीं गया है. अगर आप जरा सा भी लापवाही बरतते हैं तो अपने और अपने परिवार को खतरे में डाल रहे हैं. 

बता दें कि कोरोना काल में पीएम मोदी अब तक छह बार देश को संबोधित कर चुके हैं. पीएम मोदी ने सातवीं बार लोगों को संबोधित करते हुए कोरोना से बचने की सलाह दी. 

LIVE TV NN

NS

NS

उन्होंने कहा कि दो गज की दूरी,  समय-समय पर साबुन से हाथ धुलना  और  मास्क का ध्यान रखिए. 

पीएम मोदी ने कहा कि एक कठिन समय से निकलकर हम आगे बढ़ रहे हैं,  थोड़ी सी लापरवाही हमारी गति को रोक सकती है,  हमारी खुशियों को धूमिल कर सकती है. जीवन की ज़िम्मेदारियों को निभाना  और सतर्कता ये दोनो साथ साथ  चलेंगे तभी जीवन में ख़ुशियां बनी रहेंगी.

उन्होंने कहा कि जब कोरोना की वैक्सीन आ जाएगी, वो जल्द से जल्द प्रत्येक भारतीय तक कैसे पहुंचे इसके लिए भी सरकार की तैयारी जारी है. एक-एक नागरिक तक vaccine पहुंचे,  इसके लिए तेजी से काम हो रहा है.याद रखिए,  जब तक दवाई नहीं,  तब तक ढिलाई नहीं.

उन्होंने आगे कहा कि जब तक सफलता पूरी न मिल जाए, लापरवाही नहीं करनी चाहिए. जब तक इस महामारी की वैक्सीन नहीं आ जाती,  हमें कोरोना से अपनी लड़ाई को कमजोर नहीं पड़ने देना है. बरसों बाद हम ऐसा होता देख रहे हैं कि मानवता को बचाने के लिए युद्धस्तर पर काम हो रहा है. अनेक देश इसके लिए काम कर रहे हैं. हमारे देश के वैज्ञानिक भी वैक्सीन के लिए  जी-जान से जुटे हैं. भारत में अभी कोरोना की कई वैक्सीन्स पर काम चल रहा है. इनमें से कुछ एडवान्स स्टेज पर हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि अगर आप लापरवाही बरत रहे हैं,  बिना मास्क के बाहर निकल रहे हैं,  तो आप अपने आप को, अपने परिवार को, अपने परिवार के बच्चों को, बुजुर्गों को उतने ही बड़े संकट में डाल रहे हैं.आप ध्यान रखिए, आज अमेरिका हो, या फिर यूरोप के दूसरे देश, इन देशों में कोरोना के मामले कम हो रहे थे, लेकिन अचानक से फिर बढ़ने लगे.

पीएम मोदी ने कहा कि सेवा परमो धर्म: के मंत्र पर चलते हुए हमारे डॉक्टर, नर्स और हेल्थ वर्कर  इतनी बड़ी आबादी की निस्वार्थ सेवा कर रहे हैं. इन सभी प्रयासों के बीच,  ये समय लापरवाह होने का नहीं है.  ये समय ये मान लेने का नहीं है कि कोरोना चला गया,  या फिर अब कोरोना से कोई खतरा नहीं है.हाल के दिनों में हम सबने बहुत सी तस्वीरें,  वीडियो देखे हैं जिनमें साफ दिखता है कि कई लोगों ने अब सावधानी बरतना बंद कर दिया है. ये ठीक नहीं है. 

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज देश में रिकवरी रेट अच्छी है. मृत्यु दर कम है. दुनिया के साधन-संपन्न देशों की तुलना में भारत अपने ज्यादा से ज्यादा नागरिकों का जीवन बचाने में सफल हो रहा है.  कोविड महामारी के खिलाफ लड़ाई में टेस्ट की बढ़ती संख्या हमारी एक बड़ी ताकत रही है.

पीएम ने आगे कहा कि लेकिन हमें ये भूलना नहीं है कि लॉकडाउन भले चला गया हो,  वायरस नहीं गया है.  बीते 7-8 महीनों में,  प्रत्येक भारतीय के प्रयास से,  भारत आज जिस संभली हुई स्थिति में हैं,  हमें उसे बिगड़ने नहीं देना है.

पीएम मोदी ने कहा कि समय के साथ आर्थिक गतिविधियां भी तेजी से बढ़ रही हैं। हम में से अधिकांश लोग,  अपनी जिम्मेदारियों को निभाने के लिए,  फिर से जीवन को गति देने के लिए,  रोज घरों से बाहर निकल रहे हैं. त्योहारों के इस मौसम में बाजारों में भी रौनक धीरे-धीरे लौट रही है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जनता कर्फ्यू से लेकर आज तक हम भारतवासियों ने बहुत लंबा सफर तय किया है. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन शुरू. कोरोना काल में भारत ने किस तरह से कदम उठाया उसका जिक्र कर रहे हैं.


 

थोड़ी देर में पीएम नरेंद्र मोदी देश को करेंगे संबोधित.


 

First Published : 20 Oct 2020, 05:27:09 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.