News Nation Logo

पीएम मोदी ने CBSE 12वीं के छात्रों साथ की वर्चुअली बातचीत,दिया गुरू मंत्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को शिक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित सीबीएसई छात्रों के वर्चुअल सत्र में जुड़कर सभी को चौंका दिया. इस बार वो अचानक ही छात्रों की वर्चुअल मीटिंग में जुड़ गए और उनसे बात करने लगे.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 03 Jun 2021, 07:00:21 PM
pm modi suddenly participate with cbse 12th students

पीएम मोदी ने CBSE 12वीं के छात्रों के साथ वर्चुअली बातचीत की (Photo Credit: @DDNEWS)

highlights

  • पीएम मोदी ने CBSE 12वीं के छात्रों के साथ की बात
  • छात्रों और अभिभावकों के साथ वर्चुअली बैठक में शामिल हुए
  • केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने आयोजित की थी बैठक

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को शिक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित सीबीएसई छात्रों के वर्चुअल सत्र में जुड़कर सभी को चौंका दिया. उन्होंने छात्रों और उनके अभिभावकों के मुद्दों और चिंताओं को सुना. पीएम मोदी ने कहा कि कक्षा 12 के छात्र हमेशा भविष्य के बारे में सोचते रहते हैं. 1 जून तक आप सभी परीक्षा की तैयारी कर रहे होंगे. एक छात्र कहता है, सर, आपने कहा है कि परीक्षा को एक उत्सव के रूप में मनाया जाना चाहिए. इसलिए मेरे मन में परीक्षाओं के लिए कोई डर नहीं था. सीबीएसई कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षा रद्द होने के मद्देनजर पीएम मोदी ने कक्षा 12 के छात्रों के साथ बातचीत की.  हिमाचल प्रदेश के सोलन के एक छात्र ने उसे यह कहते हुए धन्यवाद दिया कि यह एक अच्छा निर्णय है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छात्रों के साथ बातचीत करते हुए उन्हें भारत की आजादी के 75 साल पर एक निबंध लिखने और शोध करने के लिए भी कहा. आपको स्कूलों और कॉलेजों में टीम भावना के बारे में पढ़ाया जाता है, और हमें जनता की भागीदारी और टीम वर्क के माध्यम से COVID-19 की दूसरी लहर में भी ऐसा ही देखने को मिला: 

बता दें कि सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा पहले ही रद्द कर दिया गया है. कोरोना संक्रमण के चलते सीबीएसई बोर्ड की 12वीं की परीक्षाएं कैंसिल किए जाने की मांग की जा रही थी. 1 जून को प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में बोर्ड एग्जाम रद्द करने का फैसला लिया गया. इससे पहले 10वीं बोर्ड के एग्जाम रद्द किए जा चुके थे.

पीएम मोदी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि कक्षा 12वीं का रिजल्ट एक उपयुक्त व उचित क्राइटेरिया के आधार पर समयबद्ध तरीके से जारी किया जाएगा. पिछले साल की तरह, यदि कुछ छात्र परीक्षा देने की इच्छा रखते हैं, तो स्थिति अनुकूल होने पर सीबीएसई द्वारा उन्हें ऐसा विकल्प प्रदान किया जाएगा. इस बैठक के दौरान पीएम मोदी ने कहा था कि छात्रों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है, इससे समझौता नहीं किया जा सकता. छात्रों को कोविड-19 महामारी के इस तनावपूर्ण माहौल में परीक्षा देने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 03 Jun 2021, 06:36:38 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो