News Nation Logo
Banner

मोदी कैबिनेट में बड़ा फैसला: हेल्थ इमरजेंसी के लिए 23 हजार करोड़ का एलान

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar, Agriculture Minister) ने बताया कि एक लाख करोड़ रुपए मंडियों के माध्यम से किसानों को मिलेंगे.

Written By : Madhurendra Kumar | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 08 Jul 2021, 07:32:46 PM
rt

PM Modi New cabinet press conference (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली:

मंत्रिमंडल विस्तार के बाद मोदी कैबिनेट की बैठक खत्म हो चुकी है. कोरोना काल के मद्देनजर यह बैठक वर्चुअली हो रही थी. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बैठक में शामिल सभी नए और पुराने मंत्रियों से बातचीत की. कैबिनेट बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया (Union Health Minister Mansukh Mandaviya), अनुराग ठाकुर और नरेंद्र सिंह तोमर ने प्रेस को संबोधित किया. उन्होंने बताया कि बैठक में कई अहम फैसले लिए गए हैं. कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ( Narendra Singh Tomar, Union Agriculture Minister ) ने बताया कि एक लाख करोड़ रुपए मंडियों के माध्यम से किसानों को मिलेंगे. सरकार किसान मंड़ियों को मजबूत करेगी. तोमर ने कहा कि सरकार का पूरा फोकस कृषि कल्याण पर है. जिसके चलते कैबिनेट बैठक में बड़े फैसले लिए गए हैं.

यह भी पढ़ेंः पाकिस्तानी सेना और हाफिज सईद ने रची थी देश को दहलाने की साजिश

1 लाख करोड़ के फंड का उपयोग APMC कर सकेगी

कृषि मंत्री ने कहा कि 1 लाख करोड़ रुपये, APMC के जरिये अलग अलग आधारभूत ढांचा बनाया जायेगा. इसके साथ ही नारियल की खेती का उत्पादन बढ़े उसके लिए 1931 में नारियल बोर्ड आया था जिसमे संसाधन करने जा रहे हैं. किसान आंदोलन से जुड़े किसानों को कृषि मंत्री तोमर ने कहा कि भारत सरकार ने जो घोषणा बजट में की थी, वह पूरी की गई है. उन्होंने कहा कि देश में मण्डिया समाप्त नही होगी बल्कि उसे मजबूत किया गया. इस क्रम में 1 लाख करोड़ के फंड का उपयोग APMC कर सकेगी. उन्होंने कहा कि APMC खत्म नही होगी. कृषि कानून लागू होने के बाद भी मंडियों को करोड़ो का फंड उपलब्ध कराया जायेगा जिसका लाभ किसानों को मिलेगा.

यह भी पढ़ेंः पाकिस्तानी सेना और हाफिज सईद ने रची थी देश को दहलाने की साजिश

23 हजार 123 करोड़ इमरजेंसी फण्ड के लिये

वहीं, केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने जानकारी देते हुए बताया कि हेल्थ सेक्टर में सरकार ने बेहतर काम करके दिखाया है. उन्होंने कहा कि सरकार ने 15 हजार करोड़ राज्यों में टेस्टिंग फैसिलिटी सुधारने के लिए जो नेशनल हेल्थ मिशन शुरू किया था उसके फंड का सही इस्तेमाल किया गया है. उन्होंने कहा कि बैठक में 23 हजार 123 करोड़ इमरजेंसी फण्ड के लिये देने का निर्णय किया गया है, जिससे आगे भी लड़ाई राज्य लड़ सकेंगे, इंफ्रा में सुधार करेंगे. मनसुख मांडविया ने बताया कि 15 हजार करोड़ का फंड कोविड शुरू होने के समय दिया गया जिससे कोविड हेल्थ सेन्टर, केअर सेंटर उर लैब अपग्रेड हुआ है. उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान लोगों के सामने जो परेशानियां आई हैं, उसको दूर करने के लिए 23 हजार करोड़ रुपए के पैकेज का इस्तेमाल किया गया है.

10 हजार से ज्यादा कोविड सेंटर बनाए जाने हैं

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश में ऑक्सीजन की समस्या से निपटने के लिए स्पेशल पैकेज की घोषणा की गई है. बच्चों को कोरोना से बचाना सरकार की पहली प्राथमिकता
है. इसके साथ ही देश में 4 लाख 73 हजार ऑक्सीजन बैड उपलब्ध कराने की दिशा में काम जारी है. हेल्थ सेक्टर से जुड़े सुधारों के लिए 8 हजार करोड़ रुपए राज्य सरकारों को दिए जाएंगे. उन्होंने बताया कि देश में 20 हजार नए आईसीयू बेड तैयार हो रहे हैं, जबकि 10 हजार से ज्यादा कोविड सेंटर भी बनाए जाने हैं. इसके अलावा 2.44 लाख बेड की व्यवस्था की जाएगी. 

जानकारी के अनुसार कैबिनेट बैठक के बाद शाम 7 बजे मंत्रिपरिषद की बैठक होगी. इस बैठक में कई बड़े फैसले लिए जा सकते हैं. प्रधानमंत्री मोदी पहली कैबिनेट बैठक में मंत्रियों के साथ सरकार के कामकाज को लेकर बातचीत करेंगे. माना जा रहा है कि बैठक में कुछ अहम फैसले भी लिए जा सकते हैं.

First Published : 08 Jul 2021, 06:36:58 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live IPL 2021 Scores & Results

वीडियो

×