News Nation Logo

PM मोदी बोले- कोरोना के बाद भारत ने ढूंढा आपदा में अवसर

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को नीति आयोग के कार्यक्रम में एक वेबिनार को संबोधित किया. इसमें इंडस्ट्री के जानकारों के साथ बातचीत में कहा कि देश का बजट और देश के लिए पालिसी मेकिंग सिर्फ सरकारी प्रक्रिया न रहे.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 05 Mar 2021, 11:21:35 AM
pm modi

PM मोदी बोले- कोरोना के बाद भारत ने ढूंढा आपदा में अवसर (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को नीति आयोग के कार्यक्रम में एक वेबिनार को संबोधित किया. इसमें इंडस्ट्री के जानकारों के साथ बातचीत में कहा कि देश का बजट और देश के लिए पालिसी मेकिंग सिर्फ सरकारी प्रक्रिया न रहे, देश के विकास से जुड़े हर स्टेक होल्डर्स का इसमें इफेक्टिव एंगेजमेंट हो. इसी क्रम में आज मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर, मेक इन इंडिया को ऊर्जा देने वाले आप सभी महत्वपूर्ण साथियों से चर्चा हो रही है. इतनी बड़ी तादाद में हिंदुस्तान के सभी कोनों से आप सबका इस महत्वपूर्ण वेबिनार में सम्मिलित होना, अपने आप में इसका महत्व दर्शाता है. 

LIVE TV NN

NS

NS

पीएम मोदी बोले- भारत आज जिस तरह से मानवता की नम्रता से सेवा कर रहा है, इससे पूरी दुनिया में भारत अपने आप में बहुत बड़ा ब्रांड बन गया है. भारत की साख, भारत की पहचान निरंतर नई ऊंचाई पर पहुंच रही है. 

पीएम मोदी बोले भारत में आज जो विमान वैक्सीन की लाखों डोज लेकर दुनियाभर में जा रहे हैं, वो खाली नहीं आ रहे हैं. वो अपने साथ भारत के प्रति बढ़ा हुआ भरोसा, भारत के प्रति आत्मीयता, स्नेह और आशीर्वाद एक भावात्मक लगाव लेकर आ रहे है.

पीएम मोदी बोले भारत आज जिस नम्रता और कर्त्तव्यभाव से मानवता की सेवा कर रहा है, इससे पूरी दुनिया में भारत अपने आप में एक बहुत बड़ा ब्रांड बन गया है. भारत की साख और पहचान निरंतर नई ऊंचाई पर पहुंच रही है.

पीएम मोदी ने कहा कि आपने कल ही देखा है कि भारत के प्रस्ताव के बाद, संयुक्त राष्ट्र ने वर्ष 2023 को इंटरनेशल ईयर ऑफ मिलेट्स घोषित किया है. भारत के इस प्रस्ताव के समर्थन में 70 से ज्यादा देश आए थे और फिर यूएन जनरल असेंबली में इस प्रस्ताव को सर्वसम्मति से स्वीकार किया गया.

पीएम मोदी ने कहा कि एडवांस सेल बैटरी, सोलर पीवी मॉड्यूल और स्पेशेलिटी स्टील को मिलने वाली मदद से देश में एनर्जी सेक्टर काफी मजबूत होगा. इसी तरह टेक्सटाइल और फूड प्रोसेसिंग सेक्टर को मिलने वाली पीएलआई से हमारे पूरे एग्रीकल्चर सेक्टर को लाभ होगा. 

पीएम मोदी ने कहा कि ये पीएलआई जिस सेक्टर के लिए है, उसको तो लाभ हो ही रहा है, इससे उस सेक्टर से जुड़े पूरे इकोसिस्टम को फायदा होगा. उन्होंने कहा कि ऑटो और फार्मा सेक्टर में पीएलआई से ऑटो पार्ट और मेडिकल उपकरण और दवाओं के रॉ मटीरियल से जुड़ी विदेशी निर्भरता बहुत कम होगी.

पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार मानती है कि हर चीज में सरकार का दखल समाधान के बजाय समस्याएं ज्यादा पैदा करता है. इसलिए हम सेल्फ रेग्युलेशन, सेल्फ अटेस्टिंग और सेल्फ सर्टिफिकेशन  पर जोर दे रहे हैं. 

हमारे सामने दुनियाभर से उदाहरण हैं जहां देशों ने अपनी उत्पादन क्षमता को बढ़ाकर, देश के विकास को गति दी है. बढ़ती हुई उत्पादन क्षमता देश में कामगारों को भी उतना ही बढ़ाती हैं.

देश का बजट और देश के लिए पालिसी मेकिंग सिर्फ सरकारी प्रक्रिया न रहे, देश के विकास से जुड़े हर स्टेक होल्डर्स का इसमें इफेक्टिव एंगेजमेंट हो. इसी क्रम में आज मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर, मेक इन इंडिया को ऊर्जा देने वाले आप सभी महत्वपूर्ण साथियों से चर्चा हो रही है.

इतनी बड़ी तादाद में हिंदुस्तान के सभी कोनों से आप सबका इस महत्वपूर्ण वेबिनार में सम्मिलित होना, अपने आप में इसका महत्व दर्शाता है.

First Published : 05 Mar 2021, 11:10:33 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.