News Nation Logo

केरल के हादसे पर पीएम मोदी ने जताया दुख, PMO ने मुआवजे का किया ऐलान

केरल में हुए भूस्खलन में मजदूरों की मौत पर पीएम मोदी ने शोक व्यक्त किया है. पीएम मोदी ने कहा कि ''राजामलाई, इडुक्की में भूस्खलन के कारण जानमाल के नुकसान से आहत हूं.

News Nation Bureau | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 07 Aug 2020, 05:51:58 PM
PM Modi

नरेंद्र मोदी। (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

केरल में हुए भूस्खलन में मजदूरों की मौत पर पीएम मोदी ने शोक व्यक्त किया है. पीएम मोदी ने कहा कि ''राजामलाई, इडुक्की में भूस्खलन के कारण जानमाल के नुकसान से आहत हूं. दु:ख की इस घड़ी में, मेरे विचार शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. आशा है कि घायल जल्दी ठीक हो जाएंगे. एनडीआरएफ और प्रशासन जमीन पर काम कर रहे हैं, जिससे प्रभावितों को सहायता मिल रही है.'' इसके बाद प्रधानमंत्री कार्यालय ने मुआवजे का भी ऐलान किया. PMO ने ट्वीट कर बताया कि प्रधानमंत्री नेशनल रिलीफ फंड से मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये दिए जाएंगे. वहीं घायलों में से प्रत्येक को 50 हजार रुपये दिए जाएंगे.

वहीं केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने भी शोक व्यक्त किया है. उन्होंने कहा कि पेत्तिमुदी में जो हुआ उससे आहत हूं. मृतकों और घायलों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं. हादसे से प्रभावित होने वालों के लिए प्रार्थना.

यह भी पढ़ें- जिस टीम ने की थी अगस्ता वेस्टलैंड मामले की जांच, उसी के हवाले सुशांत सिंह राजपूत का केस

आपको बता दें कि इडुक्की जिले के राजमाला स्थित पेत्तिमुदी में मूसलाधार बारिश के कारण शुक्रवार की सुबह हुए भूस्खलन से सात मजदूरों की मौत हो गई. पुलिस सूत्रों ने बताया कि सात शव बरामद किए गए हैं. उन्होंने बताया कि कम से कम 80 लोगों के वहां फंसे होने की आशंका है. भूस्खलन के कारण करीब 20 मजूदरों के घर वहां मलबे में दब गए हैं. पुलिस और दमकल कर्मी मौके पर मौजूद हैं और जिला प्रशासन ने अस्पतालों से भी हर स्थिति का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा है.

राज्य स्वास्थ्य विभाग ने 15 एम्बुलेंस और एक विशेष चिकित्सक दल को रवाना किया है. इस बीच, केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने वायुसेना से सम्पर्क कर इडुक्की में बचाव अभियान में मदद के लिए उनके हेलीकॉप्टर की मांग की.

यह भी पढ़ें- सुशांत सुसाइड: IPS विनय तिवारी ने कहा, 'मुझे नहीं बल्कि इनवेस्टिगेशन को क्वारंटाइन किया गया था'

विजयन ने एक फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘‘ राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) को इडुक्की में बचाव अभियान में लगाया गया है. दल पहले ही जिले में मौजूद था. त्रिशूर से एनडीआरएफ की एक और टीम को इडुक्की जाने को कहा गया है.’’ भारत मौसम विज्ञान विभाग ने इलाके में ‘रेड अलर्ट’ भी घोषित कर दिया है. इस बीच, मुन्नार के विधायक एस राजेंद्रन ने मीडिया को बताया कि क्षेत्र से सम्पर्क स्थापित करने वाले पुल के बारिश में बह जाने के कारण घटनास्थल पर पहुंचने में परेशानी आ रही है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 07 Aug 2020, 05:51:58 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Kerala Landslide Ndrf Monsoon