News Nation Logo

PM नरेंद्र मोदी ने प्रसिद्ध न्यूरोलॉजिस्ट पनगढ़िया के निधन पर जताया शोक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जाने-माने न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. अशोक पनगढ़िया के निधन पर दुख व्यक्त किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, डॉ. अशोक पनगढ़िया ने एक उत्कृष्ट न्यूरोलॉजिस्ट के रूप में अपनी पहचान बनाई थी.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 11 Jun 2021, 11:35:13 PM
PM Modi

पीएम नरेंद्र मोदी (Photo Credit: फाइल )

highlights

  • प्रसिद्ध न्यूरोलॉजिस्ट अशोक पनगढ़िया का निधन 
  • पीएम मोदी ने पनगढ़िया के निधन पर जताया शोक
  • पीएम ने पद्मश्री डॉ अशोक पनगढ़िया के प्रति संवेदना व्यक्त की

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जाने-माने न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. अशोक पनगढ़िया के निधन पर दुख व्यक्त किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, डॉ. अशोक पनगढ़िया ने एक उत्कृष्ट न्यूरोलॉजिस्ट के रूप में अपनी पहचान बनाई थी. चिकित्सा के क्षेत्र में उनके अनुसंधान कार्य से चिकित्सकों और शोधकतार्ओं की कई पीढ़ियों को लाभ होगा. उनके निधन से दुखी हूं. उनके परिवार और मित्रों के लिए संवेदनाएं. ओम शांति. अशोक पनगढ़िया का शुक्रवार को यहां कोविड-19 सम्बंधी जटिलताओं के कारण निधन हो गया. पनगढ़िया 25 दिनों से अधिक समय तक अस्पताल में थे. उनके फेफड़े खराब हो गए थे. वह कोविड से उबर भी गए थे लेकिन फेफड़ी की जटिलता से वह नहीं बच सके.

पनगढ़िया के नाम पर विभिन्न स्वास्थ्य पत्रिकाओं में 90 से अधिक शोध पत्र हैं. उन्होंने अपने चिकित्सा और सामाजिक सहयोग के लिए यूनेस्को पुरस्कार जीता है, और उन्हें नागरिक अलंकरण पद्म श्री से भी सम्मानित किया गया था. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है. सीएम ने एक ट्वीट में कहा, प्रसिद्ध न्यूरोलॉजिस्ट और पद्मश्री डॉ अशोक पनगढ़िया के प्रति संवेदना. डॉक्टर अशोक ने चिकित्सा क्षेत्र में महत्वपूर्ण पदों पर काम किया. यहां तक कि महामारी के दौरान भी, उन्होंने राज्य में एक चिकित्सक के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

यह भी पढ़ेंःमशहूर कन्नड़ कवि सिद्धलिंगैया का कोरोना से निधन, PM मोदी ने किया शोक व्यक्त

इसके पहले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृहमंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को सायं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भेंट की. इससे पूर्व दिन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बैठक की थी. सूत्रों का कहना है कि वर्ष 2022 में होने जा रहे विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा के शीर्ष नेतृत्व की यह बेहद अहम बैठक हुई है. इसमें उत्तर प्रदेश चुनाव की रणनीति पर मंथन हुआ. उत्तर प्रदेश में वर्ष 2022 का विधानसभा चुनाव बेहद महत्वपूर्ण है. 2022 की सफलता पर ही वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव की सफलता टिकी है. ऐसे में भाजपा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर बहुत संजीदगी बरत रही है. ऐसे में भाजपा संगठन स्तर पर लगातार बैठकें कर रणनीति बनाने में जुटी है.

यह भी पढ़ेंःG7 Summit 2021: भारत को मिला फ्रांस का साथ, कहा 'वैक्सीन के कच्चे माल से हटे बैन'

इसी सिलसिले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का भी गुरुवार से दो दिवसीय दिल्ली दौरा हुआ. पहले दिन गुरुवार को योगी आदित्यनाथ ने जहां गृहमंत्री अमित शाह से भेंट की. दोनों नेताओं के बीच उत्तर प्रदेश के राजनीतिक हालात को लेकर काफी देर तक मंत्रणा चली. वहीं शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भेंट की. सूत्रों का कहना है कि इस दौरान भी दोनों नेताओं के बीच उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर विचार-विमर्श हुआ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दौरान उत्तर प्रदेश में कोरोना रोकथाम के मॉडल के बारे में भी प्रधानमंत्री मोदी को बताया.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 11 Jun 2021, 11:34:13 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.