News Nation Logo

बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद आतंक फैलाने को PDP नेता ने दिए थे 5 करोड़ रुपये, एनआईए चार्जशीट में खुलासा

पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी नेता वहीद-उर-रहमान पारा ने जम्म-कश्मीर में आतंक फैलाने के लिए हुर्रियत कॉन्फ्रेंस की 5 करोड़ रुपये दिए थे. इस बात का खुलासा एनआईए की चार्जशीट में हुआ है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 27 Mar 2021, 09:23:53 AM
NIA

बुरहान वानी एनकाउंटर के बाद आतंक फैलाने को PDP ने नेता दिए थे 5 करोड़ (Photo Credit: न्यूज नेशन)

श्रीनगर:

पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी नेता वहीद-उर-रहमान पारा ने जम्म-कश्मीर में आतंक फैलाने के लिए हुर्रियत कॉन्फ्रेंस की 5 करोड़ रुपये दिए थे. इस बात का खुलासा एनआईए की चार्जशीट में हुआ है. चार्जशीट के मुताबिक यह पैसे हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद दिए गए थे. एनआईए की चार्जशीट में यह भी बताया गया है कि संभवत: पारा ने यह पैसे पीडीपी की ओर से हुर्रियत को दिए थे ताकि घाटी में आतंकी गतिविधियां न रुके. पारा को कई दौर की पूछताछ के बाद बीते साल एनआईए ने 25 नवबर को गिरफ्तार किया था.

यह भी पढ़ेंः कोरोना वायरस रोकने में नाइट कर्फ्यू या आंशिक लॉकडाउन ज्यादा असरदार नहीं

PDP नेता पर लगे गंभीर आरोप
एनआईए ने अपनी चार्जशीट में पीडीपी नेता वहीद पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. दूसरी तरफ पीडीपी के अतिरिक्त प्रवक्ता नजमु साकिब ने पारा के खिलाफ लगाए गए आरोपों को कश्मीर की आवाज दबाने की कोशिश करार दिया है. साकिब ने कहा, 'हमारा मानना है कि इनमें से कोई भी फर्जी आरोप साबित नहीं होगा और वहीद को आखिरकार न्याय मिलेगा.'

आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने में पारा की भूमिका बताने वाली चार्जशीट के मुताबिक, 'बुरहान वानी की मौत के बाद पारा ने साल 2016 में अल्ताफ अहमद शाह को कश्मीर घाटी में आतंकी गतिविधियां चालू रखने के लिए 5 करोड़ रुपये दिए थे.' अल्ताफ अहमद शाह अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी का दामाद है। उसे जुलाई 2017 के जम्मू-कश्मीर टेरर फंडिंग केस में गिरफ्तार किया गया था.  

यह भी पढ़ेंः कोरोना पर गृह मंत्रालय की एडवाइजरी, त्योहारों पर राज्यों को दी हिदायत

एनआईए के मुताबिक, अल्ताफ और पारा एक दूसरे के करीबी थे और दोनों के बीच वानी के एनकाउंटर के बाद घाटी में जारी हिंसा के दौरान भी संपर्क था. बता दें कि 8 जुलाई 2016 को हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को एनकाउंटर में मार गिराया गया था. इसके बाद कई महीनों तक घाटी में तनाव जारी रहा और पत्थरबाजी तक हुई. यह एनकाउंटर जब हुआ तब जम्मू-कश्मीर में पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती मुख्यमंत्री थीं. 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 27 Mar 2021, 08:59:55 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.