News Nation Logo
Banner

पात्रा चॉल Scam: ED की छापेमारी में महत्वपूर्ण दस्वावेज बरामद, और भी कई खुलासे

ईडी अधिकारियों ने कहा है कि उन्होंने कल मुंबई (Mumbai) में 2 स्थानों पर छापेमारी में महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद किए हैं. अधिकारियों का कहना है कि उन्हें पता चला है कि संजय राउत ने अलीबाग में 10 भूखंडों के लिए विक्रेताओं को 3 करोड़ नकद में दिए थे.

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 03 Aug 2022, 11:04:39 PM
Sanjay Raut

Sanjay Raut (Photo Credit: File)

मुंबई:  

Patra Chawl Land Scam:पात्रा चॉल से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग (Money laundering scam) मामले में ईडी (ED) लगातार अपनी कार्रवाई कर रही है. इस मामले में ED ने कहा है कि HDIL के पूर्व लेखाकार का भी बयान आज दर्ज किया गया है. ED ने कहा कि संजय राउत (Sanjay Raut) के खाते में पैसे ट्रांसफर करने के अलावा राउत को प्रवीण राउत से बड़ी रकम नकद मिली थी. अलीबाग और मुंबई में फ्लैटों की खरीद में इस पैसे का इस्तेमाल किया गया. वहीं ईडी अधिकारियों ने कहा है कि उन्होंने कल मुंबई (Mumbai) में 2 स्थानों पर छापेमारी में महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद किए हैं. अधिकारियों का कहना है कि उन्हें पता चला है कि संजय राउत ने अलीबाग में 10 भूखंडों के लिए विक्रेताओं को 3 करोड़ रुपये नकद में दिए थे.

ये भी पढ़ें : केंद्रीय सरकार ने Monkeypox को को करकर जारी की guideline, कहा-भकर भी करें ये काम

इससे पहले मुंबई के पात्रा चॉल से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय ने शिवसेना सांसद संजय राउत को गिरफ्तार कर लिया था. भूमि घोटाला मामले में उन्हें धन शोधन निवारण अधिनियम (PMLA) के तहत गिरफ्तार किया गया था. ईडी ने उनके आवास से 11.5 लाख रुपये की बेहिसाबी नकदी भी जब्त की थी. उन्हें बाद में दिन में मुंबई में एक विशेष पीएमएलए अदालत के सामने पेश किया गया जहां बाद में प्रवर्तन निदेशालय ने 4 दिनों की हिरासत में भेज दिया था. वहीं स्वप्ना पाटकर (पात्रा चॉल भूमि मामले में एक गवाह) को कथित रूप से धमकाने के आरोप में उनके खिलाफ मुंबई के वकोला पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 504,506 और 509 के तहत प्राथमिकी भी दर्ज की गई.  

First Published : 03 Aug 2022, 11:04:39 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.