News Nation Logo

बिहार विधान परिषद में नेशनल ई-विधान सेवा शुरू

बिहार विधान परिषद में नेशनल ई-विधान सेवा शुरू

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 26 Nov 2021, 12:45:01 AM
Patna Bihar

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

पटना: बिहार विधान परिषद के सदस्यों को अब कागज या मोटी फाइल लेकर सदन में नहीं आना होगा। सदस्य अब अपनी सीट के सामने लगे रखे कंप्यूटर में सब कुछ देख सकेंगे। बिहार विधान परिषद में गुरुवार को नेशनल ई-विधान सेवा की शुरुआत हो गई।

परिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह ने जैसे ही ई-विधान अप्लीकेशन का उद्घाटन किया। इस सेवा के लिहाज से यह देश का पहला सदन बन गया।

इस मौके पर कार्यकारी सभापति ने कहा कि आधुनिक सुविधाओं के सहारे सदस्य अपने संसदीय दायित्वों का बेहतर निर्वहन कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि इससे सदस्यों को काफी लाभ होगा।

इसके अंतर्गत विधान परिषद की कार्यवाही को पब्लिक पोर्टल पर प्रकाशित कर दिए जाने से सामान्य नागरिक भी कार्यवाही को पढ़ सकते हैं।

उन्होंने कहा कि इसके लिए भारत सरकार द्वारा 60 प्रतिशत एवं बिहार सरकार द्वारा 40 प्रतिशत की राशि उपलब्ध कराई गई है।

इस सेवा सेवा के शुरुआत होने के बाद विधान परिषद के सदस्य ऑनलाइन माध्यम से अब अपना प्रश्न सदन के समक्ष रखेंगे और विभाग भी अब ऑनलाइन के जरिए जवाब देगा।

इस मौके पर उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि तकनीकी रूप से सदन को सशक्त बनाए जाने के बाद सदस्यों को अपने कार्य में बहुत सुविधा हो गई है।

सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री संजय कुमार झा ने कहा कि बिहार विधान परिषद देश का पहला सदन है, जहां ई-विधान की शुरुआत हुई। नई व्यवस्था के तहत सदन में सवाल-जवाब के साथ-साथ पूरा कामकाज डिजिटल होगा। उन्होंने कहा कि इससे जनता की समस्याओं का त्वरित निदान होगा और उसका बेहतर रिकार्ड रखा जा सकेगा।

उन्होंने कहा कि अब यह सदन पूरी तरह पेपरलेस होगा। उन्होंने संभावना जताते हुए कहा कि अब अन्य राज्य भी इसका अनुकरण करेंगे।

इस मौके पर कई मंत्री और नेता उपस्थित रहे।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 26 Nov 2021, 12:45:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.