News Nation Logo
Banner
Banner

आईटी विवाद पर संसदीय समिति की आज बैठक, गूगल-फेसबुक के अधिकारियों को भी बुलाया गया

नए आईटी नियमों को लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स और भारत सरकार के बीच ठनी हुई है. पिछले कई महीनों से यह गतिरोध चल रहा है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 29 Jun 2021, 08:39:54 AM
Shashi Tharoor

IT विवाद पर संसदीय समिति की बैठक, गूगल-फेसबुक के अधिकारी भी बुलाए गए (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • नए आईटी नियमों को लेकर गतिरोध जारी
  • मसले पर संसदीय समिति ने बुलाई बैठक
  • गूगल-फेसबुक के अधिकारियों को बुलावा

नई दिल्ली:

नए आईटी नियमों ( New IT Rules ) को लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स और भारत सरकार के बीच ठनी हुई है. पिछले कई महीनों से यह गतिरोध चल रहा है. इस बीच सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के संसद की स्थायी समिति ने बैठक बुलाई है. यह बैठक आज शाम 4 बजे संसद भवन एनेक्सी में होगी, जिसमें फेसबुक और गूगल के अधिकारियों को पेश होने के लिए कहा गया है. समिति के सदस्य, सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अधिकारी बैठक में मौजूद रहेंगे. फेसबुक ने कोविड का कारण बताते हुए वर्चअल जुड़ने की बात कही.

यह भी पढ़ें : भारत के गलत नक्शे को लेकर ट्विटर इंडिया के MD मनीष माहेश्वरी पर मुकदमा, J&K और लद्दाख को दिखाया था देश से बाहर 

सूचना प्रौद्योगिकी पर संसद की स्थायी समिति ने फेसबुक और गूगल के प्रतिनिधियों को बैठक के लिए समन भेजा है. बताया जा रहा है कि समिति नागरिकों के अधिकारों की रक्षा और उनकी रोकथाम पर कंपनियों के प्रतिनिधियों से सोशल ऑनलाइन समाचार मीडिया प्लेटफॉर्म के दुरुपयोग की रोकथाम पर उनके विचार जानेगी. बैठक में फेक न्यूज या अफवाहों पर लगाम लगाना, सोशल मीडिया ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का दुरुपयोग पर रोक, नागरिकों के हितों की रक्षा जैसे तमाम मुद्दे शामिल हो सकते हैं. आपको बता दें कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और लोकसभा सदस्य शशि थरूर समिति के अध्यक्ष हैं, जिसमें 31 सदस्य शामिल हैं जिसमें 21 लोकसभा से और 10 राज्यसभा के सदस्य हैं.

यह भी पढ़ें : वैक्सीन की दो डोज में हो 10 महीने का अंतर तो ज्यादा कारगर होगी कोविशील्ड, नई स्टडी में खुलासा 

गौरतलब है कि इससे पहले समिति और फेसबुक, गूगल और ट्विटर सहित सोशल मीडिया साइटों के प्रतिनिधियों के बीच दो बैठकें हो चुकी हैं. पहली बैठक 18 जून को तो दूसरी बैठक 20 जून को हुई थी. आपको बता दें कि ट्विटर को छोड़कर लगभग सभी सोशल मीडिया संस्थान आईटी एक्ट 2021 को मानने के लिए राजी हैं, उससे संबंधित ब्यौरा भी मंत्रालय को सौंप चुके हैं. अभी सिर्फ गतिरोध ट्विटर के साथ बना हुआ है, जो नियमों को मानने को तैयार नहीं है. 

First Published : 29 Jun 2021, 08:39:54 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.