News Nation Logo
Banner

श्री पारस भाई जी ने की हैदराबाद और उन्नाव कांड की निंदा, बोले- आरोपियों को फांसी या मौत की सजा हो

पारस परिवार (Paras Parivaar) के मुखिया श्री पारस भाई जी (Shri Paras Bhai Ji) ने हैदराबाद में महिला पशु चिकित्सक के साथ कथित तौर पर रेप के बाद हत्या के मामले में नाराजगी जताई है.

By : Deepak Pandey | Updated on: 05 Dec 2019, 04:35:29 PM
श्री पारस भाई जी

श्री पारस भाई जी (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

नई दिल्‍ली:

पारस परिवार (Paras Parivaar) के मुखिया श्री पारस भाई जी (Shri Paras Bhai Ji) ने हैदराबाद में महिला पशु चिकित्सक के साथ कथित तौर पर रेप के बाद हत्या के मामले में नाराजगी जताई है. उन्होंने इस मामले की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि ऐसे मामले से निपटने के लिए हमें सख्त कानूनों की जरूरत है. इस मामले को लेकर पूरे देश में आक्रोश है, जोकि जायज भी है.

यह भी पढ़ेंःसरकार और डॉक्‍टरों के बीच पिस रहे मरीजों का क्‍या दोष:पारस भाई

ऐसे मामले सुनने के बाद श्री पारस भाई गुरु जी (Shri Paras Bhai Guru Ji) का मन काफी दुखी हो जाता है. उनका कहना है कि हम सभी के घरो में बहन बेटियां हैं और देश में जो माहौल है उसमें शाम ढलते ही हमें एक खौफ सा छाने लगता है कि हम अपने बच्चों खासकर बहन या बेटी को बाहर किसी जरूरी काम से भेजे या न भेजे, क्योंकि लड़कियों से बदसलूकी होना तो जैसे अब आम बात हो गई है और यह पूरी तरह से सत्य प्रतीत होता भी है, क्योंकि हर गली नुक्कड़ के बाहर ऐसे लफंडर असामजिक तत्व आपको हमेशा देखने को मिलेंगे, जिनको न तो कानून का खौफ है न ही समाज के प्रति उनकी कोई जिम्मेदारी है. उनकी नज़र में न तो कोई मां है, न तो कोई बहन और न कोई बेटी. इसी कारण तो छोटी सी बेटी से लेकर 70 साल तक की बुजुर्ग महिला भी अपने आपको असुरक्षित महसूस करती है. यकीन करे यह वो भारत नहीं है, जिसका सपना हमारे पूर्वजों ने संजो कर इस देश के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिए, क्योंकि बहन बेटी की रक्षा करना हमारी संस्कृति है.

पारस भाई जी ने कहा कि उन नीच और घृणित अपराध करने वालों को यह सोचना चाहिए कि उनके घर में भी बहने बेटियां होंगी. तुम्हारे ऐसे कारनामे करने से क्या उनका सर फर्क से ऊंचा हो जाएगा, नहीं बल्कि पूरा समाज तुम्हारे घर परिवार से दूर हो जाएगा, क्योंकि जो तुम करोगे तुम्हें वो ही मिलेगा.

उन्होंने आगे कहा कि गैंगरेप या बलात्कार करने वाले को वो सजा दी जाए कि देश नहीं दुनिया में हमारी बहन-बेटी की तरफ किसी की बुरी नज़र उठाने की हिम्मत नहीं हो, इसलिए बलात्कार या गैंगरेप के आरोपियों को बीच सड़क पर फांसी पर लटका देना चाहिए, ताकि कोई व्यक्ति ऐसा गुनाह करने से पहले सौ बार सोचे.

श्री पारस भाई गुरु जी (Shri Paras Bhai Guru Ji) ने कहा कि चाहें वो हैदराबाद का मामला हो, या तमिलनाडु का या फिर रांची में कानून की छात्रा के साथ गैंगरेप का, समाज के तौर पर हम विफल हो चुके हैं. निर्भया गैंगरेप को सात साल बीच चुके हैं, लेकिन हमारी नैतिकता टुकड़ों में बंटती जा रही है. हमें सख्त कानूनों की जरूरत है. ताकि यह सब खत्म हो.

पारस भाई जी ने कहा कि हैदराबाद और उन्नाव की घटना पूरे मानवता के लिए शर्म की बात है और ऐसी घटनाएं पूरे देश में हो रही हैं. उन्होंने हैदराबाद और उन्नाव की घटना को दिल दहला देने वाली घटना बताते हुए कहा कि देश में कड़े कानूनों के बावजूद ऐसे मामले थम नहीं रहे हैं. उन्होंने कहा कि कई बार कानून होने के बाद भी समस्या हल नहीं हो पाती है. इस समस्या से निपटने के लिए हर स्तर पर हर जगह पूरे समाज को खड़ा होना पड़ेगा.

यह भी पढ़ेंःअब भारतवर्ष में नरेंद्र मोदी को रोकना होगा असंभव, जानें मोदी के ग्रहों पर क्या बोले पारस भाई जी

श्री पारस भाई गुरु जी (Shri Paras Bhai Guru Ji) ने कहा कि ऐसे मामले को लेकर न केवल समाज में जागरूकता फैलाने और संस्थानों से लेकर हर जगह सही माहौल बनाने की जरूरत है, बल्कि इस तरह की घटनाओं के होने पर हर तरह के पक्षपात से ऊपर उठकर सख्ती बरतने की भी जरूरत है. उन्होंने आगे कहा कि हैदराबाद के दोषियों के खिलाफ फास्ट ट्रैक अदालत में शीघ्र सुनवाई होनी चाहिए और आरोपियों के खिलाफ ऐसी सख्त कार्रवाई होनी चाहिए जो नजीर बन सके.

मां भगवती की साधना के साथ-साथ समाज की सेवा करते सच्चे साधक, एस्ट्रोलॉजर (Astrologer), बेहतरीन मोटिवेटर (Motivator), मां भगवती व शिव के भजनों (Maa Bhagwati bhajans) से दुनिया को मंत्रमुग्ध कर देने वाले पारस परिवार के मुखिया श्री पारस भाई जी ने मोदी सरकार से आरोपियों को सख्त से सख्त सजा देने की मांग की है.

First Published : 05 Dec 2019, 04:35:29 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.