News Nation Logo
1971 के भारत-पाक युद्ध ने दक्षिण एशियाई उपमहाद्वीप के भूगोल को बदल दिया: सीडीएस जनरल बिपिन रावत माता वैष्णों देवी मंदिर में तीर्थयात्रियों के बीच कोरोना का प्रसार रोकने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी दिल्ली जा रही फ्लाइट में एक आदमी की अचानक तबीयत ख़राब होने पर फ्लाइट की इंदौर में इमरजेंसी लैंडिंग 1971 का युद्ध, इसमें भारतीयों की जीत और युद्ध का आधार बेहद खास है: राजनाथ सिंह केंद्र सरकार की टीम उत्तराखंड में आपदा से हुई क्षति का आकलन कर रही है: पुष्कर सिंह धामी NCB दफ्तर में अनन्या पांडे से पूछताछ जारी, ड्रग्स चैट में सामने आया था नाम अनंतनाग में गैर कश्मीरी की हत्या, शरीर पर कई जगह चोट के निशान गुजरात प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव को लेकर प्रदेश कांग्रेस के नेता राहुल गांधी से मिले ड्रग पैडलर को सामने बैठाकर पूछताछ कर सकती है NCB ड्रग्स चैट मामले में अनन्या पांडे से होनी है पूछताछ रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज बेंगलुरु में वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान का दौरा किया शिवराज सिंह चौहान ने शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान कर्णवीर सिंह को सतना में श्रद्धांजलि दी मुंबई के लालबाग इलाके में 60 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग आग की लपटों से घिरी बहुमंजिला इमारत में 100 से ज्यादा लोगों के फंसे होने की आशंका उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: कल शाम छह बजे सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस सीईसी की बैठक राष्ट्रपति कोविन्द अपनी तीन दिवसीय बिहार यात्रा के अंतिम दिन गुरुद्वारा पटना साहिब, महावीर मंदिर गए छत्तीसगढ़ः राजनांदगांव में आईटीबीपी के 21 जवानों को फूड प्वाइजनिंग, अस्पताल में भर्ती कराया गया

गंगा के तट पर लगेंगे पंचकोल के पेड़

गंगा के तट पर लगेंगे पंचकोल के पेड़

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 11 Jul 2021, 04:00:01 PM
Panchkol tree

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

प्रयागराज (उत्तर प्रदेश): प्रयागराज में गंगा नदी की परिधि के पांच किलोमीटर के दायरे में अब वन भूमि के रूप में विकसित किया जाएगा।

ग्रामीणों को पर्यावरण की रक्षा की आवश्यकता के बारे में जागरूक किया जाएगा और इस क्षेत्र में सघन वृक्षारोपण अभियान चलाया जाएगा।

पंचकोल के पौधे - पीपल, पक्कड़, बरगद, बेल और बबुल सहित पांच प्रकार के पेड़ लगाए जाएंगे और यह अभियान जिले के ट्रांस-गंगा और ट्रांस-यमुना दोनों क्षेत्रों के ग्रामीण इलाकों में चलाया जाएगा।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़ा संगठन गंगा समग्र इस अभियान में अहम भूमिका निभाएगा।

गंगा समग्र काशी प्रांत के सह-संयोजक राकेश मिश्रा ने कहा, पंचकोल यानी बरगद, पीपल, पकड़, बेल और देसी बबूल के पेड़ों में औषधीय गुण होते हैं क्योंकि ये बड़ी मात्रा में ऑक्सीजन को बाहर निकालने में सक्षम होते हैं। ये पेड़ हमारी सनातन परंपराओं और ग्रंथों में भी एक विशेष स्थान रखते हैं। इसलिए, हमने गंगा के 5 किमी के दायरे में और गांवों के तालाबों में भी इन पेड़ों के पौधे लगाने का फैसला किया है।

उन्होंने कहा, पौधों की रक्षा के लिए, क्षेत्र के निवासियों से ट्री गार्ड खरीदे जा रहे हैं। व्यक्तियों को लगाए गए पौधों की देखभाल की जिम्मेदारी दी गई है। भावनात्मक जुड़ाव स्थापित करने के लिए प्रत्येक पौधे का नाम व्यक्ति या उनके परिवार के किसी बड़े के नाम पर रखा गया है।

उन्होंने आगे कहा, कई जगहों पर पौधे लगाने की इस परंपरा को एक पवित्र आयोजन माना जाता है और स्थानीय लोग इसमें काफी रुचि ले रहे हैं।

गंगा समग्र के स्वयंसेवक भी पौधरोपण अभियान के साथ तालाबों को पुनर्जीवित करने में लगे हैं। जिला समन्वयक राम शिरोमणि मिश्रा ने बताया कि संस्था द्वारा विशेष रूप से तालाबों के आसपास पौधरोपण का अभियान चलाया जा रहा है। इससे वर्षा जल संचयन में मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा, कुछ जगहों पर काम शुरू हो चुका है। इन सभी जगहों पर पंचकोल के पौधे लगाने के साथ ही तालाबों को गहरा किया जा रहा है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 11 Jul 2021, 04:00:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो