News Nation Logo
Banner

अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से पाक रुपया दबाव में

अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से पाक रुपया दबाव में

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 15 Sep 2021, 10:45:01 PM
Pakitani rupee

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: पाकिस्तानी रुपया अब तक के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया है, क्योंकि कुछ विश्लेषकों का मानना है कि अफगानिस्तान में सत्ता परिवर्तन से घरेलू कारकों के अलावा रुपये पर भी असर पड़ रहा है।

अल्फा बीटा कोर के सीईओ खुर्रम शहजाद ने कहा, रुपये पर अतिरिक्त दबाव अफगानिस्तान कारक के कारण है। देश से अमेरिकी सेना की वापसी के बाद तालिबान ने अफगानिस्तान पर नियंत्रण कर लिया है।

द न्यूज ने बताया कि तालिबान द्वारा युद्धग्रस्त देश में सरकार बनाने के बाद सूखे विदेशी सहायता के बीच अमेरिकी मुद्रा की कमी के कारण अफगानिस्तान में डॉलर का बहिर्वाह हुआ है।

पाकिस्तानी रुपया मंगलवार को अब तक के सबसे निचले स्तर पर आ गया, क्योंकि आयातकों ने डॉलर खरीदने के लिए हाथापाई की, जिससे मुद्रा तेजी से बढ़ते चालू खाते के घाटे की चपेट में आ गई।

रिपोर्ट में कहा गया है कि बढ़ते खाद्य आयात बिल और धीमी निर्यात वृद्धि ने रुपये पर जोखिम बढ़ा दिया है और दृष्टिकोण मंदी का बना हुआ है।

विश्लेषकों ने कहा कि आयात में तेज वृद्धि अंतर्राष्ट्रीय जिंस कीमतों, विशेष रूप से तेल और मजबूत घरेलू मांग से प्रेरित है।

रिपोर्ट के मुताबिक, फाउंडेशन सिक्योरिटीज के विश्लेषक मुहम्मद अवैस अशरफ ने कहा, उच्च कमोडिटी कीमतों के बीच आर्थिक गतिविधियों में तेजी के कारण आयात पिछले तीन महीनों में दूसरी बार 6 अरब डॉलर के निशान को पार कर गया और पिछले छह महीनों के लिए 5 अरब डॉलर के निशान से ऊपर रहा। इसने एसबीपी (स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान) के रूप में रुपये पर दबाव डाला। इसका इस्तेमाल रक्षा की पहली पंक्ति के रूप में किया जा रहा है।

अकेले अगस्त में पाकिस्तान का व्यापार घाटा सालाना आधार पर 133 प्रतिशत बढ़कर 4.05 अरब डॉलर हो गया। चालू वित्तवर्ष के पहले दो महीनों में यह 114 प्रतिशत बढ़कर 7.32 अरब डॉलर हो गया।

अगस्त में आयात 89.9 फीसदी बढ़कर 6.31 अरब डॉलर हो गया, जबकि इसी महीने निर्यात 42.5 फीसदी बढ़कर 2.25 अरब डॉलर हो गया।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 15 Sep 2021, 10:45:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.