News Nation Logo
Banner

डरे पाकिस्तान ने भारत की तैयारी देख अपनी सेना से जुड़ा लिया ये अहम फैसला

राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारी नीति रही है कि हम परमाणु हथियार का पहले प्रयोग नहीं करेंगे, लेकिन आगे क्या होगा यह समय, काल और परिस्थितियों पर निर्भर करेगा

By : Sushil Kumar | Updated on: 19 Aug 2019, 07:06:34 PM
pakistan-army-chief-general-qamar-javed-bajwa-tenure-extended

pakistan-army-chief-general-qamar-javed-bajwa-tenure-extended

नई दिल्ली:

भारत की तैयारी देख पाकिस्तान सकते में है. पाकिस्तान के डर का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि उसने अपने सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा का कार्यकाल बढ़ा दिया है. उसका कार्यकाल एक नहीं, दो नहीं, बल्कि पूरे 3 साल के लिए बढ़ा दिया है. आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा अब 2022 तक सेना प्रमुख के रूप में बने रहेंगे. बाजवा का कार्यकाल इसी साल खत्म हो गया था, लेकिन पाकिस्तान ने भारत के डर से उसका कार्यकाल बढ़ा दिया है. पाकिस्तान डर के मारे पूरी तरह से घबरा गया है. क्योंकि अब उसे पता है कि भारत पहले वाला नहीं है. भारत मारेगा और घर में घुसकर मारेगा.

यह भी पढ़ें - 'नया पाकिस्तान' देते-देते इमरान खान सिर्फ भुखमरी, बेरोजगारी और महंगाई की सुनामी लाए

हाल ही में भारत ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म कर दिया है. जम्मू-कश्मीर को मिलने वाला स्पेशल स्टेटस को समाप्त कर दिया है. भारत के इस कदम से पाकिस्तान बिल्कुल बौखला गया है. पाकिस्तान ने भारत के इस कदम का विरोध किया. उन्होंने इस मुद्दे को लेकर कई अंतरराष्ट्रीय संगठन के पास गया. सभी जगह से उसे मुंह की खानी पड़ी. भारत का स्टैंड जम्मू-कश्मीर को लेकर शुरू से द्विपक्षीय रहा है. वहीं पाकिस्तान इसे बहुपक्षीय बनाने की नाकाम कोशिश करता रहा है. नियंत्रण रेखा पर भारत की सक्रियता देख पाकिस्तान डर गया है.

यह भी पढ़ें - भारतीय सैनिक 'खूबसूरत बालाओं' से रहें सावधान, सेना प्रमुख बिपिन रावत की चेतावनी

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय संगठन से भी गुहार लगाई थी. उसने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से कहा था कि इस मसले पर आप चुप मत रहिए. साथ ही OIC (इस्लामिक सहयोग संगठन) से भी मदद मांगी थी, लेकिन झूठे पाकिस्तान को कहीं से मदद नहीं मिली. सभी ने यही कहा कि यह तुम्हारा आंतरिक मामला है, इसे द्विपक्षीय बातचीत में सुलझाओ. इसके बाद पाकिस्तान की बौखलाहट और तेज हो गई है. पाकिस्तान ने युद्द की भी धमकी दे दी थी. हालांकि पाकिस्तान की एक महिला ने इमरान खान को आईना दिखाया था. खाने को कुछ है नहीं और मियां युद्ध लड़ने चले. 

यह भी पढ़ें - पाकिस्तान के चक्कर में पड़ना नासमझी, अमेरिकी थिंक टैंक की डोनाल्ड ट्रंप को सलाह

वहीं रविवार को केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान पर हमला करते हुए कहा कि अब बात सिर्फ पाक अधिकृत कश्मीर (POK) पर होगी. भारत पहले वार नहीं करेगा की प्रतिबद्धता हमेशा के लिए नहीं है. राजनाथ सिंह ने कहा कि हम इसको वक्त के अनुसार तोड़ सकते हैं. भारत ने पाकिस्‍तान को अब तक की सबसे बड़ी चेतावनी दी है. भारत ने कहा है कि वह परमाणु हमले को लेकर No First Use की नीति पर परिवर्तन कर सकता है. राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारी नीति रही है कि हम परमाणु हथियार का पहले प्रयोग नहीं करेंगे, लेकिन आगे क्या होगा यह समय, काल और परिस्थितियों पर निर्भर करेगा.

First Published : 19 Aug 2019, 06:13:34 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×