News Nation Logo

पाकिस्तान को भी चाहिए भारत की कोविशील्ड वैक्सीन, चीन की सिनोफार्म को कहा ना

एस्ट्राजेनेका (Astrazeneca vaccine) की वैक्सीन का निर्माण भारत स्थित कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) कर रही है. पाकिस्तान के अलावा कई अन्य देशों ने भी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से वैक्सीन खरीदने का करार किया है. 

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 18 Jan 2021, 08:43:01 AM
Imran khan

पाकिस्तान को भी चाहिए भारत की वैक्सीन, चीन की सिनोफार्म को कहा ना (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:  

पाकिस्तान को भी भारत में बनी वैक्सीन चाहिए. भारत में बनी एस्ट्राजेनेका वैक्सीन पाने के लिए पाकिस्तान ने भी रजिस्ट्रेशन कराया है. भारत की तरह पाकिस्तान (Pakistan) में भी ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका (Oxford-Astrazeneca vaccine) के कोविड​​-19 टीके का इस्तेमाल होगा. इमरान खान की सरकार ने इसके आपातकालीन उपयोग की मंजूरी दे दी है. सरकार को उम्मीद है कि 2021 की पहली तिमाही तक टीका उपलब्ध हो जाएगा.

यह भी पढ़ेंः गणतंत्र दिवस पर तिरंगे संग ट्रैक्टर मार्च करेंगे किसान, SC में आज सुनवाई

बता दें कि एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन का निर्माण भारत स्थित कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया कर रही है. पाकिस्तान के अलावा कई अन्य देशों ने भी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से वैक्सीन खरीदने का करार किया है. ‘जियो टीवी' के अनुसार स्वास्थ्य मामले पर प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) के विशेष सहायक डॉ. फैसल सुल्तान ने शनिवार को इसकी पुष्टि की. पाकिस्तान औषधि नियामक प्राधिकरण (डीआरएपी) ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के कोरोना वायरस टीके कोविशील्ड के आपातकालीन उपयोग की मंजूरी दी है. पाकिस्तान के योजना मंत्री असद उमर ने कहा कि टीके को मार्च तक टीकाकरण के लिए उतारा जाएगा.

क्या है कोवैक्स अभियान
दरअसल कोवैक्स एक वैश्विक गठबंधन है, जिसके लिए ग्लोबल अलायंस फॉर वैक्सीन एंड इम्यूनाइजेशन (GAVI), कोलिशन फॉर एपिडेमिक प्रिपेयर्डनेस इनोवेशन (CEPI) और डब्लूएचओ (WHO) साथ आए हैं. इस गठबंधन के तहत दुनिया के 190 देशों की 20 फीसदी आबादी को मुफ्त कोरोना वैक्सीन दी जाएगी. इन 190 देशों में पाकिस्तान भी शामिल है. इस अभियान के तहत पाकिस्तान को मौजूदा वित्तीय वर्ष की दूसरी तिमाही में वैक्सीन की पहली खेप मिल सकती है. 

यह भी पढ़ेंः अमित शाह ने वैक्‍सीन पर सवाल उठाने पर कांग्रेस नेताओं को घेरा, पूछा ये सवाल

चीन से भी है पाकिस्तान का करार
चीन में बनी वैक्सीन सिनोफार्म के लिए पाकिस्तान में अगले हफ्ते से रजिस्ट्रेशन शुरू होने की उम्मीद है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के स्वास्थ्य सलाहकार डॉ.फैजल सुल्तान ने द डॉन के साथ बातचीत में यह जानकारी दी है. बता दें कि भारत और पाकिस्तान के बीच व्यापार बंद है लेकिन जीवन रक्षक दवाओं आयात-निर्यात पर रोक नहीं है. 

ये देश भी लेंगे भारत में बनी वैक्सीन

पाकिस्तान के साथ ही नेपाल ने भी भारत से सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा तैयार की गई कोविशील्ड वैक्सीन की 1.20 करोड़ खुराक मांगी हैं. 

बांग्लादेश सरकार ने भी 3 करोड़ खुराक मांगी हैं. इसके अलावा बांग्लादेश सरकार, भारत सरकार के संपर्क में भी है. 

म्यांमार ने भी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के साथ कोविशील्ड वैक्सीन की खरीद को लेकर अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं. 

भूटान ने भी कंपनी से 10 लाख डोज वैक्सीन देने का अनुरोध किया है. इसके साथ ही भूटान की सरकार भारत सरकार से भी बातचीत कर रही है. 

ब्राजील ने भी कंपनी के साथ 20 लाख वैक्सीन की डोज देने का अनुबंध किया है. बता दें कि कोविशील्ड वैक्सीन कोरोना वायरस पर 90 फीसदी तक प्रभावी है.

First Published : 18 Jan 2021, 08:43:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.