News Nation Logo
Banner

जब तक CBI की गिरफ्त में हैं पी चिदंबरम, तब तक ED नहीं कर पाएगी गिरफ्तार

सोमवार को ही राउज एवेन्‍यू कोर्ट से पी चिदंबरम को दी गई सीबीआई रिमांड की अवधि खत्‍म हो रही है.

By : Sunil Mishra | Updated on: 23 Aug 2019, 01:46:58 PM
ईडी वाले केस में पी चिदंबरम को सोमवार तक मिली राहत

ईडी वाले केस में पी चिदंबरम को सोमवार तक मिली राहत

highlights

  • सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता से कपिल सिब्‍बल और अभिषेक मनु सिंघवी की तीखी बहस
  • तुषार मेहता ने कहा, शैल कंपनियों के माध्‍यम से पी चिदंबरम की पोती के नाम की गई वसीयत

नई दिल्ली:

पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री पी चिदंबरम को ईडी वाले केस में गिरफ्तारी से राहत दे दी है. सोमवार को इस मामले की सुनवाई होगी. सीबीआई वाले केस में भी सोमवार को ही सुनवाई होनी है. सोमवार को ही राउज एवेन्‍यू कोर्ट से पी चिदंबरम को दी गई सीबीआई रिमांड की अवधि खत्‍म हो रही है. शुक्रवार को ईडी वाले केस में पी चिदंबरम को गिरफ्तारी से राहत की मांग करते हुए कपिल सिब्बल ने कहा, HC के फैसला सुरक्षित रखने के बाद ED ने एक नोट कोर्ट में जमा कराया, जिसने फाइनल आर्डर को प्रभावित किया. सिब्‍बल की इस बात का तुषार मेहता ने विरोध करते हुए कहा कि यह गलत है. हालांकि सिब्‍बल ने अपनी बात पूरी करते हुए कहा, जब तक जिरह जारी थी, ED ने कोई नोट कोर्ट में नहीं दिया. उसके बाद ED ने ये नोट कोर्ट में रखा. मुझे उसका जवाब देने का मौका तक नहीं मिला.

यह भी पढ़ें : बालाकोट के बाद कश्मीर में अपने ही Helicopter को मार गिराया था एयरफोर्स ने, इन अधिकारियों पर होगी कार्रवाई

सिब्बल ने कहा, अग्रिम जमानत अर्जी खारिज करने का दिल्‍ली हाई कोर्ट के आदेश में बहुत सारी चीजें इस नोट से हूबहू ली गई हैं. उनकी इस बात का भी तुषार मेहता ने विरोध करते हुए कहा, झूठे बयान न दें. क्या बस यही दलील आपके पास बची है.

कपिल सिब्‍बल के बाद अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, HC के जज को फैसला INX मीडिया केस में देना था, पर उन्होंने हवाला एयरसेल मैक्सिस केस का भी दिया. इसका कोई मतलब नहीं हुआ. एयरसेल मैक्सिस केस में पहले से ही गिरफ्तारी से राहत मिली हुई है. सिंघवी ने कहा, पूरे सम्मान के साथ मैं कहना चाहूंगा कि ऐसा करना दिल्‍ली हाई कोर्ट के माइंड सेट को दिखाता है.

यह भी पढ़ें : बाबरी ढांचा विध्वंस के आपराधिक मामले की सुनवाई कर रहे जज ने मांगी सुरक्षा

कपिल सिब्‍बल और अभिषेक मनु सिंघवी की दलीलों का जवाब देते हुए सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने कहा - मैं किसी जज के आरोप प्रत्यारोप में नहीं उलझूँगा. मैं सबूत और तथ्यों की बिनाह पर अपनी बात रखूंगा. बहुत ज़्यादा शोर मचाया जा चुका है. लोग पॉलिटिकल vendata की बात कर रहे हैं पर मैं आपका सबूत दिखाऊंगा कि आखिर कस्‍टडी क्‍यों चाहिए. तुषार मेहता ने कहा, हमारे पास इंद्राणी मुखर्जी का बयान है कि कैसे वो पीटर के साथ चिदंबरम से मिलीं. हमारे पास इलेक्ट्रॉनिक दस्तावेज है, जो साबित करते हैं कि कैसे पैसे का एक्सचेंज हुआ और ये सीधे मनी लॉन्ड्रिंग का मामला बनता है. पी चिंदबरम के नजदीकी लोगों ने विदेश में शैल कंपनियां बनाई हुई थीं.

तुषार मेहता ने यह भी कहा कि हमारे पास सबूत है कि जिन लोगों के नाम से शैल कंपनी बनाई गई थीं, उनके द्वारा पी चिंदबरम की पोती के नाम पर वसीयत लिखी गई थी पर अब इन वसीयत को नष्ट किया जा चुका है.

यह भी पढ़ें : बाहुबली विधायक अनंत सिंह ने दिल्ली की साकेत कोर्ट में किया सरेंडर

तुषार मेहता बोले, हमने मनी ट्रेल का पता लगाया है. उनके विदेश में दस प्रॉपर्टी का पता चला है. विदेश में 17 बैक खातों के पता चला है. हमें चिंदबरम से इन सबका आमना-सामना करना है. पूछना है कि क्या इनके ही आदमी है.

तुषार मेहता ने कहा, चिंदबरम जैसे लोग कभी सच नही बताएंगे. अगर उन्हें कोर्ट से गिरफ्तारी से राहत मिलेगी. तुषार मेहता ने कोर्ट से आग्रह किया कि ED से गिरफ्तारी के खिलाफ दायर पी चिंदबरम की अर्जी पर आज नहीं, सोमवार को आदेश जारी करें. वैसे भी सोमवार से पहले ED उन्हें गिरफ्तार नहीं करने जा रही. वो अभी CBI की कस्टडी मैं हैं.

कोर्ट ने आदेश देते हुए कहा, सीबीआई के खिलाफ गिरफ्तारी पर रोक की अर्जी पर सोमवार को सुनवाई करेगा। CBI कस्टडी दिए जाने के आदेश को दी चुनौती पर भी उसी दिन सुनवाई होगी. ED के खिलाफ अर्जी पर भी सोमवार को ही सुनवाई होगी. सोमवार तक ED से गिरफ्तारी पर रोक जारी रहेगी.

First Published : 23 Aug 2019, 12:56:08 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो