News Nation Logo

ऑक्सीजन एक्सप्रेस से अब तक कुल इतने राज्यों को पहुंचाई गई ऑक्सीजन

भारतीय रेलवे अब तक देश के विभिन्न राज्यों में 590 टैंकरों के माध्यम से 9440 मीट्रिक टन से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन पहुंचा चुका है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 17 May 2021, 03:21:32 PM
Oxygen Cylinder

Oxygen Cylinder (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • विभिन्न राज्यों में 590 टैंकरों के माध्यम से 9440 मीट्रिक टन से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन पहुंची
  • 150 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन अपनी यात्रा पूरी कर चुकी हैं और इससे देश के कई राज्यों को काफी राहत मिली

नई दिल्ली:

कोरोना के खिलाफ जारी जंग में आने वाली बाधाओं पर काबू पाने और नए समाधान तलाशने के लिए भारतीय रेलवे देशभर के विभिन्न राज्यों में तरल चिकित्सा ऑक्सीजन (एलएमओ) पहुंचाकर लोगों को राहत देने का काम कर रहा है. भारतीय रेलवे अब तक देश के विभिन्न राज्यों में 590 टैंकरों के माध्यम से 9440 मीट्रिक टन से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन पहुंचा चुका है. ध्यान देने वाली बात यह है कि अब तक 150 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन अपनी यात्रा पूरी कर चुकी हैं और इससे देश के कई राज्यों को काफी राहत मिली है. 55 टैंकर्स में 970 मीट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन लेकर 12 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन ने सफर तय किया.

केरल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और तमिलनाडु जैसे दक्षिण भारतीय राज्यों को ऑक्सीजन आपूर्ति के मामले में बड़ी राहत मिली है, क्योंकि कई ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों ने इन राज्यों में बीते कल और आज काफी मात्रा में लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति की है. संयोग से, दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र ने 5000 मीट्रिक टन से अधिक ऑक्सीजन की डिलीवरी को पार कर लिया है। इसे आगे संबंधित अस्पतालों/संस्थानों आदि को वितरीत किया जाता है. ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन पिछले कुछ दिनों से लगातार हर दिन लगभग 800 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन देश के विभिन्न राज्यों/ केन्द्र शासित प्रदेशों में पहुंचा रही हैं.

यह भी पढ़ें: कोरोना के नए वैरिएंट के खिलाफ कितनी असरदार है Covaxin? शोध में हुआ ये खुलासा

भारतीय रेलवे का प्रयास है कि अनुरोध करने वाले राज्यों को कम से कम समय में अधिक से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन पहुंचाई जा सके. केरल के एर्णाकुलम में 118 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन लेकर पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन पहुंच गई है. इस विज्ञप्ति के लिखे जाने के समय तक, ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन से महाराष्ट्र को 521 मीट्रिक टन, उत्तर प्रदेश को करीब 2525 मीट्रिक टन, मध्य प्रदेश को 430 मीट्रिक टन, हरियाणा को 1228 मीट्रिक टन, तेलंगाना को 389 मीट्रिक टन, राजस्थान को 40 मीट्रिक टन, कर्नाटक को 361 मीट्रिक टन, उत्तराखंड को 200 मीट्रिक टन, केरल को 118 मीट्रिक टन, तमिलनाडु को 151 मीट्रिक टन, आंध्र प्रदेश को 116 मीट्रिक टन और दिल्ली को 3320 मीट्रिक टन से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन पहुँचाई गई है.

नई ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन काफी गतिशील कार्य है, और इस संबंध में आंकड़े भी लगातार परिवर्तित हो रहे हैं। यही वजह है कि आज देर रात तक ऑक्सीजन टैंकर्स लेकर कुछ अन्य ऑक्सीजन ट्रेनों के यात्रा शुरू करने की उम्मीद है. रेलवे ने ऑक्सीजन आपूर्ति वाले स्थानों तक ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए कई मार्गों की मैपिंग की है, और राज्यों में ऑक्सीजन की किसी भी आपात ज़रूरत से निपटने के लिए खुद को तैयार रखा है। गौरतलब है कि लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन लाने के लिए संबंधित राज्य, भारतीय रेलवे को टैंकर प्रदान करते हैं. -इनपुट पीआईबी

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 17 May 2021, 03:21:32 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.