News Nation Logo
Banner

बीजेपी के खिलाफ लड़ाई में एकजुट हों विपक्षी दल : सोनिया गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा बुलाई गई इस बैठक में कांग्रेस समेत 19 विपक्षी दल के नेताओं ने भाग लिया. बैठक में बसपा और आप को बुलाया नहीं गया था जबकि सपा को कोई प्रतिनिधि शामिल नहीं हुआ.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 20 Aug 2021, 07:54:29 PM
Sonia Gandhi

सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष (Photo Credit: TWITTER HANDLE)

highlights

  • विपक्षी दलों की बैठक से सपा ने बनाई दूरी
  • बसपा-आप को नहीं किया गया आमंत्रित
  • संसद के अंदर और बाहर एकजुटता की अपील

नई दिल्ली:

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को विपक्षी नेताओं के साथ बैठक कीं. यह बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संपन्न हुई. सोनिया गांधी ने बैठक में बीजेपी के खिलाफ एकजुट होने की अपील की. उन्होंने कहा कि सिर्फ संसद में ही नहीं, बल्कि बाहर भी विपक्षी दलों को एकजुट होना चाहिए. कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा बुलाई गई इस बैठक में कांग्रेस समेत 19 विपक्षी दल के नेताओं ने भाग लिया. बैठक में बसपा और आप को बुलाया नहीं गया था जबकि सपा को कोई प्रतिनिधि शामिल नहीं हुआ.

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार ने भी विपक्षी दलों का आह्वान किया कि देश के लोकतांत्रिक सिद्धांतों को बचाने के लिए सभी को साथ मिलकर काम करना चाहिए. शरद पवार ने गृहमंत्री के नेतृत्व में सहकारिता मंत्रालय द्वारा राज्यों के अधिकारों में हस्तक्षेप करने का मुद्दा उठाया तो ममता बनर्जी ने गैर भाजपा शासित राज्यों में कोरोना वैक्सीन आपूर्ति करने में भेदभाव का मुद्दा उठाया.

सोनिया ने कांग्रेस समेत 19 विपक्षी दलों के नेताओं की डिजिटल बैठक में संसद के हालिया मॉनसून सत्र के दौरान दिखी विपक्षी एकजुटता का उल्लेख किया और कहा, ''मुझे भरोसा है कि यह विपक्षी एकजुटता संसद के आगे के सत्रों में भी बनी रहेगी। लेकिन व्यापक राजनीतिक लड़ाई संसद से बाहर लड़ी जानी है।''

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ''निश्चित तौर पर (हमारा) लक्ष्य 2024 का लोकसभा चुनाव है। हमें देश को एक ऐसी सरकार देने के उद्देश्य के साथ व्यवस्थिति ढंग से योजना बनाने की शुरुआत करनी है कि जो स्वतंत्रता आंदोलन के मूल्यों और संविधान के सिद्धांतों और प्रावधानों में विश्वास करती हो।'' 

उन्होंने विपक्षी दलों का आह्वान किया, ''यह एक चुनौती है, लेकिन हम साथ मिलकर इससे पार पा सकते हैं और अवश्य पाएंगे क्योंकि मिलकर काम करने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है। हम सभी की अपनी मजबूरियां हैं, लेकिन अब समय आ गया है जब राष्ट्र हित यह मांग करता है कि हम इन विवशताओं से ऊपर उठें।''

बैठक के जरिए विपक्ष ने अपनी ताकत दिखाई है. विपक्षी दल के नेता जोकि इस बैठक में शामिल हुए हैं, उनमें तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की अध्यक्ष और  बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन, महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे, एनसीपी प्रमुख शरद पवार भी शामिल थे. 

First Published : 20 Aug 2021, 07:53:53 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.