News Nation Logo

दिल्ली दंगों पर विपक्षी दलों ने की राज्यसभा में चर्चा कराने की मांग

बजट सत्र का पहला चरण 31 जनवरी से 11 फ़रवरी तक चलने के बाद दूसरा चरण दो मार्च से तीन अप्रैल तक चलेगा

Bhasha | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 02 Mar 2020, 11:47:35 AM
Parliament

Parliament (Photo Credit: फाइल फोटो)

दिल्ली:

दिल्ली में पिछले दिनों हुए सांप्रदायिक दंगों (Delhi Violence) के मुद्दे को सोमवार से शुरू हो रहे संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण में विपक्षी दलों ने राज्यसभा में जोरशोर से उठाने की तैयारी कर ली है. माकपा और आप के सदस्यों ने राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू से उच्च सदन की कार्यवाही स्थगित कर दिल्ली के दंगों के मुद्दे पर चर्चा कराने की मांग की है. इस मुद्दे पर माकपा के के.के रागेश, टीके रंगराजन और आम आदमी पार्टी (AAP) के संजय सिंह ने नियम 267 के तहत कार्यस्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है.

यह भी पढ़ें: NRC CAA और NPR पर महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मालिक ने दिया ये बड़ा बयान

बजट सत्र का पहला चरण 31 जनवरी से 11 फ़रवरी तक चलने के बाद दूसरा चरण दो मार्च से तीन अप्रैल तक चलेगा. रागेश द्वारा राज्यसभा सचिवालय को भेजे नोटिस में सोमवार को सदन की कार्यवाही स्थगित कर दिल्ली दंगों के मुद्दे पर सभापति से चर्चा कराने की मांग की गई है. उन्होंने कहा कि दिल्ली दंगों में 42 निर्दोष लोगों की जान चली गई और लगभग 200 लोग घायल हुए। इसे जनहित से जुड़ा गम्भीर विषय बताते हुए तीनों सदस्यों ने इस पर चर्चा कराने की मांग की है. 

यह भी पढ़ें: दिल्ली हिंसा में फिर बढ़ी मरने वालों की संख्या, अब तक 46 लोगों की मौत

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और राजद सहित अन्य दलों के सदस्यों ने भी रविवार को कहा था कि वे इस मुद्दे को संसद में जोरशोर से उठाएंगे। इसके मद्देनज़र संसद के दोनों सदनों की बैठक हंगामेदार रहने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है.

First Published : 02 Mar 2020, 11:20:59 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो