News Nation Logo
दिल्ली कैबिनेट का बड़ा फैसला, दिल्ली में पेट्रोल 8 रुपए सस्ता आईआरएस अधिकारी विवेक जौहरी ने CBIC के अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभाला निलंबित 12 विपक्षी सदस्य (राज्यसभा) निलंबन के विरोध में संसद में गांधी प्रतिमा के सामने धरने पर बैठे प्रश्नकाल के दौरान कांग्रेस और द्रमुक सांसदों ने लोकसभा से वाक आउट किया दिसंबर के पहले दिन ही महंगाई की मार, महंगा हो गया कॉमर्श‍ियल LPG सिलेंडर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन पर आज लोकसभा में होगी चर्चा UPTET पेपर लीक मामले में परीक्षा नियामक प्राधिकारी संजय उपाध्याय गिरफ्तार संसद भवन के कमरा नंबर 59 में लगी आग, बुझाने की कोशिश जारी पुलवामा एनकाउंटर में दो आतंकी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

AAP सरकार के तीन साल पूरे, चुनाव हुए तो मिलेगी जीत लेकिन घटेगी सीट: सर्वे

साल 2015 में दिल्ली में हुए विधानसभा चुनाव में 70 में से 67 सीटों पर ऐतिहासिक जीत हासिल कर सत्ता में आई आम आदमी पार्टी क्या अब भी दिल्ली के लोगों में उतनी ही लोकप्रिय है।

News Nation Bureau | Edited By : Kunal Kaushal | Updated on: 14 Feb 2018, 11:21:18 PM
अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

साल 2015 में दिल्ली में हुए विधानसभा चुनाव में 70 में से 67 सीटों पर ऐतिहासिक जीत हासिल कर सत्ता में आई आम आदमी पार्टी क्या अब भी दिल्ली के लोगों में उतनी ही लोकप्रिय है।

अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में AAP पार्टी की सरकार ने 3 साल पूरे कर लिए हैं और इसका जश्न मना रही है। इस मौके पर एक न्यूज चैनल ने 3 साल के कार्यकाल के बाद दिल्ली की जनता का मूड भांपने के लिए ओपिनियन पोल किया जिसके आंकड़े चौंकाने वाले आए हैं।

सर्वे की माने तो अगर दिल्ली में अभी चुनाव हो तो फिर से आम आदमी पार्टी की सरकार ही बनेगी लेकिन उसकी सीटों में भारी कमी आने का अंदेशा जताया गया है।

आम आदमी पार्टी को 26 सीटों का नुकसान

सर्वे के मुताबिक अगर अभी दिल्ली में चुनाव हुए तो आम आदमी पार्टी को 26 सीटों को नुकसान हो जाता है। हालांकि नुकसान के बावजूद दिल्ली में सत्ता एक बार फिर से AAP को ही मिलेगी और पार्टी को 41 सीटें मिल सकती हैं जो बहुमत से 5 सीट ज्यादा है।

केजरीवाल सीएम पद की पहली पसंद

ओपिनियन पोल के मुताबिक अरविंद केजरीवाल दिल्ली के लोगों के लिए सीएम पद की पहली पसंद हैं। सर्वे के मुताबिक 49 फीसदी लोग अभी भी केजरीवाल को बतौर सीएम देखना चाहते हैं। दूसरे नंबर पर 14 फीसदी लोगों की पसंद है तीसरे नंबर पर 9 फीसदी वोटों के साथ अजय माकन हैं।

और पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय दबावों से थर्राया पाक, हाफिज के मदरसों पर की कार्रवाई

आम आदमी पार्टी के जनाधार में कमी

ओपिनियन पोल के आंकड़ों के मुताबिक अभी चुनाव हुए तो आम आदमी पार्टी के जनाधार में कमी आ सकती है। सर्वे के मुताबिक आम आदमी पार्टी के 54.3 फीसदी वोट घटकर 39.6 फीसदी रह जाएगा वहीं बीजेपी को मामूली बढ़त मिलेगी और उसे 32.9 फीसदी वोट मिल सकता है। कांग्रेस को 19.7 फीसदी वोट मिलने की संभावना जताई गई है।

इस सर्वे में न्यूज चैनल ने करीब 4170 लोगों की राय ली है उनसे कई तरह के सवालों पर जवाब लेने के बाद आंकड़े तैयार किए गए हैं।

और पढ़ें: उमा भारती ने कहा, आजादी के बाद पाकिस्तानी हमले के दौरान नेहरू ने RSS से मांगी थी मदद

First Published : 14 Feb 2018, 11:15:46 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.