News Nation Logo

अगले 12 महीनों के दौरान कर्ज चुकाने के लिए संघर्ष करेंगे 1 तिहाई चीनी डेवलपर्स

अगले 12 महीनों के दौरान कर्ज चुकाने के लिए संघर्ष करेंगे 1 तिहाई चीनी डेवलपर्स

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 28 Oct 2021, 09:15:02 PM
One third

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: चीन के एक तिहाई प्रॉपर्टी डेवलपर्स अगले 12 महीनों में अपने कर्ज चुकाने के लिए संघर्ष करेंगे। एक नई रिपोर्ट में यह दावा किया गया है।

द गार्जियन ने अपनी एक रिपोर्ट में यह दावा किया है और कहा है कि वह अपने कर्ज चुकाने के लिए इसलिए संघर्ष करेंगे, क्योंकि यह क्षेत्र गिरती बिक्री, ऋण तक सीमित पहुंच और व्यापक मंदी से गंभीर प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना कर रहा है।

रिपोर्ट के अनुसार, यहां तक कि अगर संकट से घिरा डेवलपर एवरग्रांडे अपने नवीनतम ऋण चुकौती को पूरा करने का प्रबंधन कर भी लेता है और संभावित विनाशकारी डिफॉल्ट को टाल देता है, तो कई अन्य प्रॉपर्टी कंपनियां दिवालिया होने की ओर बढ़ सकती हैं। इस संबंध में रिपोर्ट में क्रेडिट रेटिंग एजेंसी एस एंड पी के विश्लेषकों की ओर से जारी की गई चेतावनी का भी उल्लेख किया गया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि इस क्षेत्र के माध्यम से व्यापक वित्तीय संकट चीन और वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए एक गंभीर जोखिम का प्रतिनिधित्व करता है - क्योंकि इसका निवेश और विकास का निर्माण संचालित मॉडल कर्ज के दबाव में चरमराने लगा है।

एस एंड पी ने कहा कि चीन को पहले भी आवास बाजार (हाउसिंग मार्केट) में गिरावट का सामना करना पड़ा है, लेकिन यह असामान्य रूप से तीव्र होना तय है।

हालांकि एवरग्रांडे देश और विदेश में 300 अरब डॉलर की देनदारियों के साथ कर्ज से भरे ढांचे के प्रतीक के रूप में उभरी है, लेकिन नोमुरा के विश्लेषकों के मुताबिक, चीनी संपत्ति क्षेत्र में अनुमानित 5 खरब डॉलर का बकाया है। यह देश के संपूर्ण सकल घरेलू उत्पाद का एक तिहाई है और लगभग जापानी अर्थव्यवस्था के पूरे उत्पादन के बराबर है, जो दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।

यह भी कहा गया है कि प्रॉपर्टी से जुड़ी कंपनियों को अगले वर्ष में परिपक्व होने वाले बांड भुगतान के रूप में 92 अरब डॉलर के साथ आगे आना चाहिए। हालांकि यह कार्य काफी कठिन बताया जा रहा है, क्योंकि इस क्षेत्र को उधार देने पर शी जिनपिंग की थ्री रेड लाइन्स (तीन लाल रेखाओं) की कार्रवाई के बाद ऐसे कई पारंपरिक उधारी चैनलों से कट गए हैं।

एस एंड पी ने इस सप्ताह अपनी रिपोर्ट में यह भी दावा किया है कि उनका मानना है कि इस साल और अगले साल आने वाले जोखिमों को देखते हुए कंपनियों के लंबे समय तक डाउन साइकल (नीचे की ओर जाना) में प्रवेश करने से डिफॉल्ट बढ़ेगा।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 28 Oct 2021, 09:15:02 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.