News Nation Logo
Banner

उमर अब्दुल्ला व महबूबा मुफ्ती को नजरबंद किए जाने की खबर, धारा 144 लागू; स्कूल-कॉलेज बंद

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में लगातार बदलते हालात के बीच राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती व एनसी नेता उमर अब्दुल्ला को श्रीनगर में नजरबंद किए जाने की खबर है.

By : Deepak Pandey | Updated on: 05 Aug 2019, 08:07:32 AM
उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती (फाइल फोटो)

उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में लगातार बदलते हालात के बीच राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती व एनसी नेता उमर अब्दुल्ला को श्रीनगर में नजरबंद किए जाने की खबर है. इसकी अभी आधिकारिक रूप से पुष्‍टि नहीं हुई है. उमर अब्दुल्ला ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. उन्होंने अपने ट्वीट लिखा, हिंसा से केवल उन लोगों के हाथों में खेलेंगे जो राज्य की भलाई नहीं चाहते हैं. शांति के साथ रहें और ईश्वर आप सभी के साथ रहें.

यह भी पढ़ेंः नजरबंद हुए उमर अब्दुल्ला के समर्थन में आए कांग्रेस नेता शशि थरूर, ट्वीट कर कही ये बात

महबूबा मुफ्ती ने कहा, सुनने में आ रहा है कि जल्द ही इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया जाएगा. कर्फ्यू पास भी जारी किए जा रहे हैं. अल्लाह जाने क्या होगा. यह एक लंबी रात होने जा रही है. उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा, ऐसे कठिन समय में मैं अपने लोगों को यह विश्वास दिलाना चाहती हूं कि जो हो सकता है, हम इसमें एक साथ हों और इसका मुकाबला करेंगे. जो कुछ भी हमारा अधिकार है उसके प्रयास करने के लिए हमारे संकल्प को तोड़ा नहीं जा सकता है. महबूबा मुफ्ती के इस ट्वीट को उमर अब्दुल्ला ने भी रिट्वीट किया है.

पीडीपी प्रमुख उमर अब्दुल्ला ने पहले ही नजरबंद होने का दावा कर दिया था. इसके बाद उनके नजरबंद होने की चर्चा होने लगी थी. उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट में लिखा, मुझे लगता है कि मुझे आज (रविवार) आधी रात से नजरबंद कर दिया जाएगा और सभी राजनीतिक पार्टियों के नेताओं के लिए भी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. यह पता करने का कोई तरीका नहीं है कि क्या यह सच है.

यह भी पढ़ेंःजम्मू-कश्मीर में हलचल बढ़ी, सर्वदलीय बैठक के बाद फारूख अब्दुल्ला बोले- कोई काम ऐसे न उठाए...

उन्होंने लिखा कि कश्मीर के लोगों के लिए हम नहीं जानते कि हमारे लिए क्या है, लेकिन मैं एक दृढ़ विश्वास रखता हूं कि सर्वशक्तिमान अल्लाह ने जो योजना बनाई है वह हमेशा बेहतर के लिए है, हमें कभी भी उसके तरीकों पर संदेह नहीं करना चाहिए. सभी को शुभकामनाएं, सुरक्षित और शांत रहें.

इससे पहले उन्होंने लिखा कि अगर राज्य सरकार के अधिकारियों की मानें तो मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है. एक अनौपचारिक कर्फ्यू शुरू होने जा रहा है और मुख्य धारा के नेताओं को हिरासत में लिया जा रहा है. किस पर विश्वास करें कुछ समझ नहीं आ रहा है.

First Published : 05 Aug 2019, 02:17:02 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×