News Nation Logo

एनएसयूआई ने संसद भवन तक निकाला मार्च, छात्रों के लिए तत्काल टीकाकरण नीति और राहत पैकेज की उठाई मांग

एनएसयूआई ने संसद भवन तक निकाला मार्च, छात्रों के लिए तत्काल टीकाकरण नीति और राहत पैकेज की उठाई मांग

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 23 Jul 2021, 04:10:01 PM
NSUI marche

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: किसी भी शैक्षणिक संस्थान को खोलने और कोई भी परीक्षा आयोजित करने से पहले देश भर के सभी छात्रों के लिए टीकाकरण नीति की मांग को लेकर एनएसयूआई ने विरोध मार्च निकाला।

एनएसयूआई की प्रमुख मांगे सुरक्षित रूप से परीक्षा आयोजित करना, छात्रों के खोए हुए शैक्षणिक वर्ष की भरपाई करना और भविष्य के पाठ्यक्रम पर ध्यान केंद्रित करना शामिल था।

इसके अलावा मुख्य मांग महामारी के 1.5 साल बीत जाने के बाद भी मोदी सरकार द्वारा छात्रों के लिए कोई राहत पैकेज घोषित करने में विफलता पर थी।

हालांकि इन सभी मांगो को लेकर एनएसयूआई के प्रदर्शनकारियों ने संसद भवन की ओर मार्च किया, जहां पुलिस ने उन्हें बैरिकेडिंग के जरिए रोकने की कोशिश की।

एनएसयूआई के अनुसार इस सरकार ने छात्रों के लिए झूठे वादों के अलावा कुछ नहीं किया, जिससे छात्रों को भ्रमित और असहाय अवस्था में छोड़ दिया गया।

एनएसयूआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन ने कहा कि, केंद्र सरकार ने छात्रों की ओर से पूरी तरह से आंखें मूंद ली हैं और छात्रों से जुड़े सभी महत्वपूर्ण मुद्दों की ओर सरकार का ध्यान आकर्षित करने के लिए एनएसयूआई के नियमित प्रयासों के बाद भी मोदी सरकार असंवेदनशील है।

दूसरी कोविड लहर के बाद केंद्र सरकार को सबक सीखना था, लेकिन अभी तक कोई आवश्यक कदम नहीं उठाया गया है।

विरोध मार्च कर रहे प्रदर्शनकारियों के मुताबिक, अभी भी बहुत से ऐसे छात्र हैं, जिनका टीकाकरण नहीं हुआ है और वे जल्द ही विभिन्न परीक्षाओं में शामिल होंगे, जिससे उन्हें संक्रमित होने का खतरा होगा। इस स्थिति के परिणामस्वरूप परीक्षा स्थगित करने की मांग की जा रही है, और परीक्षा स्थगित करना निश्चित रूप से समस्या का स्थायी समाधान नहीं है।

एकमात्र स्थायी समाधान यह है कि टीकाकरण के लिए छात्रों को प्राथमिकता दी जाए, ताकि वे सुरक्षित वातावरण में अपनी पढ़ाई जारी रख सकें।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 23 Jul 2021, 04:10:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो