News Nation Logo
Banner

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कमलनाथ के भांजे के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले से जुड़े़ धनशोधन मामले में मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी की मुश्किल बढ़ती जा रही है.

By : Deepak Pandey | Updated on: 09 Aug 2019, 05:24:28 PM
रतुल पुरी (फाइल फोटो)

रतुल पुरी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले से जुड़े़ धनशोधन मामले में मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी की मुश्किल बढ़ती जा रही है. दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने रतुल पुरी के खिलाफ गैर जमानती वारंट (NBW) जारी की है. बता दें कि पुलिस जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर सकती है. 

यह भी पढ़ेंः हाशिम अमला ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा, दिग्गजों ने अपने-अपने अंदाज में दी शुभकामनाएं

बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आठ अगस्त को दिल्ली की एक अदालत का दरवाजा खटखटाया था, जिसमें अगस्ता वेस्टलैंड मामले में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे और उद्योगपति रतुल पुरी के खिलाफ गैर जमानती वारंट (एनबीडब्ल्यू) जारी करने की मांग की गई है. यह कदम विशेष सीबीआई न्यायाधीश अरविंद कुमार द्वारा पुरी की ओर से दायर अग्रिम जमानत याचिका को खारिज करने के एक दिन बाद उठाया गया.

बता दें कि रतन पुरी अपनी कंपनियों के माध्यम से अगस्ता वेस्टलैंड सौदे में कथित तौर पर रिश्वत प्राप्त करने के आरोप में जांच एजेंसियों की जांच के दायरे में हैं. ईडी ने आरोप लगाया है कि पुरी के स्वामित्व और संचालन वाली फर्मों से जुड़े खातों का इस्तेमाल वीआईपी हेलीकॉप्टरों के लिए अगस्ता वेस्टलैंड सौदे में रिश्वत और धनशोधन से जुड़े पैसे प्राप्त करने के लिए किया गया था. आपको बता दें कि पिछले महीने की 30 तारीख को इनकम टैक्स विभाग ने रतुल पुरी के ठिकानों पर छापेमारी की थी.

यह भी पढ़ेंः साहूकारों से लिया गया आदिवासियों का कर्ज माफ, मुख्यमंत्री कमलनाथ ने किया बड़ा एलान

इस दौरान आयकर विभाग ने रतुल पुरी के 254 करोड़ रुपये मूल्य के ‘बेनामी शेयर’ जब्त किए थे. उन्हें यह शेयर कथित तौर पर अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाला मामले के एक संदिग्ध से फर्जी कंपनी के माध्यम से प्राप्त हुए.

First Published : 09 Aug 2019, 04:58:33 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.