News Nation Logo
Banner
Banner

Nirbhaya Justice Highlights : पोस्‍टमार्टम के बाद निर्भया के हत्‍यारों के शवों परिजनों को सौंपे गए

Nirbhaya Justice LIVE Updates: फांसी देने से पहले नियम है कि जेल सुपरिंटेंडेंट सबसे पहले अपने ऑफिस में जा कर यह चेक करेंगे कि दोषियों की किसी प्रकार की कोई पत्राचार आदि की प्रक्रिया तो पेंडिंग नहीं है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 20 Mar 2020, 05:56:13 AM
nirbhya collarge

LIVE Updates : थोड़ी देर बाद फंदे पर लटकाए जाएंगे निर्भया के हत्‍यारे (Photo Credit: FILE PHOTO)

नई दिल्‍ली:

Nirbhaya Justice LIVE Updates : निर्भया को 7 साल बाद इंसाफ मिलने जा रहा है. अब से थोड़ी देर बाद निर्भया के हत्‍यारों को फांसी के फंदे पर लटका दिया जाएगा. फांसी के फंदे पर लटकने से पहले हत्‍यारों के वकील एपी सिंह ने पहले दिल्‍ली हाई कोर्ट और फिर सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार देर रात तक याचिकाएं दायर कीं. हालांकि दोनों ही कोर्ट में याचिकाएं खारिज हो गईं और अब डेथ वारंट में तय किए गए समय 5:30 बजे उन्‍हें फांसी के फंदे पर लटका दिया जाएगा.

फांसी देने से पहले नियम है कि जेल सुपरिंटेंडेंट सबसे पहले अपने ऑफिस में जा कर यह चेक करेंगे कि दोषियों की किसी प्रकार की कोई पत्राचार आदि की प्रक्रिया तो पेंडिंग नहीं है. सुपरिंटेंडेंट डिप्टी सुपरिंटेंडेंट के साथ मेडिकल ऑफिसर, मजिस्ट्रेट के साथ दोषियों के सेल में जाकर उनसे मिलेंगे और हत्‍यारों का मेडिकल कराया जाएगा. कैदी से पूछा जाएगा कि क्या वह किसी प्रकार की कोई वसीयत तो नहीं छोड़ना चाहता है. अगर कोई वसीयत छोड़ना चाहता है, तो उस पर उसके दस्तखत कराए जाएंगे. सुपरिंटेंडेंट मजिस्ट्रेट के साथ फांसी के तख्ते का मुआयना करने के लिए जाएंगे. इसके बाद कैदी के हाथों को पीछे की तरफ बंधवाया जाएगा और फिर आगे की प्रक्रिया अपनाई जाएगी.

चारों का पोस्‍टमार्टम आम पोस्‍टमार्टम से अलग तरीके से होगा. दीनदयाल हॉस्‍पिटल के सूत्रों के हवाले से एएनआई ने बताया कि चारों का पोस्‍टमार्टम 12:30 बजे तक पूरा हो पाएगा.



निर्भया के दोषियों के परिवारों को लिखित में एक वचन देना होगा कि वे शवों के दाह संस्कार या दफनाने के संबंध में किसी भी प्रकार का सार्वजनिक प्रदर्शन नहीं करेंगे, तभी उनको शव सौंपे जाएंगे. अन्‍यथा की स्‍थिति में उन्‍हें शव नहीं दिए जाएंगे. 



2012 के दिल्ली गैंगरेप मामले के दोषियों को पोस्टमॉर्टम के लिए दीनदयाल उपाध्‍याय, अस्पताल ले जाया गया. वहां जेल मैनुअल और सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों के अनुसार पोस्टमॉर्टम किया जाएगा. पोस्टमॉर्टम के बाद दोषियों के शव उनके परिजनों को सौंप दिए जाएंगे.



8 बजे मोर्चरी खुलने के बाद शवों को पोस्‍टमार्टम के लिए भेजा गया है. पहले खबर आई थी कि फांसी के कुछ देर बाद ही शव पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया गया है, लेकिन तिहाड़ जेल के डीजी के अनुसार, मोर्चरी खुलने के बाद ही पोस्‍टमार्टम के लिए शवों को भेजा गया है.

दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल ने कहा, यह एक ऐतिहासिक दिन है. निर्भया को 7 साल बाद न्याय मिला, उसकी आत्मा को आज शांति मिली होगी. देश ने बलात्कारियों को एक कड़ा संदेश दिया है कि अगर आपने यह अपराध किया तो आपको फांसी जरूर दी जाएगी.



राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्‍यक्ष रेखा शर्मा ने निर्भया के हत्‍यारों को फांसी दिए जाने के बाद कहा, आज एक उदाहरण आज सेट किया गया है, लेकिन ऐसा पहले भी किया जा सकता था. अब लोगों को पता है कि उन्हें सजा दी जाएगी, आप तारीख बढ़ा सकते हैं लेकिन आपको सजा जरूर मिलेगी.



हत्‍यारों का शव पोस्‍टमार्टम के लिए भेजा गया.

निर्भया के हत्‍यारों का शव पोस्‍टमार्टम के लिए दीनदयाल अस्‍पताल ले जाया जाएगा. 

आधे घंटे तक डेड बॉडी लटकी रहेगी. डाॅक्‍टर की ओर से मौत की पुष्टि होने के बाद शव को पोस्‍टमार्टम के लिए भेजा गया.

निर्भया की मां बोलीं, 7 साल की लंबी लड़ाई के बाद आखिरकार इंसाफ मिला. जिस तरह से इस केस में एक-एक कर याचिकाएं डाली गईं, उससे हमारे कानून की खामियां सामने आईं. 

निर्भया के हत्‍यारों को तिहाड़ जेल में दे दी गई फांसी, सात साल बाद निर्भया को इंसाफ मिल गया है 

पवन जल्‍लाद ने फंदे की गांठ को चेक किया और उसके बाद हत्‍यारों के गले में फंदा डाला गया. 

फांसी की प्रक्रिया को पूरी करने के लिए मजिस्‍ट्रेट वहां मौजूद हैं. 

हत्‍यारों को डेथ वारंट पढ़कर सुनाया जा रहा है.

डेथ वारंट में तय समय के अनुसार, पवन जल्‍लाद फांसी का लीवर खिंचेगा और हत्‍यारे फंदे पर लटक जाएंगे. 

फांसी कोठी में निर्भया के हत्‍यारों को फांसी के तख्‍ते पर खड़ा किया गया

पवन जल्‍लाद फांसी घर में मौजूद है. पवन जल्‍लाद हत्‍यारों को फंदे तक ले गया. 

निर्भया के हत्‍यारों को फांसी घर ले जाया जा चुका है. कुछ ही देर बाद फांसी दी जाएगी. हत्‍यारों को काले कपड़े पहनाए गए हैं और उनके दोनों हाथ बांध दिए गए हैं. 

First Published : 20 Mar 2020, 05:17:25 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.