News Nation Logo

पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू को लालकिले पर झंडा फहराने के मामले में NIA का समन

सुरक्षा बलों और पुलिस कर्मियों की संख्या से अधिक संख्या में किसान जल्द ही स्मारक की प्राचीर पर चढ़ गए और वहां अपना परचम लहराया. सिद्धू ने लालकिले की प्राचीर से पताका को हूटिंग करते हुए फेसबुक लाइव भी किया.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 27 Jan 2021, 06:52:10 AM
deep sindhu

दीप सिंधू (Photo Credit: आईएएनएस)

नई दिल्ली :

सिख्स फॉर जस्टिस (एसएफजे) मामले में पिछले हफ्ते नेशनल इन्वेस्टोगेशन एजेंसी (एनआईए) द्वारा तलब किए गए पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू मंगलवार को लालकिले में घुसकर 17वीं सदी के स्मारक पर झंडे फहराने वाले किसानों के समूह में शामिल थे. यहां तक कि राष्ट्रीय राजधानी के कई हिस्सों में हिंसक झड़पें हुईं, क्योंकि आंदोलनकारी किसानों द्वारा ट्रैक्टर रैली को लेकर रैली छिड़ गई थी. ट्रैक्टर, मोटरसाइकिल और कार पर सवार सैकड़ों किसान हाथों में तिरंगा और झंडे लेकर मंगलवार दोपहर लाल किला परिसर में घुस गए.

सुरक्षा बलों और पुलिस कर्मियों की संख्या से अधिक संख्या में किसान जल्द ही स्मारक की प्राचीर पर चढ़ गए और वहां अपना परचम लहराया. सिद्धू ने लालकिले की प्राचीर से पताका को हूटिंग करते हुए फेसबुक लाइव भी किया. वीडियो में सिद्धू ने पंजाबी में कहा, हमने विरोध जताने के अपने लोकतांत्रिक अधिकार का प्रयोग करते हुए लाल किले पर सिर्फ निशान साहिब का झंडा फहराया है.

एनआईए ने पिछले सप्ताह भेजा था नोटिस
पिछले हफ्ते एनआईए ने सिद्धू को सिख्स फॉर जस्टिस (एसएफजे) मामले की जांच के सिलसिले में पेश होने के लिए समन भेजा था, जो पिछले साल 15 दिसंबर को दर्ज किया गया था. यहां तक कि संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने भी सिद्धू से दूरी बनाई और किसानों को लालकिले की ओर ले जाने का आरोप लगाया. एसकेएम ने कहा कि सिद्धू सोमवार रात को एक मंच पर दिखे और भड़काऊ भाषण देकर तोड़फोड़ की.

कभी गुरदासपुर सांसद सनी देओल के करीबी थे दीप सिद्धू
गुरदासपुर के सांसद और बॉलीवुड अभिनेता सनी देओल के करीबी माने जाने वाले सिद्धू 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा नेता के लिए चुनाव प्रभारी थे. पिछले साल दिसंबर में देओल ने सिद्धू से दूरी बना ली थी. यहां तक कि किसान यूनियनों ने भी पिछले साल सिद्धू पर प्रतिबंध लगा दिया था. गुरदासपुर के सांसद और बॉलीवुड अभिनेता सनी देओल का करीबी माने जाने वाला सिद्धू 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान बीजेपी नेता के लिए चुनाव प्रभारी भी था. पिछले साल दिसंबर में देओल ने सिद्धू से दूरी बना ली थी. यहां तक कि किसान यूनियनों ने भी पिछले साल सिद्धू पर प्रतिबंध लगा दिया था.

राष्ट्रीय राजधानी के विभिन्न हिस्सों में मंगलवार को भड़की हिंसक झड़पों में कम से 83 पुलिसकर्मी और कई किसान घायल हो गए. मध्य दिल्ली में आईटीओ चौराहे के पास नाका मारने के बाद ट्रैक्टर में सवार होकर पलट जाने से एक किसान की भी जान चली गई.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 27 Jan 2021, 06:45:21 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो