News Nation Logo
Banner

पाकिस्तानी साजिश की जांच करेगी NIA, ड्रोन से पंजाब हथियार भेज तबाही मचाने की मंशा

पंजाब में ड्रोन से हथियारों की तस्करी और उसके पीछे पाक समर्थित खालिस्तान आतंकियों का हाथ सामने आने के बाद पूरे मामले को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के सुपुर्द कर दिया गया है.

By : Nihar Saxena | Updated on: 04 Oct 2019, 08:41:16 PM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: (फाइल फोटो))

highlights

  • पंजाब में पाकिस्तान सीमा से ड्रोन से हथियारों की तस्करी की जांच एनआईए को.
  • तरनतारण में चीन निर्मित ड्रोन के मिलने के बाद पाकिस्तान की साजिश का खुलासा.
  • पंजाब समेत दूसरे राज्यों में आतंक फैलाने की बड़ी साजिश रच रहा पाकिस्तान.

नई दिल्ली:

बीते माह पंजाब के तरनतारण में अत्याधुनिक हथियारों की बरामदगी और उनकी तस्करी के लिए इस्तेमाल में लाए गए ड्रोन के पीछे पाकिस्तान का हाथ सामने आने के बाद पंजाब राज्य की सुरक्षा तो कड़ी कर ही दी गई है. साथ ही ड्रोन से हथियारों की तस्करी और उसके पीछे पाक समर्थित खालिस्तान आतंकियों का हाथ सामने आने के बाद पूरे मामले को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के सुपुर्द कर दिया गया है. इस बात का फैसला केंद्र सरकार ने षड्यंत्र की व्यापकता और हथियारों समेत संवेदनशील नक्शों की बरामदगी के चलते लिया है.

यह भी पढ़ेंः महिला हेड कांस्टेबल का रेप करता रहा मौलाना, वजह जानकर हैरान रह जाएंगे आप

एएनआई की टीम जांच को पंजाब पहुंची
एनआईए से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, 'एनआईए की एक टीम मामले की जांच के लिए पंजाब पहुंच गई है. विभिन्न पहलुओं को ध्यान में रखकर जांच आगे बढ़ाई जा रही है.' पंजाब पुलिस ने भी शुरुआती जांच के आधार पर आशंका जताई है कि पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठनों ने ड्रोन के जरिए हथियार पंजाब सीमा पर गिराए. गौरतलब है कि एक बाग में हुए संदिग्ध धमाके के बाद देसी बमों और फिर ड्रोन के जरिये हथियारों की तस्करी के कई मामले सामने आए हैं. ड्रोन हथियारों को लांच करने का काम आईएसआई और पाकिस्तानी प्रायोजित इस्लामिक और प्रो-खालिस्तानी आतंकी संगठनों की मदद से साजिश को अंजाम दिया जा रहा है.

यह भी पढ़ेंः NIA का बड़ा खुलासा, पाकिस्तान दूतावास कर रहा था कश्मीरी आतंकियों को फंडिंग

पाकिस्तान का हाथ आया सामने
इस तरह की आशंका के तार सामने आते ही पंजाब पुलिस ने संवेदनशील ठिकानों की सुरक्षा कड़ी करते हुए कुछ जिलों में पुलिस की छुट्टियां दिवाली तक रद कर दी हैं. पंजाब पुलिस का कहना है कि पश्चिमी सीमा पर पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठनों के सहयोग से ड्रोन के जरिए हथियार गिराए गए. पुलिस का यह भी दावा है कि पंजाब और दूसरे राज्यों में आतंक फैलाने के उद्देश्य से बड़ी साजिश रची जा रही थी.

यह भी पढ़ेंः पाकिस्तान की इस मशहूर सूफी गायिका ने गाना छोड़ा, वजह हैरान करने वाली

अब तक भारी मात्रा में हथियार बरामद
गौरतलब है कि पिछले महीने पुलिस ने पांच एके-47 राइफल्स, पिस्टल, सैटेलाइट फोन, हैंड ग्रेनेड और दूसरे हथियार पंजाब के तरनतारण जिले के रजोके गांव में पुलिस ने बरामद किया था. पुलिसकर्मियों ने जांच के बाद बताया कि हाई एंड ड्रोन में जीपीएस लगे थे और ऑपरेटर्स तस्करी पर नजर बनाए हुए थे. ड्रोन हथियारों के जखीरे को गिराने के बाद वापस लौट गए. हालांकि हथियारों की तस्करी के लिए एक ऐसी ही दूसरी घटना पर पाकिस्तान से आया ड्रोन वापस लौटने के लिए उड़ान नहीं भर सका. उस ड्रोन को आईएसआई हैंडलर की सूचना पर पाकिस्तान में बैठे खालिस्तान समर्थक के आदेश पर जला दिया गया था.

First Published : 04 Oct 2019, 08:41:16 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×