News Nation Logo

जबरदस्त कोहरा और हाड़ कंपाने वाली ठंड के साथ उत्तर भारत में हुआ नए साल का आगाज

राजधानी दिल्ली समेत उत्तर भारत में शीतलहर से कंपकंपाते हाथों और घने कोहरे के साथ नए साल की शुरुआत हुई है. पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी से मैदानी इलाकों में गलन भरी ठंड पड़ रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 01 Jan 2021, 09:17:39 AM
Delhi Weather

घने कोहरे और हाड़ कंपाने वाली ठंड के साथ उत्तर भारत में नए साल का आगाज (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

राजधानी दिल्ली समेत उत्तर भारत में शीतलहर से कंपकंपाते हाथों और घने कोहरे के साथ नए साल की शुरुआत हुई है. पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी से मैदानी इलाकों में गलन भरी ठंड पड़ रही है. बर्फबारी के कारण बर्फीली हवा चल रही है, इसके कारण फिजा में घुली गलन से ठिठुरन भरी सर्दी का एहसास हो रहा है. उत्तर भारत के अनेक इलाकों में जबर्दस्त शीतलहर चल रही है और कई क्षेत्र घने कोहरे की आगोश में हैं. उत्तर भारत के एक बड़े हिस्से में सुबह घना कोहरा छाया रहा और कई इलाकों में तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया. शीतलहर और गलन से लोग बेहाल हैं.

दिल्ली और आसपास के इलाकों में जबरदस्त ठंड

राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों में जबरदस्त ठंड पड़ रही है. शीतलहर की वजह से गलन और ठिठुरन बढ़ी हुई है. आज भी शीतलहर चल रही है. सर्दी के साथ साथ आज कोहरा भी कहर बरपा रहा है. दिल्ली में सुबह घना कोहरा छाए रहने से दृश्यता घटकर महज 50 मीटर रह गई है. विजिबिलिटी पॉवर कई इलाकों में 20 मीटर तक पहुंच गई. दिल्ली के राजधानी पार्क, राजघाट, डीएनडी फ्लाईओवर और मुंडका इलाके समेत कई जगहों पर सुबह घना कोहरा दिखाई दिया है.

दिल्ली में वायु प्रदूषण बेहद खराब स्थिति में

दिन के समय भी लोग अपनी गाड़ियों की लाइटें जलाकर सड़कों पर चल रहे हैं.  मौसम विभाग के मुताबिक, दिल्ली के सफदरजंग में आज रिकॉर्ड न्यूनतम तापमान 1.6 दर्ज किया गया है. इससे पहले गुरुवार को दिल्ली में न्यूनतम तापमान भी 3.3 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच चुका है, जो इस मौसम का सबसे कम तापमान था. वहीं सर्दी के साथ दिल्ली में प्रदूषण का स्तर भी बेहद खराब श्रेणी में बना हुआ है. सुबह दिल्ली में पीएम 2.5 332 तक पहुंच गया.

जम्मू कश्मीर में ठंड का प्रकोप बढ़ा

जम्मू कश्मीर में ठंड का प्रकोप बढ़ा हुआ है. घाटी में कई स्थानों पर न्यूनतम तापमान जमाव बिंदु से नीचे चला गया. जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में तापमान शून्य से 5.9 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया, जबकि बुधवार को यहां न्यूनतम तापमान शून्य से 2.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया था. काजीगुंड में शून्य से 6.2 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान रहा. उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में शून्य से 5.8 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज किया गया. कश्मीर में ‘चिल्लई कलां’ की अवधि चल रही है और 40 दिनों की इस अवधि में भीषण ठंड पड़ती है.

हिमाचल में भीषण सर्दी

हिमाचल प्रदेश में पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी हो रही तो निचले इलाकों में भीषण सर्दी है. कई स्थानों पर तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज कर दिया गया है. लाहौल-स्पीति जिले का प्रशासनिक केंद्र केलोंग प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 12.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. कालपा और किन्नौर में न्यूनतम तामपान शून्य से 3.8 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा. मौसम वैज्ञानिकों ने 3 से 6 जनवरी के बीच प्रदेश के मैदानी इलाकों में बारिश होने और ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी होने का पूर्वानुमान किया है.

हरियाणा-पंजाब में हाड़ कंपा देने वाली ठंड

हरियाणा में भी हाड़ कंपा देने वाली ठंड पड़ रही है. सुबह कई हिस्सों में घना कोहरा छाया रहा. कोहरे की वजह से विज़िबिलिटी काफी कम हुई है. हरियाणा के हिसार में मौसम की सबसे सर्द रात रही, जहां नयूनतम तापमान शून्य से 1.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जो सामान्य से आठ डिग्री से कम है. पंजाब में भी कुछ ऐसी ही ठंड है. कई इलाकों में सर्द हवाओं के साथ गलन भरी ठंड पड़ रही है. कुछ इलाकों में आज सुबह घना कोहरा छाया रहा, जिसके कारण विजिबिलिटी भी कम हुई है. पंजाब के बठिंडा में न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि अमृतसर में यह 1.6 और फरीदकोट में 1.2 डिग्री सेल्सियस रहा.

उत्तर प्रदेश के अनेक इलाके शीतलहर की चपेट में

उत्तर प्रदेश के अनेक इलाके जबर्दस्त शीतलहर की चपेट में हैं. मौसम केंद्र की रिपोर्ट के अनुसार इस अवधि में मेरठ मंडल में दिन के तापमान में खासी गिरावट दर्ज की गई. इसके अलावा आगरा, इलाहाबाद, बरेली तथा झांसी मंडलों में भी अधिकतम तापमान सामान्य से कम रहा. गुरुवार को नजीबाबाद राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां न्यूनतम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया.

राजस्थान में भी शीतलहर की परिस्थिति

राजस्थान में भी शीतलहर की परिस्थितियां हैं. राजस्थान में जयपुर सहित 11 शहरों का तापमान 5 डिग्री से नीचे रहा है. माउंट आबू में न्यूनतम तापमान माइनस 4.4 दर्ज किया गया है. फसलें पाले की चपेट में हैं. करौली के हिंडौन में 44 वर्षीय किसान की ठंड से मौत हो गई. मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 24 घंटे में जयपुर, अजमेर, झुंझुनूं, सीकर टोंक, कोटा, बूंदी, धौलपुर सहित कई जगह बारिश और ओलावृष्टि के आसार हैं. यह दौर 4 दिन तक चलने की संभावना है.

First Published : 01 Jan 2021, 09:17:39 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.