News Nation Logo
कश्मीर में हो रहीं हत्याएं दुखद, हम निंदा करते हैं: राजीव शुक्ला महंत नरेंद्र गिरि मौत मामले में कोर्ट ने तीनों आरोपियों की 12 दिन तक बढ़ाई न्यायिक हिरासत पीएम नरेंद्र मोदी 20 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन करेंगे घर में घुसकर गरीब लोगों की हत्या करना दुर्भाग्यपूर्ण है। आतंकियों की यह कायराना हरकत है: सुशील मोदी आतंकियों की मंशा लोगों में डर पैदा करने की है, जिससे लोग कश्मीर छोड़कर चले जाएं: सुशील मोदी उत्तराखंड: बद्रीनाथ धाम में शुरू हुआ सीजन का पहला हिमपात। धाम में पड़ रही कड़ाके की ठंड। राम रहीम को रंजीत सिंह हत्या मामले में उम्रकैद की सजा पंचकूला की CBI अदालत ने सजा का ऐलान किया अन्य 4 दोषियों पर 50-50 हजार रुपए का जुर्माना अदालत ने राम रहीम पर 31 लाख का जुर्माना भी लगाया लंबी लड़ाई के बाद पीड़ित परिवार को मिला इंसाफ डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम के साथ 5 लोगों को उम्र कैद पंजाब: जालंधर-फगवाड़ा हाईवे पर धनोवाली में एक तेज रफ़्तार गाड़ी ने 2 युवतियों को कुचला देश में अब तक कोविड वैक्सीन की 98 करोड़ डोज़ लगाई गई है: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया आंतरिक सुरक्षा पर राज्यों के IG और DGP के साथ आज अमित शाह की बैठक कश्मीर में एक और आतंकी साजिश का अलर्ट, सुरक्षा बढ़ाई गई दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने “रेड लाईट ऑन, गाड़ी ऑफ” अभियान की शुरुआत की पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की अध्यक्षता में चंडीगढ़ में कैबिनेट की बैठक हुई महाराष्ट्रः कल्याण की आधारवाड़ी जेल में 20 कैदी कोरोना पॉजिटिव आर्यन खान पर NCB का बड़ा बयान, आर्यन की काउंसिलिंग की गई आर्यन ने दोबारा गलती न करने की बात कही: NCB रिहाई के बाद गरीबों के लिए काम करेंगे आर्यन खान: NCB कांग्रेस सिर्फ एक परिवार की पार्टी है: संबित पात्रा कश्मीर पर कांग्रेस भ्रम फैला रही है: संबित पात्रा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चारधाम यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं से सावधानी बरतने की अपील की भाजपा कार्यालय में हो रही राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक का पहला चरण खत्म किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर मोदी नगर (उ.प्र.) में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोकी ISI Chief पर बीवी के टोटके पर अड़े इमरान, पाक सेना के जनरल ने लगाई लताड़ संयुक्त किसान मोर्चा के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर प्रदर्शनकारी बहादुरगढ़ में रेलवे ट्रैक पर बैठे दिल्ली में लगातार दूसरे दिन भी बारिश का दौर जारी. जगह-जगह जलभराव

खुशहाल जीवन जीने में सक्षम बनाना सबसे बड़ा मानवाधिकार है

खुशहाल जीवन जीने में सक्षम बनाना सबसे बड़ा मानवाधिकार है

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 27 Sep 2021, 09:05:01 PM
New from

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

बीजिंग: मानव अधिकार सभी मानव जाति की सामान्य खोज है और मानव विकास और प्रगति की सभ्य उपलब्धि है। मानवाधिकारों के लिए चीन का उत्कृष्ट योगदान इस बात पर जोर देना है कि जीवित रहने और विकास का अधिकार प्राथमिक मानवाधिकार हैं, और यह कि अपने लोगों को एक खुशहाल जीवन जीने में सक्षम बनाना सबसे बड़ा मानवाधिकार है।

देखा जाए तो नये चीन (चीन लोक गणराज्य) की स्थापना के बाद से पिछले 70 से अधिक वर्षों में, चीन ने मानवाधिकारों के लिए ऐतिहासिक प्रगति की है। इसने 85 करोड़ लोगों को गरीबी से छुटकारा पाने में मदद की, और दुनिया की सबसे बड़ी शिक्षा, सामाजिक सुरक्षा, चिकित्सा देखभाल और जमीनी लोकतंत्र प्रणाली की स्थापना की।

जबकि नये चीन की स्थापना से पहले, चीनी लोगों की औसत जीवन प्रत्याशा केवल 35 वर्ष थी। उस समय, निरक्षरता दर 80 प्रतिशत तक थी, और प्राथमिक विद्यालयों में वास्तविक नामांकन दर 20 प्रतिशत से कम थी। एक ऐसे राष्ट्र के लिए जो युद्धों, उत्पीड़न और गरीबी से पीड़ित था, लोगों के जीवित रहने के अधिकार की गारंटी देना बेहद कठिन था, अन्य बुनियादी अधिकारों के आनंद की तो बात ही छोड़िए।

25 फरवरी, 2021 को चीन ने पूरी दुनिया के सामने घोषणा की कि उसने गरीबी के खिलाफ लड़ाई में चौतरफा जीत हासिल कर ली है। वर्तमान मानक के तहत, 9.9 करोड़ ग्रामीण गरीब लोगों को गरीबी से बाहर निकाला गया है, क्षेत्रीय समग्र गरीबी को समाप्त किया गया है, और पूर्ण गरीबी को समाप्त करने का कठिन कार्य पूरा किया गया है।

ये उपलब्धियां भोजन के अधिकार, सुरक्षित पेयजल, आवश्यक चिकित्सा सेवाओं, गरीबों के लिए सुरक्षित आवास और गरीब क्षेत्रों में अनिवार्य शिक्षा के अधिकार को सुरक्षित करने में मदद करती हैं। चीनी लोगों की जीवन प्रत्याशा 77.3 वर्ष तक पहुंच गई है और गरीब देशों में अनिवार्य शिक्षा पूर्णता दर 94.8 प्रतिशत तक पहुंच गई है।

आज, चीन की भूमि पर युद्ध, भय और विस्थापन के बिना, लोग तेजी से शांतिपूर्ण और समृद्ध जीवन जी रहे हैं। प्यू सेंटर पोल के अनुसार, 2019 में चीन सरकार के साथ चीनी लोगों की संतुष्टि दर 86 प्रतिशत से अधिक है, जो न केवल दुनिया में सबसे अधिक है, बल्कि विश्व औसत 47 प्रतिशत से कहीं अधिक है। चीन की विकास प्रक्रिया काफी हद तक मानवाधिकार की अवधारणा को फिर से परिभाषित करती है, जिस पर लंबे समय से पश्चिमी शक्तियों का एकाधिकार रहा है।

12 अगस्त, 2021 को सभी मामलों में मध्यम समृद्धि: चीन के मानवाधिकारों में प्राप्त एक और मील का पत्थर शीर्षक एक श्वेत पत्र जारी किया गया, जो प्रस्ताव करता है कि चीन की उदार समृद्धि की प्राप्ति मानव अधिकारों के लिए एक ठोस आधार के रूप में कार्य करती है, और यह इस कारण पर एक गहरा और व्यापक परिप्रेक्ष्य लेता है। यह चीन में सार्वभौमिक मानवाधिकारों को सुनिश्चित करने में व्यापक प्रगति का प्रतिनिधित्व करता है, और दुनिया के मानवाधिकारों के लिए एक नया योगदान देता है।

(अखिल पाराशर, चाइना मीडिया ग्रुप, बीजिंग)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 27 Sep 2021, 09:05:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.