News Nation Logo
ओमिक्रॉन पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी 66 और 46 साल के दो मरीज आइसोलेशन में रखे गए भारत में ओमीक्रॉन वायरस की पुष्टि कर्नाटक में मिले ओमीक्रॉन के 2 मरीज सीएम योगी आदित्यनाथ ने प. यूपी को गुंडे-माफियाओं से मुक्त कराकर उसका सम्मान लौटाया है: अमित शाह जहां जातिवाद, वंशवाद और परिवारवाद हावी होगा, वहां विकास के लिए जगह नहीं होगी: योगी आदित्यनाथ पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में देश में चक्रवात से संबंधित स्थिति पर हुई समीक्षा बैठक प्रभावित देशों से आने वाले यात्रियों का एयरपोर्ट पर RT-PCR टेस्ट किया जा रहा है: सत्येंद्र जैन दिल्ली में पिछले कुछ महीनों से कोविड मामले और पॉजिटिविटी रेट काफी कम है: सत्येंद्र जैन आंदोलनकारी किसानों की मौत और बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर विपक्षी सांसदों ने राज्यसभा में नारेबाजी की दिल्ली में आज भी प्रदूषण का स्तर काफी खराब, AQI 342 पर पहुंचा बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बैठकर गाया राष्ट्रगान, मुंबई BJP के एक नेता ने दर्ज कराई FIR यूपी सरकार ने भी ओमीक्रॉन को लेकर कसी कमर, बस स्टेशन- रेलवे स्टेशन पर होगी RT-PCR जांच

चीनी एनिमेशन फिल्मों के विकास में वसंत

चीनी एनिमेशन फिल्मों के विकास में वसंत

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 26 Oct 2021, 11:55:01 PM
New from

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

बीजिंग: वर्ष 1892 के 28 अक्टूबर को फ्ऱांसीसी नागरिक एमिल रेनॉड ने विश्व में पहली एनिमेटेड फिल्म बनाई और उसे पेरिस के ग्रेविन संग्रहालय में खुले तौर पर जारी किया गया। इस महत्वपूर्ण दिन को याद करने के लिये विश्व एनिमेशन संघ ने हर साल के 28 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय एनिमेशन दिवस की स्थापना की है।

आज एनिमेशन फिल्म केवल बच्चों के लिये ही नहीं, बल्कि तमाम वयस्क भी इसका आनंद उठा सकते हैं। हालांकि अमेरिका व जापान जैसे देशों में एनिमेशन फिल्म का स्तर बहुत ऊंचा है। पर इस रिपोर्ट में हम भारत के पड़ोसी देश चीन में एनिमेशन फिल्म की चर्चा करना चाहते हैं। क्योंकि चीन में एनिमेशन फिल्म का बाजार बहुत विशाल है, और इसके विकास की निहित शक्ति भी बहुत बड़ी है।

चीन भारत की तरह पुरातन सभ्यता वाले देशों में से एक है। चीन के लंबे इतिहास में रंगारंग संस्कृति भी छिपी हुई है। इसलिये एनिमेशन फिल्म के विषय अंतहीन हैं।

वर्ष 2019 में चीन में एक लोकप्रिय एनीमेशन फिल्म सफेद सांप रिलीज हुई। यह फिल्म चीन की प्राचीन कल्पित कथा सफेद सांप की कहानी पर आधारित थी। इसके नाजुक व सुन्दर एनीमेशन प्रभावों ने अनगिनत चीनी युवाओं का दिल जीता। उसी साल इस फिल्म की कुल बॉक्स ऑफिस कमाई 44 करोड़ युआन पहुंची। 26 वर्षीय हान ल इस एनिमेशन फिल्म की निर्माता हैं। बचपन से ही उन्हें नत्सा की किंवदंती जैसी घरेलू एनीमेशन फिल्में देखना पसंद था। तब से ही उन्होंने बड़े होकर एनीमेशन के माध्यम से चीनी पारंपरिक कहानी सुनाने के बारे में सोचा।

हान ल ने कहा कि चार-पांच साल पहले चीन में एनीमेशन बाजार मंदी में था। उत्पादन तकनीक और विषय वस्तु जैसे दर्शकों को संतुष्ट करना कठिन था, खासकर प्रौढ़ दर्शकों की मांग पूरा करना अत्यंत मुश्किल था। इसकी चर्चा में हान ल ने कहा कि जब सफेद सांप की कहानी रिलीज होने के बाद पहले हफ्ते में इसकी बॉक्स ऑफिस कमाई बहुत कम थी। तो सभी लोग बहुत उदास हुए। हमें ऐसा लगा कि शायद यह फिल्म फ्लॉप होने वाली है। लेकिन दूसरे हफ्ते से इसका बॉक्स ऑफिस परिणाम बेहतर होने लगा। उस समय हम हर दिन ऑफिस में स्क्रीन पर इस फिल्म के बॉक्स ऑफिस की स्थिति को देखते थे। तब से हमें इस फिल्म को लेकर आशा पैदा हुई।

वास्तव में सफेद सांप की कहानी केवल हान ल द्वारा बनायी गयी कई एनीमेशन फिल्मों में से एक है। उस कंपनी, जिसमें हान ल काम करती हैं, ने चीन में बहुत लोकप्रिय एनीमेशन फिल्में बनायी हैं। वर्ष 2017 में हान ल ने विश्वविद्यालय से स्नातक होने के बाद राष्ट्रीय एनीमेशन फिल्मों के प्रति बड़े जोश के साथ इस कंपनी में भाग लिया। इस क्षेत्र में चार साल तक काम करने के बाद उन्होंने इसमें मौजूद मुश्किलों को अच्छी तरह समझा।

हान ल ने कहा कि एक एनीमेशन फिल्म बनाने के लिए संबंधित तैयारी, स्क्रिप्ट से लेकर निर्माण पूरा करने तक आम तौर पर चार साल लगते हैं। आम तौर पर एक फिल्म बनाने के बाद अगर उसे बाजार में अच्छी प्रतिक्रिया नहीं मिली, तो कुछ लोग इस क्षेत्र को छोड़ देते हैं। इस बारे में उन्होंने कहा मुझे लगता है कि एनीमेशन फिल्म निमार्ताओं के मन में एक शक्ति होती है। क्योंकि हमारी शिफ्ट नियमित नहीं होती। कभी-कभार रात भर काम करना पड़ता है। लेकिन सभी लोगों के मन में एक शक्ति होती है। और सभी लोग एक साथ कोशिश करते हैं। हमें आशा है कि हमारी फिल्में लोगों को पसंद आएंगी।

हान ल की टीम में लोगों की औसत आयु 30 वर्ष से कम है। वे सभी चीनी राष्ट्रीय एनीमेशन फिल्मों के मंदी से गुजरे हैं। लेकिन कुछ न कुछ लोग एनीमेशन के प्रति गहरे प्यार से इस कार्य में लगे हुए हैं। वे अपनी कोशिश से चीन की एनीमेशन फिल्म को शक्तिशाली बनाना चाहते हैं।

इस पीढ़ी वाले युवा एनीमेशन फिल्म निर्माताओं के सपने की चर्चा में हान ल ने कहा कि इस व्यवसाय में लोगों की गतिशीलता बहुत बड़ी है। अगर एक फिल्म बनाने के बाद अच्छी प्रतिक्रिया नहीं मिली, तो कुछ लोग इस पेशे को छोड़ देते हैं। लेकिन कुछ न कुछ लोग एनीमेशन फिल्म के गहरे प्यार से यह काम जारी रखते हैं। हमारी इच्छा यह है कि ज्यादा से ज्यादा लोग शक्तिशाली चीनी राष्ट्रीय एनीमेशन फिल्में देखें।

वर्तमान में हान ल और उनके साथियों द्वारा बनाई गई कई एनीमेशन फिल्में क्रमश: बाजार में प्रवेश कर चुकी हैं। कुछ को दर्शकों ने खूब पसंद किया। यह हान ल के लिए प्रेरणा की बात भी है। अच्छी घरेलू एनीमेशन फिल्में बनाना हान ल और उनके सहकर्मियों की समान अभिलाषा है।

(चंद्रिमा - चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 26 Oct 2021, 11:55:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.