News Nation Logo

जलवायु महत्वाकांक्षाओं, आर्थिक विकास को संतुलित करने में सक्षम चीन

जलवायु महत्वाकांक्षाओं, आर्थिक विकास को संतुलित करने में सक्षम चीन

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 26 Oct 2021, 11:15:01 PM
New from

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

बीजिंग: वर्ष 2060 तक कार्बन तटस्थता हासिल करने के अपने नेतृत्व के संकल्प के एक साल बाद, चीन ने ठोस कार्यों द्वारा अपने वचनों का सम्मान करने के लिए अपनी अडिग प्रतिबद्धता का प्रदर्शन किया है।

हालांकि, एक हरित विश्व के लिए प्रयासरत चीन से वैश्विक इतिहास में सबसे कम समय में कार्बन शिखर के माध्यम से कार्बन तटस्थता को हासिल करने की उम्मीद है। नवीनतम प्रमाण तब आया जब चीन ने रविवार को नव विकास दर्शन के तहत कार्बन शिखर और कार्बन तटस्थता लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए देश के कार्यों पर एक मार्गदर्शक दस्तावेज प्रकाशित किया, जिसमें आने वाले दशकों के लिए प्रमुख विशिष्ट लक्ष्य और उपाय बताए गए।

फिलहाल, दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अपनी जलवायु महत्वाकांक्षा और आर्थिक विकास को संतुलित करने की कोशिश कर रही है। कम कार्बन अर्थव्यवस्था के लिए चीन की राह पर एक बात स्पष्ट हो रही है कि शुद्ध शून्य उत्सर्जन की उसकी महत्वाकांक्षा तीव्र आर्थिक मंदी की कीमत पर नहीं आती है जैसा कि कुछ विदेशी मीडिया अनुमान लगाती हैं।

कार्बन उत्सर्जन को कम करने के लिए चीन के पास एक मजबूत आर्थिक प्रोत्साहन है, विशेष रूप से नई ऊर्जा और परिवहन क्षेत्रों में विकास और निवेश के माध्यम से, क्योंकि दुनिया एक साथ जलवायु खतरों का सामना कर रही है।

बेशक, चीनी अर्थव्यवस्था के कम कार्बन की तरफ जाने से नए रोजगार सृजित होंगे, प्रासंगिक तकनीकी नवाचार उन्नत होंगे, और घरेलू उद्यमों की प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा मिलेगा।

नव प्रकाशित मार्गदर्शक दस्तावेज के अनुसार, वर्ष 2060 तक चीन पूरी तरह से एक स्वच्छ, कम कार्बन, सुरक्षित और कुशल ऊर्जा प्रणाली स्थापित कर लेगा, जिसमें ऊर्जा दक्षता उन्नत अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पहुंच जाएगी।

संचयी स्थापित क्षमताओं के मामले में सौर, पवन और जल विद्युत उत्पादन में एक वैश्विक नेता के रूप में, चीन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी स्वच्छ ऊर्जा प्रौद्योगिकियों के लिए अच्छी तरह से पहचाना गया है। चीन का हरित परिवर्तन न केवल अपनी घरेलू कंपनियों को अग्रणी हरित प्रौद्योगिकियों से लैस करेगा बल्कि वैश्विक निवेशकों के लिए अवसर भी लाएगा।

आंकड़े बताते हैं कि चीन की कंपनियों ने वर्ष 2020 तक 416 अंतर्राष्ट्रीय जलविद्युत सहयोग परियोजनाओं में भाग लिया था, जिसमें उसी वर्ष 11 नए हस्ताक्षर किए गए थे। उस वर्ष, चीन की पवन टरबाइन इकाइयों को 1.1 अरब अमेरिकी डॉलर के व्यापार मात्रा के साथ 22 देशों को निर्यात किया गया था, जो 20 प्रतिशत से अधिक था।

चीन ने स्थापित क्षमता, सौर पैनल निर्माण और प्रौद्योगिकी निर्यात के मामले में सौर ऊर्जा उद्योग में एक मजबूत स्थिति स्थापित की है। इन तीन स्वच्छ ऊर्जा क्षेत्रों के नए आर्थिक विकास बिंदु बनने की उम्मीद है क्योंकि विश्व स्वच्छ और नवीकरणीय ऊर्जा के लिए संक्रमण करता है।

वाहन विद्युतीकरण चीन के आर्थिक विकास का एक और नया स्तंभ है क्योंकि यह कार्बन उत्सर्जन को कम करता है। चीन में नव ऊर्जा वाहन (एनईवी) की बिक्री साल दर साल 10.9 प्रतिशत बढ़कर 2020 में 13.7 लाख यूनिट हो गई, जो कि उनके उपयोग को प्रोत्साहित करने और पर्यावरण पर दबाव कम करने के सरकारी प्रयासों के बीच है। बाजार में हिस्सेदारी का दावा करने के लिए नए खिलाड़ी इस उद्योग में बढ़ते जा रहे हैं। एनईवी की बढ़ती लोकप्रियता बाद में देश भर में बैटरी चाजिर्ंग स्टेशनों और स्वैपिंग (अदला-बदली) स्टेशनों के निर्माण को बढ़ावा देती है।

स्वच्छ ऊर्जा की तलाश के अलावा, देश स्रोत पर उत्सर्जन में कटौती करने के लिए पुरानी उत्पादन सुविधाओं और उच्च ऊर्जा खपत वाले उद्यमों को भी दूर कर रहा है। इसका कुछ स्थानीय अर्थव्यवस्थाओं पर तत्काल प्रभाव पड़ सकता है, लेकिन औद्योगिक उन्नयन और डीकार्बोनाइजिंग चीन के आर्थिक विकास को गति प्रदान कर सकते हैं और इसे लंबी अवधि में स्वस्थ और अधिक टिकाऊ बना सकते हैं।

कार्बन शिखर और तटस्थता लक्ष्य चीन के लिए उच्च गुणवत्ता वाले विकास को आगे बढ़ाने का एक बड़ा अवसर प्रदान करते हैं। जलवायु कार्रवाई नीतियों को लागू करते समय चीन को आर्थिक विकास का त्याग करने की आवश्यकता नहीं है। इसके विपरीत, यह अपने हरित संक्रमण के दौरान आर्थिक और पर्यावरणीय दोनों लाभ प्राप्त कर सकता है।

(अखिल पाराशर, चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 26 Oct 2021, 11:15:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.