News Nation Logo

ब्रिक्स देशों को विश्व में सकारात्मक, स्थिर और रचनात्मक शक्ति का संचार करना चाहिए- शी चिनफिंग

ब्रिक्स देशों को विश्व में सकारात्मक, स्थिर और रचनात्मक शक्ति का संचार करना चाहिए- शी चिनफिंग

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 23 Jun 2022, 11:40:01 PM
New from

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

बीजिंग:   चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 23 जून को पेइचिंग में वीडियो माध्यम से 14वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन की मेजबानी की। उन्होंने भाषण देते हुए कहा कि मौजूदा शिखर सम्मेलन उस महत्वपूर्ण मोड़ पर है कि मानव समाज कहां जाएगा, इसमें यह तय होगा। महत्वपूर्ण उभरते बाजार देशों और विकासशील देशों के रूप में ब्रिक्स देशों को साहस के साथ जिम्मेदारी लेते हुए विश्व में सकारात्मक, स्थिर और रचनात्मक शक्ति का संचार करना चाहिए।

शी चिनफिंग ने कहा कि पिछले एक साल में कोरोना महामारी पूरी दुनिया में फैल रही थी, वैश्विक आर्थिक बहाली कठिन है, शांति और सुरक्षा का मुद्दा और भी प्रमुख हो गया है। गंभीर और जटिल स्थिति का सामना करते हुए हमने हमेशा खुलेपन, समावेश, सहयोग और उभय जीत की ब्रिक्स भावना का पालन किया, एकजुटता और सहयोग को मजबूत किया, और कठिनाइयों को दूर करने के लिए हाथ मिलाया। ब्रिक्स तंत्र ने लचीलापन और जीवन शक्ति दिखाई है, और ब्रिक्स सहयोग ने सकारात्मक प्रगति और परिणाम प्राप्त किए हैं।

शी चिनफिंग के प्रस्ताव :

पहला, हमें निष्पक्षता और न्याय की आवाज बोलनी चाहिए, वास्तविक बहुपक्षवाद का अभ्यास करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को बढ़ावा देना चाहिए, संयुक्त राष्ट्र के कोर वाली अंतर्राष्ट्रीय प्रणाली और अंतरराष्ट्रीय कानून पर आधारित अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था को बनाए रखना चाहिए, शीत युद्ध की विचारधारा और समूह टकराव का त्याग करना चाहिए, एकतरफा और प्रतिबंधों के दुरुपयोग का विरोध करना चाहिए, मानव जाति के साझा भाग्य वाले समुदाय के बड़े परिवार के साथ आधिपत्य वाले छोटे समूह को पार करना चाहिए।

दूसरा, हमें महामारी को हराने में अपने विश्वास को मजबूत करना चाहिए, लोगों और जीवन के लिए जिम्मेदार होने के ²ष्टिकोण में महामारी की रोकथाम और नियंत्रण के लिए ठोस बाधा का निर्माण करना चाहिए, अंतर्राष्ट्रीय महामारी विरोधी सहयोग को मजबूत करना चाहिए, और संयुक्त रूप से मानव जीवन और स्वास्थ्य की रक्षा करनी चाहिए।

तीसरा, हमें आर्थिक सुधार के तालमेल को एक साथ लाना चाहिए, मैक्रो नीति समन्वय को मजबूत करना चाहिए, औद्योगिक श्रृंखलाओं और आपूर्ति श्रृंखलाओं की सुरक्षा और निर्बाध सुनिश्चित करना चाहिए, खुली विश्व अर्थव्यवस्था का निर्माण करना चाहिए, विश्व विकास के सामने आने वाले प्रमुख जोखिमों और चुनौतियों को रोकना और हल करना चाहिए, ताकि अधिक समावेशी और लचीला आर्थिक विकास साकार हो सके।

चौथा, हमें सतत विकास को बढ़ावा देना चाहिए, जन-केंद्रित विकास विचारधारा का पालन करना चाहिए, गरीबी में कमी, भोजन, शिक्षा, और स्वास्थ्य आदि क्षेत्रों में निवेश बढ़ाना चाहिए, सतत विकास के लिए संयुक्त राष्ट्र 2030 एजेंडा के कार्यान्वयन को बढ़ावा देना चाहिए, ताकि ज्यादा मजबूत, हरित और स्वस्थ वैश्विक विकास साकार हो सके।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 23 Jun 2022, 11:40:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.