News Nation Logo

अमेरिकी सेना की जैविक प्रयोगशालाओं में आखिर क्या हो रहा है?

अमेरिकी सेना की जैविक प्रयोगशालाओं में आखिर क्या हो रहा है?

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 19 Oct 2021, 07:50:01 PM
new from

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

बीजिंग: विश्व भर में अमेरिकी सेना ने 200 से अधिक जैविक प्रयोगशालाएं स्थापित की हैं। उदाहरण के लिए कजाकस्तान में अमेरिकी सेना की सहायता वाले 6 जैविक केंद्र हैं। रूसी सैन्य व राजनीतिक विश्लेषण वेबसाइट की एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका की सहायता से वर्ष 2017 में अलमाटी प्रयोगशाला ने केजी-33 कार्यक्रम लागू किया। प्रयोगशाला के कर्मचारियों ने 200 चमगादड़ के मूल-नमूने एकत्र किये, जिनमें 12 किस्मों के कोरोना वायरस पाये गये।

अब कजाकस्तान के कई लोगों का विचार है कि कोविड-19 वायरस का स्रोत यह केजी-33 कार्यक्रम है ,जिसमें अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के ठेकेदार ने भाग लिया था। कजाकस्तान की जनता अमेरिकी जैविक प्रयोगशाला बंद करने की जबरदस्त मांग करती है ।

अमेरिकी सेना की प्रयोगशाला पर विभिन्न देशों की जनता की आशंका के प्रति अमेरिकी सरकार को जवाब देना है। क्योंकि यह समग्र मानव स्वास्थ्य से संबंधित है। विश्व को इसकी असलियत जानने का अधिकार है।

(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग )

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 19 Oct 2021, 07:50:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.