News Nation Logo
Banner

भाईचारे से चीन-लाओस भाग्य समुदाय का निर्माण

भाईचारे से चीन-लाओस भाग्य समुदाय का निर्माण

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 29 Apr 2022, 10:10:01 PM
new from

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

बीजिंग:   गत 60 के दशक में लाओस के तत्कालीन विदेश सचिव गिनिंग फोल्सेन के कुछ बच्चे चीन की राजधानी पेइचिंग में पढ़ाई करते थे और शी चिनफिंग के साथ दोस्त बने। नवंबर 2017 में लाओस की राजकीय यात्रा करते समय राष्ट्रपति शी चिनफिंग विशेष तौर पर पोसेर्ना के घर जाकर पुराने दोस्तों से मिले। यह न सिर्फ दोस्तों के बीच मित्रता है, बल्कि चीन-लाओस भाग्य समुदाय के निर्माण को भी बढ़ावा देता है।

लाओस के नेशनल असेंबली के उपाध्यक्ष सोम्मद फोल्सेन लाओस के पूर्व विदेश सचिव गिनिंग फोल्सेन के तीसरे बेटे हैं। उन्होंने कहा कि शी चिनफिंग हमारे अच्छे दोस्त हैं। लगता है वे महान नेता नहीं, बल्कि आम व्यक्ति हैं।

चीन और लाओस के सर्वोच्च नेताओं के प्रोत्साहन में चीन-लाओस मित्रता लगातार मजबूत हो रही है। दीर्घकालीन और स्थिर चीन-लाओस चतुर्मुखी रणनीतिक साझेदारी और भाग्य समुदाय के निर्माण में प्रगति हो रही है। इससे दोनों देशों के लोगों को ठोस लाभ मिला।

उदाहरण के लिए चीन-लाओस रेलवे पर यातायात 3 दिसंबर 2021 को औपचारिक रूप से शुरू हुआ। यह दोनों देशों की सरकारों और जनता के बीच सहयोग की उपलब्धि ही नहीं, बेल्ट एंड रोड प्रस्ताव का कार्यांवयन भी है। यह रेलवे लाओस के आर्थिक और सामाजिक विकास के लिए लाभदायक है। 3 अप्रैल 2022 तक इस रेलवे से 22 लाख 54 हजार लोगों और 13 लाख 10 हजार टन माल का परिवहन किया गया।

चीन हमेशा पड़ोसी देशों के साथ अच्छे पड़ोसियों जैसे मैत्रीपूर्ण संबंध और सहयोग पर कायम रहता है। लाओस के उप प्रधानमंत्री सोनेक्सय सिपांडोन ने कहा कि चीन के समर्थन से लाओस में समृद्धि, स्थिरता, सुरक्षा और व्यवस्था साकार रही। पक्का विश्वास है कि लाओस-चीन मित्रवत सहयोग संबंध अवश्य ही लगातार आगे बढ़ेंगे।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 29 Apr 2022, 10:10:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.