News Nation Logo

सरकार मणिपुर को भारत का खेल महाशक्ति बनाना चाहती है: पीएम

सरकार मणिपुर को भारत का खेल महाशक्ति बनाना चाहती है: पीएम

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 21 Jan 2022, 06:25:01 PM
New Delhi

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

इंफाल:   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि मणिपुर शांति और बंद और नाकाबंदी से आजादी का हकदार है। साथ ही सरकार राज्य को भारत का खेल महाशक्ति बनाने की अपनी प्रतिबद्धता पर कायम है।

50वें राज्य स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर शुक्रवार को अपने भाषण में प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार मणिपुर को देश का खेल महाशक्ति बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।

मोदी ने कहा कि राज्य के बेटे-बेटियों ने खेल के क्षेत्र में देश का नाम रोशन किया है और उनके जुनून और क्षमता को देखते हुए इंफाल में भारत का पहला खेल विश्वविद्यालय स्थापित किया गया है।

मोदी ने स्टार्टअप क्षेत्र में मणिपुर के युवाओं की सफलता पर भी प्रकाश डाला और स्थानीय हस्तशिल्प को बढ़ावा देने के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को रेखांकित किया।

प्रधानमंत्री ने पूर्वोत्तर को एक्ट ईस्ट पॉलिसी का केंद्र बनाने की ²ष्टि में मणिपुर की महत्वपूर्ण भूमिका पर जोर दिया।

उन्होंने कहा कि डबल इंजन सरकार के तहत मणिपुर को रेलवे कनेक्टिविटी जैसी अन्य सुविधाओं के साथ लंबे समय से प्रतीक्षित सुविधाएं मिल रही हैं।

उन्होंने कहा कि जिरीबाम-तुपुल-इम्फालरेलवे लाइन सहित राज्य में हजारों करोड़ रुपये की कनेक्टिविटी परियोजनाएं चल रही हैं।

मोदी ने कहा, इंफाल हवाई अड्डे को अंतरराष्ट्रीय दर्जा मिलने के साथ, दिल्ली, कोलकाता और बेंगलुरु के साथ पूर्वोत्तर राज्यों की कनेक्टिविटी में सुधार हुआ है। मणिपुर को भारत-म्यांमार-थाईलैंड त्रि-पाश्र्व राजमार्ग और क्षेत्र में आने वाली प्राकृतिक गैस पाइपलाइन से भी फायदा होगा।

50वें राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर मणिपुर के लोगों को बधाई देते हुए प्रधानमंत्री ने इस गौरवशाली यात्रा में योगदान देने वाले प्रत्येक व्यक्ति के बलिदान और प्रयासों को श्रद्धांजलि दी।

उन्होंने उतार-चढ़ाव का सामना करते हुए मणिपुरी लोगों के लचीलेपन और एकता को उनकी असली ताकत बताया।

मोदी ने राज्य के लोगों की अपेक्षाओं और आकांक्षाओं का प्रत्यक्ष लेखा-जोखा प्राप्त करने के अपने निरंतर प्रयासों को भी दोहराया, जिससे उन्हें उनकी भावनाओं और अपेक्षाओं को बेहतर ढंग से समझने और उनके सामने आने वाली समस्याओं से निपटने के तरीके खोजने में मदद मिली।

उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त की कि मणिपुरी लोग शांति की अपनी सबसे बड़ी इच्छा पूरी कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्य की विकास यात्रा में आने वाली बाधाओं को दूर कर दिया गया है और अगले 25 वर्ष मणिपुर के विकास के लिए अमृत काल हैं।

मणिपुर के साथ दो अन्य पूर्वोत्तर राज्यों - त्रिपुरा और मेघालय - ने शुक्रवार को विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से अपना 50 वां स्थापना दिवस मनाया।

--अईाएएनएस

एचके/आरजेएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 21 Jan 2022, 06:25:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.