News Nation Logo

सिंगापुर जाने की अनुमति न मिलने पर केजरीवाल बोले, मैं कोई अपराधी नहीं, चुना हुआ मुख्यमंत्री हूं

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 18 Jul 2022, 10:40:01 PM
New Delhi

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली:   केंद्र से वल्र्ड सिटी सम्मेलन में सिंगापुर जाने की अनुमति नहीं मिलने पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं कोई अपराधी तो हूं नहीं, एक चुना हुआ मुख्यमंत्री हूं। मुझे सिंगापुर जाने से क्यों रोका जा रहा है, यह मेरी समझ के बाहर है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने देश के अगले राष्ट्रपति के लिए हो रहे चुनाव को लेकर सोमवार को दिल्ली विधानसभा में वोट डाला और कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि देश को सही और अच्छे राष्ट्रपति मिलेंगे।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर सिंगापुर में होने जा रहे वल्र्ड सिटी सम्मेलन में जाने की अनुमति मांगी है। सीएम अरविदं केजरीवाल ने कहा कि जाहिर तौर पर राजनीति हो रही है। इसके अलावा वैधानिक तौर पर तो और कोई कारण नजर नहीं आ रहा है। ऐसा तो है नहीं कि कोर्ट ने मेरे जाने पर रोक लगा रखी है। मैंने कोई अपराध कर रखा है। किसी तरह की कोई रोक नहीं है। एक आम नागरिक भी तो देश से बाहर जाने के लिए स्वतंत्र है। तो फिर चुना हुआ मुख्यमंत्री क्यों नहीं जा सकता है। जब से मैं मुख्यमंत्री बना हूं, तब से विदेश का एक-दो दौरा ही किया है। जब देश की बात होती है, देश का नाम रौशन होने जा रहा है, देश की तरक्की की बात हो रही है। तब मुझे लगता है कि हमें अपने पार्टीबाजी वाली राजनीति छोड़कर एकजुट होकर देश की तरक्की की बात करनी चाहिए।

इस बीच मुख्यमंत्री केजरीवाल के साथ सभी मंत्रियों और विधायकों ने देश के अगले राष्ट्रपति को चुनने के लिए हो रहे चुनाव में दिल्ली विधानसभा में मतदान किया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपना वोट डालने के उपरांत कहा कि देश के अगले नए राष्ट्रपति को चुनने का चुनाव है। सभी मतदाता एमपी और विधायक वोट डाल रहे हैं। मैंने अपना वोट डाला है। मैं उम्मीद करता हूं कि देश को सही और अच्छा राष्ट्रपति मिलेगा।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा खाने-पीने की वस्तुओं जीएसटी लगाना बहुत ही दुख की बात है। एक तरफ, पूरा देश महंगाई से जूझ रहा है। पूरे देश के अंदर बहुत ज्यादा महंगाई हो गई है। दूसरी तरफ केंद्र सरकार ने खाने-पीने की वस्तुओं पर टैक्स लगाकर उसको और महंगा कर दिया है। मैं केंद्र सरकार से मांग करूंगा कि यह जो खाने-पीने की वस्तुओं पर जीएसटी लगाया गया है, इसको वापस लिया जाए।

सीएम ने कहा आज देश में अकेला दिल्ली राज्य ऐसा है, जहां आम नागरिक को हम लोग महंगाई से थोड़ी राहत दे रहे हैं। उनके बच्चों की शिक्षा फ्री और अच्छी कर रखी है। सभी लोगों का इलाज मुफ्त और अच्छा होता है। सबकी बिजली मुफ्त कर दी है। सबका पानी मुफ्त कर रखा है। महिलाओं का बसों में सफर मुफ्त कर रखा है। दिल्ली में योग मुफ्त सिखा रहे हैं और तीर्थ यात्रा मुफ्त करा रहे हैं। इन सारी चीजों को जोड़ कर देखें तो हर परिवार को हर महीने कम से कम 10 से 15 हजार रुपए फायदा है। इतनी महंगाई के जमाने में दिल्ली सरकार ही है, जो अपनी जनता को महंगाई से थोड़ी सी राहत दे रही है। मैं केंद्र सरकार से निवेदन करूंगा कि खाने-पीने पर जीएसटी लगाना सही नहीं है। इसको वापस लिया जाए।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 18 Jul 2022, 10:40:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.