News Nation Logo
Banner

अर्चना गौतम के बचाव में उतरीं प्रियंका, कहा, पीएम मोदी से क्यों नहीं पूछे जाते सवाल!

अर्चना गौतम के बचाव में उतरीं प्रियंका, कहा, पीएम मोदी से क्यों नहीं पूछे जाते सवाल!

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 19 Jan 2022, 12:40:01 AM
New Delhi

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली:   कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने मंगलवार को उत्तरप्रदेश में हस्तिनापुर सीट से कांग्रेस की उम्मीदवार अर्चना गौतम पर हुए विवाद और कीचड़ उछालने वाले मामले में कहा कि सिर्फ महिलाओं से ही क्यों शादी से जड़े सवाल पूछे जाते हैं ? पीएम नरेंद्र मोदी से ऐसे सवाल क्यों नहीं पूछे जाते?

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मंगलवार को जनता से वर्चुअली संवाद किया। इस दौरान उन्होंने उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर उन्नाव रेप पीड़िता के परिवार पर अत्याचार करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा बलात्कार पीड़िता की मां को चुनाव लड़ने का मौका मिलना चाहिए। उन्होंने एक सवाल का जवाब में आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश की योगी सरकार महिला विरोधी है। जहां-जहां भी संघर्ष करने वाली महिलाएं चुनाव लड़ रही हैं। उन्हें मदद मिलनी चाहिए।

कांग्रेस की यूपी चुनाव प्रभारी ने वर्चुअली संवाद करते हुए उत्तरप्रदेश के हस्तिनापुर सीट से कांग्रेस की उम्मीदवार अर्चना गौतम पर हुए विवाद और कीचड़ उछालने वाले मामले में प्रियंका गांधी ने पलटवार करते हुए कहा, पीएम नरेंद्र मोदी से ऐसे सवाल क्यों नहीं पूछे जाते? सिर्फ महिलाओं को ही क्यों शादी से जुड़ी बातों और कपड़ों के पहनावे को लेकर निशाने पर लिया जाता है।

उन्होंने कहा कि बीजेपी अर्चना गौतम को हल्का उम्मीदवार करार देना चाहती है। सिर्फ इसलिए उन पर इस तरह से कीचड़ उछाला जा रहा है जबकि उनकी जगह कोई पुरुष होता और चाहे किसी भी पार्टी का होता तो उससे कोई यह सवाल नहीं पूछता। अर्चना गौतम बहुत संघर्ष करके इस जगह पहुंची हैं कि लोग उन्हें पहचान पा रहे हैं इसलिय वह मजबूत हैं।

गौरतलब है कि एक्टर और मॉडल रह चुकी अर्चना गौतम को कांग्रेस ने मेरठ की हस्तिनापुर सीट से टिकट दी है। उनके नाम की घोषणा के बाद से ही अर्चना की तंग कपड़ों और बिकनी पहने तस्वीरें सोशल मीडिया पर सामने आने लगी हैं।

इसके साथ ही अपने आधे घण्टे के संवाद में प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर बेरोजगारी और शिक्षा के बजट में कटौती करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में रोजगार एवं शिक्षा ही असली एजेंडे हैं जिन पर युवाओं को डटे रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में रोजगार एवं शिक्षा ही असली एजेंडे हैं जिन पर युवाओं को डटे रहना चाहिए।

अपने संवाद के दौरान प्रियंका ने एक सवाल के जवाब में बताया कि बचपन में उनकी, भाई राहुल गांधी के साथ बहुत लड़ाई होती थी। यहां तक कि पिता राजीव गांधी को भी कई बार दखल देना पड़ता था। 18 साल की उम्र तक पूरी पढ़ाई घर पर रह कर ही की इसलिए दोनों भाई-बहन ने एक साथ बहुत वक्त बिताया है। उन्होंने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि उनके घर में भयानक लोकतंत्र है। हर किसी को सुनने के बाद ही कोई फैसला होता रहा है।

वहीं, प्रियंका ने कहा कि इतनी व्यस्ता के बावजूद वह आज भी अपने बच्चों को होमवर्क कराने में मदद करती हैं। कई बार दिन में चुनाव प्रचार और पार्टी की बैठकें और रात में बच्चों का होमवर्क व असाइनमेंट करती हैं।

इस बीच आस्था नाम की एक महिला के सवाल का जवाब देते हुए प्रियंका ने कहा कि बलात्कार पीड़िता के परिवार से मिलने जाने के वक्त एक समय हम गेस्ट हाउस से निकले तो पुलिस ने घेर रखा था। हमने सवाल पूछा तो कोई जवाब नहीं मिला। थोड़ा विरोध करके जब हम निकले तो टोल को ब्लॉक कर दिया गया। हमारे एक साथी जो गाड़ी चला रहे थे, उन्होंने वहां से गाड़ी निकाल ली। पीछे-पीछे पुलिस आ रही थी। हमने कच्चे रास्ते से गांव जाने का फैसला किया। फिर हमने खेत में गाड़ी उतारते हुए यह फैसला किया कि गाड़ी का इंजन और लाइट बंद कर दी जाए। हमने ऐसा ही किया और पुलिस वाले निकल गए। प्रियंका गांधी ने कहा, उस समय मुझे लड़की हूं, लड़ सकती हूं वाले पल का अहसास हुआ था।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 19 Jan 2022, 12:40:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.