News Nation Logo

झारखंड के बूढ़ा पहाड़ और बिहार से नक्सली आउट, जानें क्या बोले अमित शाह  

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 21 Sep 2022, 07:15:59 PM
Naxal free

झारखंड के बूढ़ा पहाड़ और बिहार से नक्सली आउट (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

सीआरपीएफ के डीजी कुलदीप सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि झारखंड में पहली बार बूढ़ा पहाड़ को नक्सल मुक्त करा दिया गया है. वहां पर भारतीय सुरक्षाबलों के लिए स्थायी कैंप लगाया गया है. अब हेलीकॉप्टर लैंडिंग भी संभव हो पाई है. ये कार्य तीन अलग-अलग बड़े ऑपरेशनों के तहत किया गया है. उन्होंने कहा कि अप्रैल 2022 से अब तक ऑपरेशन थंडरस्टॉर्म के तहत छत्तीसगढ़, झारखंड और मध्य प्रदेश में कुल 14 माओवादियों को मार गिराया गया है, जबकि 578 नक्सलियों ने भी आत्मसमर्पण किया है. 

यह भी पढ़ें : AAP MLA अमानतुल्लाह खान को बड़ा झटका, कोर्ट ने ACB की रिमांड बढ़ाई

डीजी कुलदीप सिंह ने बताया कि हम कह सकते हैं कि अब बिहार नक्सल मुक्त है. रंगदारी गिरोह के रूप में इनकी मौजूदगी हो सकती है, लेकिन बिहार में ऐसी कोई जगह नहीं है, जहां नक्सलियों का दबदबा हो. बिहार और झारखंड में ऐसी कोई जगह नहीं जहां सेना नहीं पहुंच सकती है. उन्होंने आगे कहा कि वामपंथी उग्रवाद (LWE) की घटनाओं में काफी कमी आई है. 77 प्रतिशत की कमी आई है. 2009 में यह 2258 के सर्वकालिक उच्च स्तर पर था, जो वर्तमान में घटकर 509 हो गया है. मृत्यु दर में भी 85 फीसदी की कमी आई है. 

इस पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए हैं. उन्होंने अपने पहले ट्वीट में लिखा है कि शीर्ष माओवादियों के गढ़ में महीनों तक चले इन अभियानों में सुरक्षा बलों को अप्रत्याशित सफलता प्राप्त हुई, जिसमें 14 माओवादियों को मार गिराया गया एवं 590 से अधिक की गिरफ्तारी/आत्मसमर्पण हुआ, जिसमें लाखों-करोड़ों के ईनामी माओवादी जैसे मिथिलेश महतो जिसपर 1 करोड़ रुपये का इनाम था पकड़े गए हैं.

अमित शाह ने दूसरे ट्वीट में लिखा है कि पहली बार बूढा पहाड़, चक्रबंधा व भीमबांध के दुर्गम क्षेत्रों से माओवादियों को सफलतापूर्वक निकालकर सुरक्षाबलों के स्थायी कैंप स्थापित किए गए हैं. पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आतंकवाद व LWE के विरुद्ध गृह मंत्रालय की जीरो टॉलेरेंस की नीति जारी रहेगी और ये लड़ाई आगे और तेज होगी.

यह भी पढ़ें : वक्फ बोर्ड के फैसले पर भड़कीं महबूबा मुफ्ती तो BJP ने किया स्वागत

गृह मंत्री ने तीसरे ट्वीट में लिखा है कि देश की आंतरिक सुरक्षा में एक ऐतिहासिक पड़ाव पार हुआ है. पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देशभर में वामपंथी उग्रवाद के विरुद्ध चल रही निर्णायक लड़ाई में सुरक्षाबलों ने अभूतपूर्व सफलता प्राप्त की है. इसके लिए सीआरपीएफ सुरक्षा एजेंसियों और राज्य पुलिसबलों को बधाई देता हूं. 

First Published : 21 Sep 2022, 07:13:52 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.