News Nation Logo

Modi Cabinet : मोदी कैबिनेट में कई मंत्रियों को प्रमोशन तो कई नए चेहरे हुए शामिल Live

नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल को 2 साल पूरे होने के बाद पहली बार मंत्रिमंडल का विस्तार होगा. केंद्रीय कैबिनेट का विस्तार शाम करीब 6 बजे होगा. मोदी कैबिनेट से 13 मंत्रियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है, जबकि 43 मंत्री शामिल होंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 07 Jul 2021, 07:42:26 PM
PM Modi

Modi Cabinet (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल को 2 साल पूरे होने के बाद पहली बार मंत्रिमंडल का विस्तार होगा. केंद्रीय कैबिनेट का विस्तार शाम करीब 6 बजे होगा. मोदी कैबिनेट से 13 मंत्रियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है, जबकि 43 मंत्री शामिल होंगे. राष्ट्रपति भवन में नेताओं को मंत्री पद की शपथ दिलाई जाएगी. स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, बाबुल सुप्रियो समेत ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. रविशंकर प्रसाद और प्रकाश जावेडकर ने इस्तीफा दे दिया है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संभावित मंत्रियों से मुलाकात की है. 

LIVE TV NN

NS

NS

निशीथ प्रमाणिक ने शपथ ग्रहण की. बंगाल में बीजेपी को मजबूत करने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. बंगाल की कूच बिहार सीट से लोकसभा सांसद हैं. 

एल मुरुगन ने राज्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की. तमिलनाडु से ताल्लुक रखते हैं. तमिलनाडु बीजेपी के अध्यक्ष रहे हैं. मद्रास हाई कोर्ट में वकील रह चुके हैं. 

जॉन बारला ने शपथ ग्रहण की. बंगाल के अलीपुरद्वार से लोकसभा सांसद हैं. 

डॉ. मुंजापारा महेंद्रभाई ने शपथ ग्रहण की. गुजरात के सुरेंद्रनगर से लोकसभा सांसद हैं. 

शांतनु ठाकुर ने भी शपथ ग्रहण की. पश्चिम बंगाल की बनगांव सीट से लोकसभा सांसद हैं. 2019 में पहली बार सांसद बने हैं. 

बिशेश्वर टूडू ने भी राज्यसभा पद की शपथ ली. ओडिशा के मयूरभंज से लोकसभा सांसद हैं. वे 2019 में पहली बार सांसद बने. ओडिशा के कटक इलाके से आते हैं.

डॉ. भारती प्रवीन पवार ने शपथ ग्रहण की,. महाराष्ट्र की डिंडोरी सीट से लोकसभा सांसद हैं. एनसीपी को छोड़कर बीजेपी में शामिल हुई हैं. 

डॉ. राजकुमार रंजन सिंह ने राज्यसभा पद की शपथ ली. मणिपुर से 2019 में पहली बार सांसद बने हैं. उन्होंने कोरोना महामारी के समय लोगों की मदद की. 

डॉ. भगवत कराड ने शपथ ग्रहण की. महाराष्ट्र से पहली बार राज्यसभा सांसद बने. औरंगाबाद नगर निगम के पूर्व मेयर रह चुके हैं.

डॉ. सुभाष सरकार ने शपथ ग्रहण की. पश्चिम बंगाल के बांकुरा से सांसद हैं. 2019 में पहली बार सांसद बने हैं. वे पेशे से डॉक्टर हैं. 

प्रतिमा भौमिक ने राज्यसभा पद की शपथ ग्रहण की. वह त्रिपुरा वेस्ट लोकसभा सीट से सांसद हैं. वह 2019 में पहली बार सांसद बनीं. 

कपिल पाटिल ने राज्यसभा पद की शपथ ग्रहण की. वे महाराष्ट्र की भिवंडी से दूसरी बार सांसद बने हैं. वे 2014 में पहली बार सांसद बने थे. 

भगवंत खूबा ने शपथ ग्रहण की. कर्नाटक की बीदर सीट से लोकसभा सांसद हैं. 

देवूसिंह चौहान ने राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली. गुजरात से आते हैं और खेड़ा से दूसरी बार सांसद हैं. इससे पहले दो बार विधायक भी रहे हैं. ये इंजीनियर हैं. 

अजय कुमार ने राज्यसभा पद की शपथ ली. यूपी की खेरी सीट से लोकसभा सांसद हैं. वे 30 साल से सार्वजनिक सेना में जुटे हैं. वे लगातार दूसरी बार सांसद बने हैं.  

बीएल वर्मा ने शपथ ग्रहण की. 2020 में बीजेपी ने उन्हें राज्य़सभा भेजा. 

अजय भट्ट ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली. वे 2019 में नैनीताल सीट से चुनाव जीते हैं. उत्तराखंड में बीजेपी के अध्यक्ष रह चुके हैं. 

कौशल किशोर ने शपथ ग्रहण की. वे यूपी के मोहनलालगंज से सांसद हैं. दलित समुदाय में उनकी अच्छी पकड़ है. वे यूपी में राज्यसभा मंत्री भी रह चुके हैं.

ए नारायणस्वामी ने राज्यसभा मंत्री की शपथ ग्रहण की. 2010-2013 तक कर्नाटक में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं. 

अन्नपूर्णा देवी ने शपथ ग्रहण की. वे झारखंड के कोडरमा से लोकसभा सांसद हैं. बिहार और झारखंड में चार बार विधायक भी रह चुकी हैं. साथ ही वे झारखंड सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रह चुकी है. 

मीनाक्षी लेखी ने राज्यसभा पद की शपथ ग्रहण की. 2010 से उनका राजनीतिक सफर शुरू हुआ था. 

दर्शना विक्रम जर्दोश ने राज्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की. वे गुजरात के सूरत से लोकसभा सांसद हैं. वह 4 दशक से सार्वजनिक सेवा में जुटी हैं.

भानु प्रताप सिंह वर्मा ने राज्यमंत्री पद पर शपथ ग्रहण की. 5 बार लोकसभा सांसद हैं. 1996 में पहली बार सांसद बने थे. 

शोभा करंदलाजे ने भी शपथ ली. वे कर्नाटक के चिकड़ू चिकनमंगूल से सांसद हैं.

राजीव चंद्रशेखर ने भी शपथ ग्रहण की. वे कर्नाटक से राज्यसभा सांसद हैं. वे लगातार तीसरी बार राज्यसभा सांसद बने हैं. 

प्रो. एसपी सिंह बघेल ने राज्यमंत्री पद पर शपथ ग्रहण की है. वे यूपी के आगरा से लोकसभा सांसद हैं

अनुप्रिया पटेल को राज्यमंत्री पद की दिलाई गई शपथ. अनुप्रिया पटेल पिछड़ा वर्ग से आती है. 2016 में मोदी कैबिनेट में मंत्री बनी थीं. वे यूपी के मिर्जापुर से लोकसभा सांसद हैं.

पंकज चौधरी ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली है. 

राज्यमंत्री से अनुराग ठाकुर को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है.  

जी किशन रेड्डी ने कैबिनेट पद पर शपथ ली. वे आंध्र प्रदेश में युवा मोर्चा के अध्यक्ष रह चुके हैं

पुरुषोत्तम रूपाला ने शपथ ग्रहण की. वे गुजरात सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे. 

भूपेन्द्र यादव ने शपथ ग्रहण की. वे राजस्थान से राज्यसभा सांसद हैं.

मनसुख मांडविया ने शपथ ली. वे अब तक मोदी कैबिनेट 2.0 में राज्यमंत्री थे. वे गुजरात से राज्यसभा सांसद हैं. वे पीएम मोदी और अमित शाह के सबसे भरोसेमंद हैं. 

हरदीप सिंह पुरी ने भी शपथ ग्रहण की. उन्हें मंत्री पद पर प्रमोशन दिया गया है. उनके पास अबतक मोदी 2.0 में अब तक राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार था.


आरके सिंह (राजकुमार सिंह) ने भी कैबिनेट पद की शपथ ली. 2019 लोकसभा चुनाव में आरा सीट से दोबारा सांसद बने हैं.


नार्थ ईस्ट से बीजेपी के बड़े चेहरे किरण रिजिजू ने मंत्री पद की शपथ ली


एलजेपी के अध्यक्ष और चिराग पासवान के चाचा पशुपति पारस ने कैबिनेट पद की शपथ ली


पूर्व पीएम अटल के पूर्व सिक्रेटरी अश्विनी वैष्णव ने भी मंत्री पद की शपथ ली 


जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने भी ली शपथ

ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई गई.


नारायण राणे ने मंत्री पद की शपथ ली. सर्वानंद सोनोवाल ने भी कैबिनेट पद की शपथ ली


 

इस दौरान 7 मंत्रियों को प्रमोशन और 36 नए मंत्रियों को शपथ दिलाई जा रही है. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी राष्ट्रपति भवन पहुंच चुके हैं. 

राष्ट्रपति भवन में शपथ ग्रहण करने के लिए सभी नेता एकत्रित हो गए हैं. 

First Published : 07 Jul 2021, 05:49:40 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो