News Nation Logo

भारतीय छात्रों को क्यों भा रहा अमेरिका, जानें साइंस टेक्नॉलॉजी और एजुकेशन संबंधी 10 प्रमुख बातें

भारतीय छात्रों के लिए अमेरिका अब भी सबसे पसंदीदा डेस्टिनेशन है. हालांकि वीजा और इमीग्रेशन पॉलिसी के कारण इसमें अब कुछ कमी आई है.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 23 Feb 2020, 12:21:41 PM
भारतीय छात्रों को भा रहा अमेरिका

भारतीय छात्रों को भा रहा अमेरिका (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

नई दिल्ली:

1. भारतीय छात्रों के लिए अमेरिका (America) अब भी सबसे पसंदीदा डेस्टिनेशन है. हालांकि वीजा और इमीग्रेशन पॉलिसी के कारण इसमें अब कुछ कमी आई है. 2017-18 में जहां अमेरिका में 1.96 लाख स्टूडेंट थे, वहीं 2018-19 में यह संख्या 2.9 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 2.02 लाख हो गई है. 

2. अमेरिका के विदेश विभाग द्वारा जारी किए गए वीजा संख्या के मुताबिक, अमेरिका में पढ़ाई की इच्छा रखने वाले या इसके लिए अमेरिकी सरकार से अनुमति पाने वाले छात्रों की संख्या में थोड़ी कमी आई है.

3. अमेरिका के वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, 2018 के दौरान अमेरिकी अर्थव्यवस्था में विदेशी छात्रों का योगदान 44.7 बिलियन डॉलर का रहा था . यह पिछले साल से

5. 5 फीसदी ज्यादा रहा. 2018-19 में कुल 10,95,299 छात्रों ने अमेरिका की अलग-अलग यूनिवर्सिटी में एडमिशन लिया.

यह भी पढ़ें- चंडीगढ़: Girls PG में लगी भीषण आग, 3 लड़कियों की जलकर मौत, एक गंभीर रूप से घायल

4· वीजा पाने वाले भारतीय छात्रों की संख्या अमेरिका में इंटरनेशनल स्टूडेंट्स में काफी ज्यादा होती है, लेकिन जहां 2015 में यह संख्या 74,831 थी, वहीं 2018 में यह 42,694 रह गई है. यह जानकारी अमेरिका के विदेश विभाग ने दी है. अंतराष्ट्रीय स्तर पर भी छात्रों को वीजा देने के मामले में काफी कमी आई है.

5· अमेरिका में अंडरग्रैजुएट करने वाले 24,813 भारतीय, ग्रैजुएट करने वाले 90333, करीब 84630 ऑप्शनल प्रैक्टिकल ट्रेनिंग कर रहे हैं और 2238 गैर डिग्री कोर्स कर रहे हैं. मैनेजमेंट डिग्री हासिल करने की जगह अब स्टूडेंट्स मैथ्स और स्टैटिस्टिक्स को तवज्जो दे रहे हैं, ताकि डेटा एनालेसिस और आर्टिफिशल इंटेलिजेंस की जॉब ली जा सके.

6· कोर्स के तौर पर बात करें तो भारतीय छात्र सबसे ज्यादा मैथ्स और कम्प्यूटर साइंस को तवज्जो दे रहे हैं. यह संख्या करीब 37 प्रतिशत है. वहीं हर बार सबसे आगे रहने वाली इंजीनियरिंग 34 प्रतिशत के साथ दूसरे नंबर पर है. यह आंकड़ा इंस्टिट्यूट ऑफ इंटरनेशनल ऐजुकेश का है. अंडरग्रैजुएट स्टूडेंट की संख्या में 6.3 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है, वहीं ग्रेजुएट करने वाले 5.6 प्रतिशत कम हुए हैं.

7· साउथ एशियन अमेरिकन लीडिंग टुगेदर (SAALT) नाम के एडवोकेसी ग्रुप ने हालिया डेमोग्राफिक रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका में भारतीय मूल के लोगों की आबादी 2010 से 2017 के बीच 38 पर्सेंट बढ़ी है. 2017 में तमाम एथिनिसिटी के इंडियन-अमेरिकन लोगों की आबादी 44,02,363 हो गई थी, जो 2010 में 38.3 पर्सेंट कम 31,83,063 थी.

यह भी पढ़ें- ट्रंप के सुरक्षा दस्ते में शामिल भरोसेमंद 'फुटबॉल' और 'बिस्कुट' की खुफिया सच्चाई, जानें पूरा मामला

8· अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) में काम करने वालों में 36 प्रतिशत भारतीय हैं.

9· इसी तरह अमेरिका में कार्यरत डाक्टरों में से 38 प्रतिशत और वैज्ञानिकों में 12 प्रतिशत भारतीय हैं.

10· राष्ट्रीय अमेरिका भारत वाणिज्य मंडल के अनुसार कम्प्यूटर क्रांति लाने वाली कपंनी माइक्रोसाफ्ट के 34 प्रतिशत कर्मी भारतीय हैं. इसी तरह आईबीएम के 28 प्रतिशत और इंटेल के 17 प्रतिशत कर्मी भारतीय हैं.

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 22 Feb 2020, 07:36:22 PM