News Nation Logo
दिल्ली के राजीव गांधी अस्पताल में फ्री डायलिसिस बंद पीपीपी मॉडल का है डायलिसिस सेंटर पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से की मुलाकात 12 देशों के मुसाफिरों के लिए गाइडलाइन्स जारी ओमीक्रोन पर DDMA की हाईलेवल मीटिंग अगले आदेश तक दिल्ली में निर्माणकार्य पर रोक निर्माण से जुड़े मजदूरों को सरकारी मदद दी जाएगी दिल्ली में पब्लिक ट्रांसपोर्ट बढ़ाया जाएगा ओमीक्रोन से निपटने के लिए हम पूरी तरह तैयार: मनीष सिसोदिया संसद के दोनों सदनों से कृषि कानून वापसी बिल पास कृषि कानूनों की वापसी का बिल पारित होना जान गंवाने वाले किसानों को श्रद्धांजलि है: राकेश टिकैत एमएसपी समेत अन्य मुद्दे लंबित रहने के कारण विरोध जारी रहेगा: राकेश टिकैत हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल पास दक्षिण अफ्रीका से महाराष्ट्र लौटा शख्स कोरोना पॉजिटिव आम आदमी पार्टी नहीं होगी विपक्षी दलों की बैठक में शामिल

मुंबई के कमला मिल्स परिसर में हुक्के की चिंगारी ने ली थी 14 लोगों की जान, फायर ब्रिग्रेड की जांच में खुलासा

कमला मिल्स में लगी भीषण आग पर मुंबई फायर ब्रिगेड की जांच में ये बात सामने आई है कि कमला मिल्स परिसर के पब में लगी आग की वजह हुक्का से उठी चिंगारी है।

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 06 Jan 2018, 11:40:49 AM
कमला मिल्स में लगी आग (फोटो- एएनआई)

नई दिल्ली:

मुंबई के कमला मिल्स में लगी भयानक आग के कारणों का खुलासा हो गया है। मुंबई फायर ब्रिगेड की जांच में यह बात सामने आई है कि कमला मिल्स परिसर के पब में लगी आग की वजह हुक्का से उठी चिंगारी थी।

बता दें कि मुंबई में हुक्का पार्लर अवैध हैं और जिस वक्त यह हादसा हुआ उस वक्त मोजो बिस्त्रो रेस्टोरेंट में हुक्का को सर्व किए जाने के लिए तैयार किया जा रहा था। जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि इस रेस्टोरेंट के पास शराब सर्व करने का लाइसेंस भी नहीं था लेकिन फिर भी सभी नियम को ताक पर रखकर यहां ग्राहकों को शराब परोसी जा रही थी।

मुंबई फायर ब्रिगेड की रिपोर्ट के मुताबिक हुक्का की चिंगारी से आग पहले मोजो रेस्टोरेंट में लगी जिसके बाद वो फैलते -फैलते वन एबॉव पब तक जा पहुंची। इस दर्दनाक हादसे में 14 लोगों की जान चली गई थी। वहीं पुलिस ने बताया कि ज्यादातर पीड़ित की मौत टॉयलेट में फंसे और दम घुटने से हुई थी। दोनों पबों में अवैध रूप से निर्माण के साथ-साथ नियमों का उल्लंघन किया जा रहा था। 

और पढ़ें: मुंबई कमला मिल्स में लगी आग मामले में दर्ज FIR, लुकआउट नोटिस भी जारी हुआ

इस हादसे के चश्मदीदों से पता चला है कि मोजो में हुक्के से लगी आग बड़ी तेजी से ऊपर चल रहे एबॉव पब में जा पहुंची। क्योंकि हुक्का की चिंगारी से निकली आग वहां लगे पर्दे और सजावट के सामान में जा लगी जिससे भीषण आग लग गई। वहां अवैध शेड, बंबू लकड़ी का भी दोनों रेस्टोरेंट में इस्तेमाल किया गया था। छत पर बड़ी मात्रा में एल्कोहल, प्लाईवुड, कपड़े वगैरह स्टोर के साथ ही सिलेंडर भी रखे गए थे। बताया जा रहा है कि बिल्डिंग का फायर फाइटिंग सिस्टम भी काम नहीं कर रहा था।

रिपोर्ट के अनुसार पब के स्टाफ इस बात से अनजान थे कि वहां पर कोई एमरजेंसी एग्जिट भी मौजूद है। दोनों रेस्टोरेंट में बड़ी मात्रा में ऐसे सजावटी मटेरियल मिले है जिनके इस्तेमाल पर भारी मात्रा में कार्बन डाई ऑक्साइड और कार्बन मोनो ऑक्साइड गैसें निकलती हैं।

आग और धुएं से बचने के लिए काफी लोग टॉयलेट में घुस गए, लेकिन फायर ब्रिगेड के पहुंचने से पहले आग टॉयलेट पहुंच गई और 14 लोगों की धुएं से दम घुटकर मौत हो गई।

मुंबई पुलिस ने कमला मिल्स आग्निकांड के आरोपियों की सूचना देने वाले को एक लाख रुपये का इनाम देने ऐलान किया है। इस घटना के बाद से पब मालिक कृपेश सांघवी, जिगर सांघवी और अभिषेक फरार चल रहे हैं।

एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस की टीमें इन तीनों का पता लगाने का प्रयास कर रही हैं और एक लुकआउट नोटिस भी जारी किया गया है।

महाराष्ट्र क्षेत्रीय नगर नियोजन अधिनियम(एमआरटीपी) के अंतर्गत बृहन्मुंबई नगर निगम(बीएमसी) की शिकायत के आधार पर, पुलिस ने कमला मिल्स के मालिक रमेश गोवानी और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है, जो अभी पकड़ से दूर हैं। 

रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि दोनों ही पब्स ने नियमों का उल्लंघन किया। मुंबई पुलिस अब और भी आरोपियों को लिस्ट में जोड़ रही है। 

इस घटना के बाद बीएमसी ने अभियान चलाकर 314 स्थानों पर अवैध इमारतों को गिरा दिया था और सात होटलों को सील कर दिया था। 

और पढ़ें: आधार के जरिए 80,000 'फर्जी' शिक्षकों का चला पता, मानव संसाधन मंत्री जावडे़कर का दावा

First Published : 06 Jan 2018, 08:28:27 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.