News Nation Logo

मुंबई भाजपा ने शाह से कहा, जिन्ना हाउस को सांस्कृतिक केंद्र में बदलें

मुंबई भाजपा ने शाह से कहा, जिन्ना हाउस को सांस्कृतिक केंद्र में बदलें

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 21 Jul 2021, 08:15:01 PM
Mumbai A

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

मुंबई: भारतीय जनता पार्टी की मुंबई इकाई ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुंबई के ऐतिहासिक जिन्ना हाउस को साउथ एशिया सेंटर फॉर आर्ट्स एंड कल्चर (एसएसीएसी) में बदलने का आग्रह किया है।

नगर भाजपा अध्यक्ष एम.पी. लोढ़ा ने नई दिल्ली में शाह से मुलाकात की और 1947 में पाकिस्तान के बंटवारे के बाद पाकिस्तान में बसने का विकल्प चुनने वाले लोगों की 9,280 खाली संपत्तियों की नीलामी करने की केंद्र की योजना के तहत मांग पर एक ज्ञापन सौंपा।

लोढ़ा ने कहा, मैंने अमित शाह जी से मुलाकात की और उनसे जिन्ना हाउस को सैक में बदलने का अनुरोध किया, जैसा कि 2017 में तय किया गया था और इसके लिए वहां एक बोर्ड लगाया गया है।

केंद्र ने कुछ साल पहले जिन्ना हाउस को भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) को सौंप दिया था।

मालाबार हिल पर स्थित ऐतिहासिक जिन्ना हाउस, कभी बैरिस्टर-सह-राजनेता मोहम्मद अली जिन्ना का मुंबई वाला घर था। जिन्ना ने भारत के विभाजन के बाद पाकिस्तान की स्थापना की थी। वह अपने मुल्क के पहले गवर्नर-जनरल बने। पड़ोसी देश में यह दिवंगत नेता कायद-ए-आजम के रूप में प्रतिष्ठित हैं।

ऐतिहासिक रिकॉर्ड के अनुसार, भारत छोड़ने के बाद जिन्ना चाहते थे कि उनका पूर्ववर्ती घर एक छोटे यूरोपीय परिवार या किसी परिष्कृत भारतीय राजकुमार को 3,000 रुपये प्रति माह के अनुमानित किराए पर दे दिया जाए।

उन्होंने तत्कालीन बॉम्बे प्रांत के गवर्नर श्री प्रकाश को अपनी इच्छाओं से अवगत कराया था। प्रकाश ने प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को बताया था कि पाकिस्तानी नेता विभाजन के बाद अपनी पूर्व संपत्ति का क्या करना चाहते थे।

हालांकि, आजादी के बाद जिन्ना हाउस पर इवैक्यूई प्रॉपटी की मुहर लगा दी गई थी और 1955-1982 के बीच ब्रिटिश उप उच्चायुक्त को पट्टे पर दे दिया गया था।

तब से, जिन्ना हाउस खाली पड़ा है और पिछले चार दशकों से एक नए अधिभोगी की प्रतीक्षा कर रहा है।

संयोग से, जब पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ 2001 में आगरा शिखर सम्मेलन के लिए भारत आए थे, तो उन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को इसे मुंबई में पाकिस्तान के वाणिज्य दूतावास के रूप में उपयोग करने के लिए सौंपने का प्रस्ताव रखा था, लेकिन इस दिशा में कुछ भी नहीं हुआ।

1936 में 2.50 एकड़ के बड़े हिस्से में बने जिन्ना हाउस पर अंतिम निर्णय के लिए लोढ़ा कई वर्षो से केंद्र के समक्ष मामला उठा रहे हैं। नई दिल्ली के एपीजे अब्दुल कलाम रोड स्थित जिन्ना का पूर्व घर एक विदेशी दूतावास को पट्टे पर दिया गया है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 21 Jul 2021, 08:15:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो