News Nation Logo

मोदी सरकार के मंत्री का दावा, ऑटो रिक्शा के किराए से भी सस्ती हो गई है हवाई यात्रा, जानें कैसे

मोदी सरकार में केंद्रीय नागर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा का दावा है कि देश में हवाई यात्रा करना ऑटो रिक्शा से भी सस्ता हो गया है।

News Nation Bureau | Edited By : Saketanand Gyan | Updated on: 04 Sep 2018, 09:55:45 AM
केंद्रीय नागर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा (फाइल फोटो)

केंद्रीय नागर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

मोदी सरकार में केंद्रीय नागर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा का दावा है कि देश में हवाई यात्रा करना ऑटो रिक्शा के किराए से भी सस्ती हो गई है। सोमवार को गोरखपुर एयरपोर्ट के नए टर्मिनल के उद्घाटन मौके पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश में नागर विमानन के क्षेत्र में क्रांति देखी जा रही है। उन्होंने कहा कि साल 2013 में हवाई यात्रा करने वाले घरेलू यात्रियों की संख्या 6 करोड़ थी जो 2018 में 12 करोड़ हो गई है।

जयंत सिन्हा ने कहा, 'आज हवाई किराया ऑटो रिक्शा के भाड़े से भी कम है। आप पूछेंगे कि यह कैसे? जब दो लोगो ऑटो रिक्शा लेते हैं तो वे 10 रुपये चुकाते हैं जिसका मतलब है कि वे 5 रुपये प्रति किलोमीटर पैसे देते हैं लेकिन जब आप हवाई यात्रा करते हैं तो आपको 4 रुपये प्रति किलोमीटर देना होता है।'

जयंत सिन्हा ने दावा किया कि दुनिया की तुलना में भारत का विमानन क्षेत्र 20 फीसदी ज्यादा रफ्तार से बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि हवाई चप्पल पहन कर हवाई सफर करने के पीएम मोदी का सपना पूरा हो रहा है। सिन्हा ने कहा कि वे गोरखपुर एयरपोर्ट को भी दिल्ली, मुंबई और कोलकाता एयरपोर्ट के जैसा बनाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार विमानन क्षेत्र के विकास के लिए लगातार नई नीतियां बना रही है।

कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज गोरखपुर वासी 3000 रुपये में दिल्ली की यात्रा कर सकते हैं। यह सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के प्रयास से संभव हो पाया है। बता दें कि देश में उड़ान योजना के तहत छोटे शहरों को हवाई मार्ग से जोड़ा जा रहा है। रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम (RCS) के जरिये उत्तर प्रदेश के कई और शहरों से हवाई यात्रा शुरू की जाएगी।

हालांकि केंद्र सरकार की सरकार की महत्वकांक्षी योजना 'सब उड़े सब जुड़े' विशेषज्ञों की कमी की वजह से समस्याओं का भी सामना कर रही है। जिसके कारण निर्माण कार्य कई जगहों पर धीमा चल रहा है।

बिहार में दरभंगा एयरपोर्ट का निर्माण पिछले कई दिनों से रुका हुआ है। केंद्र सरकार का कहना है कि एयरपोर्ट के लिए रनवे निर्माण क्षेत्र में विशेषज्ञों की कमी इसकी बड़ी वजह है। ऐसे में सरकार अपने वादे के अनुरूप अगले साल जनवरी से दरभंगा एयरपोर्ट का परिचालन शुरू कर पाने में असमर्थ दिख रही है।

और पढ़ें : पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार 8वें दिन भी वृद्धि का दौर जारी, जानिए आज का रेट

इसी साल जयंत सिन्हा की ओर से मंत्रालय ने 10 जुलाई को ट्वीट कर कहा था कि, 'बिहटा में पटना के दूसरे एयरपोर्ट, दरभंगा और गया में नए टर्मिनल की स्थिति का निरीक्षण किया। शहर के आस-पास के इंफ्रास्ट्रक्चर की जरूरतों का देखा गया। आशा है कि जनवरी 2019 तक दरभंगा एयरपोर्ट शुरू हो जाएगा और गया के लिए अधिक फ्लाइट्स जोड़ी जाएगी।'

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 04 Sep 2018, 09:14:23 AM