News Nation Logo

अमेरिकी में मंकीपॉक्स के मामले जल्द ही अन्य देशों को पछाड़ देंगे : रिपोर्ट

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 27 Jul 2022, 07:50:01 PM
MonkeypoxIANS Infographic

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

वाशिंगटन:   अमेरिका में कुछ ही दिनों में दुनिया में सबसे अधिक मंकीपॉक्स के मामले देखने को मिल सकते हैं। एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई है।

यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के आंकड़ों के अनुसार, देश ने मंगलवार तक केवल स्पेन के बाद 3,596 पुष्ट संक्रमणों के साथ वायरस के 3,487 मामलों का पता लगाया।

डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, जनसंख्या के हिसाब से, जिसमें अमेरिका में सात गुना अधिक लोग हैं, अमेरिका में प्रति 100,000 लोगों पर लगभग एक मामला है, जबकि स्पेन में प्रति 100,000 लोगों की संख्या पर सात है। इसकी संक्रमण दर यूके और जर्मनी (दोनों प्रति 100,000 पर तीन) सहित कई अन्य यूरोपीय देशों से भी कम है।

इसके अलावा, परीक्षण में वृद्धि, धीमी शुरुआत के बाद भी अधिक मामलों का पता लगाने की संभावना है।

हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के एक महामारी विज्ञानी डॉ बिल हैनेज ने कहा, यह सुझाव देना उचित है कि अमेरिका के मामलों की संख्या अन्य देशों में बाहर हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि वृद्धि परीक्षण में वृद्धि के हिस्से में थी, जो उन क्षेत्रों में मंकीपॉक्स का पता लगा रहा था जहां यह पहले रडार के नीचे फैल गया था।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार न्यूयॉर्क शहर में वर्तमान में 1,040 पुष्ट संक्रमणों का सबसे बड़ा प्रकोप है। सीडीसी ने कहा कि राज्य में वर्तमान में 990 संक्रमण हैं। इसके बाद कैलिफोर्निया, में 356 और इलिनोइस में 341 मामले हैं।

विशेषज्ञों को डर है कि यह बीमारी पहले से ही अधिक कमजोर समूहों जैसे आठ साल से कम उम्र के बच्चों में फैल चुकी है। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि गंभीर बीमारी का खतरा अधिक है। सीडीसी ने कहा कि दो बच्चों (कैलिफोर्निया में) ने अब तक मंकीपॉक्स के लिए पॉजिटिच परीक्षण किया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि कड़े मार्गदर्शन के लिए इसे जल्दी बंद करने के बाद परीक्षण को भी तेज कर दिया गया है, जिस पर नमूनों का परीक्षण किया जा सकता है, जिससे वायरस के प्रकोप के एक दिन पहले सिर्फ 23 स्वैब की जाँच की जा सकती है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 27 Jul 2022, 07:50:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.